साप्ताहिक करेंट अफेयर्स- 30 दिसंबर 2019 से 5 जनवरी 2020

1837
current affairs in Hindi

भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बने जनरल बिपिन रावत

  • जनरल बिपिन रावत जो कि बीते 31 दिसंबर को भारत के थल सेनाध्यक्ष के पद से सेवानिवृत्त हुए, उन्होंने भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) का पदभार संभाल लिया है। पदभार संभालने के साथ ही रावत की ओर से एयर डिफेंस कमान का खाका तैयार करने का निर्देश जारी किया गया है। हवा में देश की ताकत को बढ़ाने के लिए एवं सुरक्षा इंतजाम को और भी सशक्त करने के लिए बिपिन रावत ने एयर डिफेंस कमांड को बनाने का प्रस्ताव तैयार करने का आदेश दिया है।
  • CDS तीनों सेनाओं के मध्य आपसी सामंजस्य बैठाने का काम करेगा। साथ ही इसका उद्देश्य समग्र रक्षा अधिग्रहण योजना को तैयार करना है एवं इसके जरिए हथियारों के साथ उपकरणों का स्वदेशीकरण अधिक-से-अधिक करना है। वायु रक्षा कमान का गठन इसी उद्देश्य से किया जा रहा है कि देश में हवाई सुरक्षा को बिल्कुल अभेद्य बना दिया जाए।

दृष्टिबाधितों की मदद के लिए भारतीय रिजर्व बैंक ने जारी किया मनी मोबाइल एप

  • भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की ओर से ‘मोबाइल एडेड नोट आइडेंटिफायर’ यानी कि मनी को जारी किया गया है। बीते 1 जनवरी को इस एप को आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने जारी किया है। इस ऐप का उद्देश्य दृष्टिबाधित लोगों को नोटों की पहचान करने में मदद करना है।
  • इस ऐप के माध्यम से आवाज के जरिए हिंदी एवं अंग्रेजी में नोट का मूल्य बताया जाएगा। आरबीआई ने इसके बारे में बताया है कि कई तरह की विशेषताएं भारतीय बैंक नोट में होती है। मोबाइल कैमरे के माध्यम से यह ऐप नोटों को स्कैन कर लेता है और आवाज के माध्यम से दृष्टिहीनों को इसके मूल्य के बारे में बताता है।

भारत के 28वें सेना प्रमुख बने जनरल मुकुंद नरवाने

  • जनरल बिपिन रावत के सेना प्रमुख के तौर पर सेवानिवृत्त होने के बाद जनरल मुकुंद नरवाने भारत के सेना प्रमुख बन गए हैं। इससे पहले उन्होंने बीते सितंबर में सेना के उप प्रमुख का दायित्व संभाला था। उससे भी पहले वे सेना के पूर्वी कमान की अगुवाई कर रहे थे।
  • नरवाने जम्मू कश्मीर में राष्ट्रीय राइफल्स की बटालियन के साथ पूर्वी मोर्चे पर इन्फेंट्री ब्रिगेड की कमान संभाल चुके हैं। साथ ही श्रीलंका में वे भारतीय शांति रक्षक बल का हिस्सा भी रहे हैं। उन्होंने म्यामार स्थित भारतीय दूतावास में तीन वर्षों तक रक्षा अताशे के तौर पर भी सेवा दी है। जनरल नरवाने को सेना मेडल के साथ विशिष्ट सेवा मेडल एवं अति विशिष्ट सेवा मेडल भी प्राप्त हो चुका है।

दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किए गए अमिताभ बच्चन

  • भारतीय फिल्म जगत में बिग बी के नाम से मशहूर अभिनेता अमिताभ बच्चन को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भारत में फिल्म जगत के सर्वोच्च सम्मान दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया है। यह सम्मान प्राप्त करते वक्त अमिताभ बच्चन के साथ उनकी पत्नी जया बच्चन एवं उनके बेटे अभिषेक बच्चन भी मौजूद नजर आए। अमिताभ बच्चन उत्तर प्रदेश के प्रयागराज (तत्कालीन इलाहाबाद) में 11 अक्टूबर, 1942 को जन्मे थे।
  • दादा साहब फाल्के पुरस्कार हर वर्ष प्रदान किया जाता है। किसी व्यक्ति विशेष को भारतीय सिनेमा में जीवनपर्यंत योगदान देने के लिए यह पुरस्कार प्रदान किया जाता है। अमिताभ बच्चन की पहली फिल्म सात हिंदुस्तानी थी, जो कि 1969 में रिलीज हुई थी। अमिताभ बच्चन को अब तक चार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के साथ 15 फिल्म फेयर अवार्ड मिल चुके हैं। साथ ही वर्ष 2015 में उन्हें पद्म विभूषण से भी सम्मानित किया जा चुका है।

अपने जवानों के सोशल मीडिया इस्तेमाल करने पर भारतीय नौसेना ने लगाया प्रतिबंध

  • भारतीय नौसेना ने जहाजों एवं नौ सैन्य अड्डों पर अपने जवानों के फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम के साथ सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। भारतीय नौसैनिक किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे, क्योंकि भारतीय नौसेना ने संवेदनशील एवं गोपनीय जानकारी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए इनके इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने का कदम उठाया है। 
  • भारतीय नौसेना ने इसके बारे में कहा है कि सोशल मीडिया पर सात नौसैनिकों द्वारा दुश्मनों तक खुफिया एजेंसियों की संवेदनशील सूचनाएं लीक किए जाने के बाद यह कदम उठाना पड़ा है। साथ ही सभी संवेदनशील जगहों पर नौसैनिकों के स्मार्टफोन के इस्तेमाल करने पर भी भारतीय नौसेना ने प्रतिबंध लगा दिया है।

नए साल के पहले दिन सबसे ज्यादा बच्चों के जन्म लेने के मामले में भारत ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

  • नए साल 2020 के पहले दिन दुनियाभर में सर्वाधिक बच्चे भारत में पैदा हुए और यह एक विश्व रिकॉर्ड ही बन गया। यूनिसेफ ने 190 देशों की सूची जारी की है। इस सूची में सबसे पहला स्थान भारत को हासिल हुआ है। 1 जनवरी, 2020 को भारत में 67 हजार 385 बच्चे पैदा हुए हैं। इस सूची में दूसरा स्थान चीन को हासिल हुआ है। यहां साल के पहले दिन 46 हजार 299 बच्चों का जन्म हुआ है।
  • तीसरे, चौथे, पांचवें, छठे, सातवें और आठवें स्थान पर क्रमशः नाइजीरिया, पाकिस्तान, इंडोनेशिया, अमेरिका, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य एवं इथियोपिया हैं। दुनिया भर में पैदा हुए बच्चों का 50 प्रतिशत इन आठ देशों में ही रहा है। 1 जनवरी, 2020 को दुनियाभर में जितने बच्चों ने जन्म लिया, उनमें से 17 प्रतिशत भारत में जन्म लेने वाले रहे हैं।

अमेरिकी हमले में ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स के कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी की मौत

  • ड्रोन हमले में अमेरिकी सेना ने ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स के बेहद शक्तिशाली माने जाने वाले कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी को मार गिराया है, जिसके बाद से अमेरिका और ईरान के बीच तनाव और बढ़ गया है। कासिम की मौत के बाद ईरान के सुप्रीम लीडर अयातुल्लाह खमेनेई की ओर से देश में तीन दिनों के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की गई। अयातुल्लाह खमेनेई के बाद ईरान में सर्वाधिक ताकतवर जनरल सुलेमानी को ही माना जाता था। तेहरान मध्य पूर्वी विदेश और सुरक्षा नीति के प्रमुख आर्किटेक्ट सुलेमानी ही रहे थे।
  • उन्होंने क़ुद्स फोर्स की कमान साल 1998 में संभाली थी। सुलेमानी को भविष्य का राष्ट्रपति तक कहा जा रहा था। सीरिया और इराक युद्ध में भी जनरल कासिम सुलेमानी की महत्वपूर्ण भूमिका रही थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सुलेमानी की ईरान में अपने देश के राष्ट्रपति हसन रूहानी से भी अधिक लोकप्रियता थी। यही वजह है कि ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने यह ऐलान किया है कि ईरान सुलेमानी की हत्या का बदला संयुक्त राज्य अमेरिका से जरूर लेगा।

बेंगलुरु में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया भारतीय विज्ञान कांग्रेस के 107वें सत्र का उद्घाटन

  • कर्नाटक की राजधानी आईटी सिटी बेंगलुरु में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते 3 जनवरी को भारतीय विज्ञान कांग्रेस के 107वें सत्र का उद्घाटन किया, जिसका वर्ष 2020 का थीम ‘ग्रामीण विकास के लिए विज्ञान और प्रौद्योगिकी’ है। भारतीय विज्ञान कांग्रेस का यह 107वां अधिवेशन 7 जनवरी तक चल रहा है, जिसमें कृषि के क्षेत्र में हुए उन्नयन को प्रदर्शित किया जाएगा। इसमें देश-विदेश के 15 हजार से भी अधिक वैज्ञानिक, विद्वान और कॉरपोरेट सेक्टर के अधिकारी हिस्सा ले रहे हैं।
  • इससे पहले इसका आयोजन वर्ष 2016 में कर्नाटक के मैसूरु में हुआ था। भारतीय वैज्ञानिकों की शीर्ष संस्था भारतीय विज्ञान कांग्रेस की स्थापना वर्ष 1914 में भारत में विज्ञान को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से की गई थी। इसमें नोबेल पुरस्कार विजेता वैज्ञानिकों की भी भागीदारी होती है।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.