UPSC Civil Services Prelims 2020: कामयाबी के लिए ऐसी हो तैयारी आपकी

3253
UPSC Prelims 2020 Tips

लाखों स्टूडेंट्स देशभर में सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। इन सभी को इंतजार है सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा 2020 का। जो अभ्यर्थी आईएएस, आईपीएस और आईएफएस अधिकारी बनने का सपना देख रहे हैं, उनके लिए प्रारंभिक परीक्षा अपने सपने को साकार करने की दिशा में कदम बढ़ाने की पहली सीढ़ी है। संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की ओर से सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 की नई तारीख की घोषणा किए जाने का अभ्यर्थियों को बेसब्री से इंतजार है। सबसे पहले तो बताया गया था कि UPSC Civil Services Prelims 2020 का  आयोजन 31 मई, 2020 को होगा, मगर कोरोना वायरस की वजह से देशभर में लगाए गए लॉकडाउन की वजह से इसे स्थगित करते हुए यूपीएससी की ओर से कहा गया था कि नई तारीख की घोषणा हालात की समीक्षा करने के बाद 20 मई, 2020 को की जाएगी। UPSC की ओर से अपनी वेबसाइट (https://www.upsc.gov.in/) पर एक प्रेस विज्ञप्ति के जरिए घोषणा की गई है कि सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 की नई तारीख की घोषणा अब 5 जून को होगी।

तीन चरणों की है चयन प्रक्रिया

जो अभ्यर्थी UPSC Civil Services Prelims में सफल हो जाते हैं, उन्हें इसके बाद में Mains की परीक्षा देनी होती है, जो कि लिखित परीक्षा होती है और जिसमें वर्णनात्मक उत्तर देने पड़ते हैं। मेंस में सफल अभ्यर्थियों को Interview के लिए बुलाया जाता है और इंटरव्यू में प्राप्त अंकों के आधार पर अंतिम रैंकिंग तैयार की जाती है। जिन अभ्यर्थियों का चयन अंतिम रूप से होता है, उन्हें पहले प्रशिक्षण दिया जाता है और इसके बाद उनकी नियुक्ति हो जाती है। इसमें कोई शक नहीं कि देश की सबसे कठिन परीक्षाओं में से यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा एक है। IAS, IPS और IFS सहित देश में 24 प्रमुख सेवाओं में सिविल सेवा परीक्षा में प्राप्त रैंकिंग के आधार पर अभ्यर्थियों की नियुक्ति होती है।

कैसे करें सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी?

How to prepare for UPSC Civil Services Exam – यह एक बड़ा ही महत्वपूर्ण सवाल है, जो कि अक्सर यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थी पूछा करते हैं। इस लेख में मैं आपको यह बताने जा रहा हूं कि किस तरीके से आपको सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए कि आपकी सफलता के अवसर बढ़ जाएं।

योजनाबद्ध तरीके से करें तैयारी

दोस्तों, आप जब सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो जाहिर सी बात है कि घर में तैयारी करने के दौरान आप कोई बाहरी मार्गदर्शन प्राप्त नहीं कर रहे हैं। ऐसे में यह बहुत जरूरी बन जाता है कि एक अध्ययन योजना आपने तैयार कर ली हो। सबसे बड़ी बात है कि घर में कोई आपको देखने वाला नहीं है। ऐसे में यह बहुत जरूरी है कि आपने जो पढ़ाई के लिए अपनी योजना तैयार की है, उसके मुताबिक पढ़ाई करने के प्रति आप एकदम वफादार बनें। उदाहरण के लिए मैं भी जब तैयारी करता हूं तो कई तरह की चीजें जैसे कि मोबाइल, टीवी या घरवालों की गपशप मेरा ध्यान खींचने की कोशिश करते हैं, लेकिन मुझे मालूम है कि मुझे क्या चाहिए। इसी तरह से खुद के प्रति ईमानदार बनकर ही सिविल सेवा परीक्षा में सफलता पाई जा सकती है।

कैसे करें CSAT की तैयारी?

सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा जब आप दे रहे हैं तो जीएस पेपर के अतिरिक्त सीसैट में भी आपका सफल होना जरूरी होता है। ऐसे में यह बहुत जरूरी है कि विज्ञान और गणित के साथ तार्किक क्षमता की आधारभूत समझ आप जरूर विकसित कर लें। सीसैट के पिछले वर्षों के प्रश्नपत्रों को आपको हल करके अभ्यास कर लेना चाहिए। जीएस पेपर 1 में चाहे आपने कितने भी अंक क्यों न पा लिये हों, लेकिन सीसैट को भी पास किए बिना आगे की परीक्षा आप नहीं दे पाएंगे। यही वजह है कि जीएस की तैयारी करने के साथ ही हर दिन कम-से-कम एक घंटा मैं जरूर सीसैट की भी प्रैक्टिस करता हूं।

आंकड़ों और तथ्यों पर भी दें विशेष ध्यान

सिविल सेवा की तैयारी करने के दौरान मैंने कई अभ्यर्थियों को देखा है कि उन्होंने अपने दिमाग में एक गलत धारणा बैठा ली है कि बहुत सारे तथ्य और आंकड़े इसके लिए रटने पड़ते हैं। वास्तव में ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। UPSC के परीक्षा पाठ्यक्रम में जो बदलाव हुए हैं, उन्हें आप देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि अब जो मूल्यांकन हो रहा है, उसमें आपकी विश्लेषणात्मक क्षमता के साथ आपकी अवधारणाएं कितनी स्पष्ट हैं और कितनी तेजी से प्रश्नों को आप हल कर पा रहे हैं, इनके आधार पर ही मूल्यांकन हो रहा है। आपको 120 मिनट में 200 सवालों के जवाब देने पड़ते हैं। देखा जाए तो आपको एक सवाल से ज्यादा प्रति मिनट हल करने पड़ते हैं।

वर्तमान मामलों पर हो पैनी नजर

वर्तमान में जो भी मामले चल रहे हैं, उनकी जानकारी तो आपको रखनी ही है, साथ में उन्हें आपको सिद्धांत या अवधारणा के आधार पर अच्छी तरीके से समझ लेना है, ताकि उससे संबंधित किसी भी तरह के सवालों का जवाब आप विश्लेषणात्मक तरीके से दे सकें। मैं अपनी बात करूं तो इसके लिए राज्य सभा टीवी, पीआईबी, डेली न्यूज़ एनालिसिस जो अलग-अलग विभागों के होते हैं, इन सब को मैं नियमित रूप से फॉलो करता हूं। इससे पक्की जानकारी मिलने के साथ अपना ओपिनियन बनाने में भी आसानी होती है।

टेस्ट पेपर से जरूरी है प्रैक्टिस

सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद ही आप दूसरे महत्वपूर्ण चरण में दाखिल हो सकते हैं। जैसा कि पहले ही मैंने बताया है कि एक सवाल का उत्तर देने के लिए आपको 1 मिनट से भी कम वक्त मिलता है। ऐसे में यह बहुत जरूरी हो जाता है कि पुराने प्रश्नपत्रों और सैंपल टेस्ट पेपर को रोजाना सॉल्व करके आप प्रैक्टिस करते रहें। मेरा तो एक दिन भी ऐसा नहीं जाता, जिस दिन मैं IAS टेस्ट पेपर से प्रैक्टिस न करूं।

चलते-चलते

अंत में दोस्तों मैं यही कहना चाहूंगा कि UPSC Civil Services Prelims 2020 के लिए आप पूरे लगन से तैयारी करें, क्योंकि तैयारी में आपकी जितनी गंभीरता होगी, आपकी सफलता के आसार उतने ही बढ़ जाएंगे।

3 COMMENTS

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.