साप्ताहिक करेंट अफेयर्स- 24 फरवरी से 1 मार्च, 2020

1786
current affairs in Hindi

को-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड इंडिगो ने किया लांच

  • इंडिगो, जो कि भारत की प्रमुख एयरलाइन कंपनियों में से एक है, एचडीएफसी और मास्टर कार्ड की मदद से उसकी ओर से का-चिंग नाम का अपना पहला को-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड जारी किया गया है। बेसिक के साथ प्रीमियम संस्करण में कार्ड को उपलब्ध कराया गया है। इस कार्ड से हवाई अड्डों पर चेक-इन में प्राथमिकता, लाउंज के इस्तेमाल, ईंधन शुल्क में छूट और रियायती दर पर सुविधाएं जैसे लाभ कार्डधारक उठा पाएंगे।
  • यात्री व फ्लीट साइज के आधार पर इंडिगो भारत की सबसे बड़ी एयरलाइन है, जिसका मुख्यालय गुरुग्राम में स्थित है। वहीं, मास्टर कार्ड एक अमेरिका की इंटरनेशनल फाइनेंस कंपनी है, जिसका मुख्यालय अमेरिका के न्यूयॉर्क में है। भारतीय मूल के अजयपाल सिंह बंगा वर्तमान में मास्टर कार्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और अध्यक्ष हैं।

भारतीय तटरक्षक बल में शामिल हुआ ICGS वरद

  • अपतटीय गश्ती पोत आईसीजीएस वरद को लार्सन एंड टर्बो नामक शिप निर्माण कंपनी की ओर से बीते दिनों देश के हवाले कर दिया गया है। भारतीय तटरक्षक बल में इस पोत को L&T कट्टुपल्ली शिपयार्ड में हाल ही में कमीशन किया गया, जो कि चेन्नई के नजदीक स्थित है। केवल एक बार में ICGS वरद हर तरह की समुद्री स्वीकृति परीक्षणों पर खरा उतर कर इन्हें पार करने वाला पहला प्रमुख रक्षा पोत भी बन गया है।
  • भारतीय समुद्री सीमाओं की रक्षा की जिम्मेवारी भारतीय तटरक्षक बल संभालता है, जिसकी स्थापना वर्ष 1978 में 18 अगस्त को की गई थी। नई दिल्ली में इसका मुख्यालय स्थित है, जिसका आदर्श वाक्य “वयम् रक्षामः” है। वर्तमान में 15 हजार 714 कर्मचारी भारतीय तटरक्षक बल का हिस्सा है और 175 वेसल के साथ 44 एयरक्राफ्ट भारतीय तटरक्षक बल में मौजूद हैं।

देश की पहली कमर्शियल LNG बस केरल में उतरी सड़कों पर

  • पेट्रोनट की ओर से विकसित की गई देश की पहली कमर्शियल लिक्विफाइड कॉम्प्रिस्ड नेचुरल गैस (LNG) बस को केरल के कोच्चि में हाल ही में लांच कर दिया गया है। इसकी खूबी ये है कि एक बार ईंधन भरे जाने के बाद यह 900 किमी तक की यात्रा करने में सक्षम है। देशभर में 28 एलएनजी वितरण केंद्र के साथ केरल में चार एनएनजी स्टेशन शुरू करने की पेट्रोनट की योजना है।
  • डीजल के मुकाबले एलएनजी न केवल पर्यावरण के हिसाब से फायदेमंद है, बल्कि इसकी लागत भी अधिक नहीं है। क्रायोजेनिक टैंक इस बस में 180 किलोग्राम का लगाया है। CNG से तुलना करें तो इसका मूल्य प्रति किलोग्राम 57 रुपये पड़ता है, जबकि LNG का मूलय प्रति किलोग्राम 40 से 45 रुपये ही पड़ता है।

डिजिटल लेन-देन में देशभर में सबसे आगे बेंगलुरु

  • वर्ष 2019 में गार्डन और आईटी सिटी के नाम से मशहूर कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु डिजिटल लेनदेन के मामले में ऑनलाइन पेमेंट प्रोसेसर वर्ल्डलाइन इंडिया की ओर से हाल ही में जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक पहले स्थान पर रहा है। इस रिपोर्ट में बंगलुरु के बाद दूसरे स्थान पर चेन्नई, तीसरे स्थान पर मुंबई, जबकि चौथे स्थान पर पुणे रहा है। यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस यानी कि UPI को भुगतान का सबसे अधिक पसंद किये जाने वाला तरीका इस रिपोर्ट में बताया गया है।
  • वर्ष 2016 में नोटबंदी किये जाने से पूर्व यूपीआई को जारी किया गया था, जिसके जरिये बिना बैंक का विवरण भरे ही अपने खाते से किसी भी खाते में पैसे भेजे जा सकते हैं। ईमेल आईडी और क्यूआर कोड का इस्तेमाल यूपीआई में भुगतान के लिए किया जाता है। डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ही यूपीआई को शुरू किया गया था।

10 हजार किसान उत्पादक संगठनों को प्रधानमंत्री मोदी ने किया लांच

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चित्रकूट में 10 हजार किसान उत्पादक संगठनों को इस उद्देश्य से लांच किया गया है कि किसानों की बाजार के साथ नवीन तकनीकों और वित्तीय सुविधाओं तक पहुंच आसानी से हो सके। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के सफलतापूर्वक क्रियान्वयन के उपलक्ष्य में चित्रकूट में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने किसानों की आय को 2022 तक दोगुना करने के लक्ष्य को हासिल करने के उद्देश्य से लांच किया।
  • किसान सम्मान निधि योजना को जो किसान लाभ उठा रहे हैं, उनके लिए पीएम मोदी ने किसान क्रेडिट कार्ड संतृप्ति अभियान शुरू करने की भी घोषणा की है, जिसके तहत दो करोड़ कार्ड लाभार्थियों को वितरित किये जाएंगे। अब तक साढ़े 6 करोड़ से भी अधिक कार्ड वितरित हो चुके हैं।

मराठी को ‘शास्त्रीय भाषा’ का दर्जा दिये जाने के प्रस्ताव को महाराष्ट्र ने किया पारित

  • तमिल, तेलुगू, संस्कृत, कन्नड़, मलायम और उड़िया ऐसी छः भाषाएं है, जिन्हें भारत में अब तक शास्त्रीय भाषा का दर्जा प्राप्त है। अब सर्वसम्मति से महाराष्ट्र की विधानपालिका के दोनों सदनों द्वारा प्रस्ताव पारित करके केंद्र सरकार से मराठी को भी ‘शास्त्रीय भाषा’ का दर्जा प्रदान किये जाने का आग्रह किया गया है। जिन भाषाओं को शास्त्रीय भाषा का दर्जा मिल जाता है, उनके लिए अध्ययन केंद्रों की स्थापना किये जाने के साथ अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार भी उनके विद्वानों के लिए प्रदान किये जाते हैं।
  • भारत में मुख्य रूप से महाराष्ट्र में बोली जाने वाली मराठी को एक भारतीय आर्य भाषा माना गया है, जिसे बोलने वालों की संख्या करीब 83 मिलियन है और जो दुनिया में 10वीं सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा भी है। केवल महाराष्ट्र ही नहीं, बल्कि गोवा, दादरा व नगर हवेली एवं दमन व दीव ने भी मराठी को अपनी आधिकारिक भाषा घोषित कर रखा है।

दुनिया के दूसरे सबसे युवा अरबपति बने ओयो के संस्थापक रितेश अग्रवाल

  • महज 26 वर्ष की उम्र में 1.1 बिलियन डॉलर की आंकी गई संपत्ति के साथ हुरुन ग्लोबल रिच लिस्ट 2020, जो कि हाल ही में जारी की गई है, के मुताबिक ओयो रूम्स की शुरुआत करने वाले रितेश अग्रवाल दुनिया के दूसरे सबसे कम उम्र के अरबपति बन गये हैं। इस सूची में 22 वर्ष के काइली जेनर रितेश से आगे हैं। सूची में रितेश जीरोधा, फ्लिपकार्ट और बायजूज के संस्थापकों से आगे हैं।
  • ओडिशा में वर्ष 1993 में 16 नवंबर को जन्म लेने वाले रितेश अग्रवाल आयो रूम्स के संस्थापक के साथ इसके CEO भी हैं, जिन्होंने सैंट जॉन्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल से पढ़ाई की थी और कॉलेज की पढ़ाई के लिए वर्ष 2011 में दिल्ली चले गये थे। बीच में ही उन्होंने पढ़ाई को छोड़ दिया और एक सफल भारतीय उद्यमी के तौर पर अपनी पहचान बना ली। उनका चयन पीटर थिएल फेलोशिप के लिए भी वर्ष 2013 में हुआ था।

कोरोना वायरस की वजह से भारत ने लिया साइप्रस में होने वाले शूटिंग वर्ल्ड कप से हटने का फैसला

  • साइप्रस की राजधानी निकोसिया में 4 से 13 मार्च तक आयोजित होने जा रहे अंतरराष्ट्रीय निशानेबाजी महासंघ (ISSF) से मान्यता प्राप्त शॉटगन विश्व कप से हटने का निर्णय भारत ने कोरोना वायरस (COVID-19) के खतरे की वजह से ले लिया है। सरकार की सलाह पर भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ के अनुसार यह फैसला लिया गया है।
  • भारत के अलावा सात अन्य देशों तुर्कमेनिस्तान, हांगकांग, बहरीन, चीन, मकाऊ, ताइवान और उत्तरी कोरिया ने इससे अपना नाम वापस ले लिया है। सी-फूड से जुड़ा कोरोना वायरस अब तक 40 से भी अधिक देशों में अपने पांव पसार चुका है और चीन में इसकी वजह से 2700 से भी अधिक लोगों को अब तक अपनी जान गंवानी पड़ी है।
Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.