साप्ताहिक करेंट अफेयर्स- 3 से 9 फरवरी 2020

1915
current affairs in Hindi


अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिकी सीनेट ने किया महाभियोग के सभी आरोपों से बरी

  • पद के दुरुपयोग के साथ कांग्रेस की कार्यवाही को बाधित करने के जो आरोप अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर लगे थे, उन्हें इन आरोपों से अमेरिकी सीनेट ने बरी कर दिया है। शक्ति के दुरुपयोग के आरोप को जहां सीनेट ने 52-48 के अंतर से रद्द किया, वहीं कांग्रेस की कार्यवाही बाधित करने के आरोप को सीनेट ने 53-47 वोट के अंतर से खारिज कर दिया।
  • महाभियोग का आरोप लगने के बाद भी फिर से राष्ट्रपति चुनाव लड़ने वाले डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के पहले व्यक्ति हैं। डोनाल्ड ट्रंप पर यह आरोप लगाया गया था कि यूक्रेन के राष्ट्रपति पर दो डेमोक्रेट नेताओं के खिलाफ जांच के लिए उन्होंने अपने पद पर रहते हुए दबाव डलवाया था साथ ही उन पर महाभियोग के मामले में सदन की जांच में सहयोग नहीं करने का भी आरोप लगा था। अमेरिका के इतिहास में महाभियोग का आरोप 1868 में राष्ट्रपति एंड्रयू जॉनसन के खिलाफ चला था। फिर 1998 में बिल क्लिंटन के खिलाफ भी महाभियोग का प्रस्ताव लाया गया था। हालांकि, अमेरिका के 243 वर्षों के इतिहास में महाभियोग आने के बावजूद किसी राष्ट्रपति को पद से अब तक नहीं हटाया गया है।

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ राम मंदिर ट्रस्ट का नाम रखने का प्रधानमंत्री मोदी का फैसला

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए एक ट्रस्ट बनाने की घोषणा की गई है, जिसका नाम श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र रखा जा रहा है। सदन में प्रधानमंत्री ने बताया कि कैबिनेट की बैठक में यह निर्णय ले लिया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मामले पर अपना फैसला सुनाते वक्त सरकार को मंदिर के निर्माण के लिए ट्रस्ट के गठन के लिए तीन माह का समय दिया था, जिसकी समय सीमा 9 फरवरी को समाप्त हो गई है।
  • केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की ओर से बताया गया है कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में ट्रस्टी की संख्या 15 होगी, जिनमें से एक ट्रस्टी दलित समाज से हमेशा रहेगा। अयोध्या कानून के तहत सरकार की ओर से जो 67.70 एकड़ की भूमि अधिग्रहित की गई है, उसे सरकार ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र को हस्तांतरित करने का निर्णय लिया है।

क्लासिकल स्वाइन फीवर को भारत ने नियंत्रित करने का विकसित किया टीका

  • भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान यानी कि IVRI की ओर से क्लासिकल स्वाइन फीवर को नियंत्रण में लाने का एक टीका विकसित कर लिया गया है। आईवीआरआई भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (ICAR) का ही हिस्सा है। सूअरों की बीच सबसे आम बीमारी को क्लासिकल स्वाइन फीवर वैक्सीन के नाम से जाना जाता है, जिसकी वजह से भारत में बड़ी संख्या में लोगों की मौत हो जाती है। वर्ष 1964 से भारत में जिस स्वाइन फीवर वैक्सीन का इस्तेमाल किया जा रहा है, वह यूके में विकसित किया गया है।
  • भारत में विशेषज्ञों के मुताबिक इसके टीके की आवश्यकता दो करोड़ वार्षिक खुराक की है, लेकिन वर्तमान में इसके केवल 12 लाख खुराक ही उपलब्ध हैं। नया टीका विकसित हो जाने के बाद खरगोश को मारने की जरूरत नहीं पड़ेगी। अब तक जो स्वाइन फीवर का टीका बाजार में उपलब्ध है, उसे बनाने के लिए खरगोश को मारा जाता है और उसकी स्प्लीन से इसे विकसित किया जाता है। एक खरगोश से 50 टीके विकसित किए जा सकते हैं।

मेघालय में भारत और बांग्लादेश की सेनाओं के बीच हुई वार्षिक सैन्य अभ्यास SAMPRITI-IX की शुरुआत

  • भारत के पूर्वोत्तर में स्थित राज्य मेघालय के उमरोई में भारत और बांग्लादेश के बीच वार्षिक संयुक्त सैन्य अभ्यास SAMPRITI-IX के नौवें संस्करण की शुरुआत हो गई है, जिसका उद्देश्य दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय रक्षा सहयोग को और बढ़ाना है। दो हफ्ते तक चलने वाले इस सैन्य अभ्यास में आतंकवाद निरोधी अभियान पर विशेष बल दिया जा रहा है।
  • संयुक्त राष्ट्र के निर्देशों के अंतर्गत उग्रवाद के साथ आतंकवाद से निबटने के लिए रणनीतिक कार्रवाई का भी इस सैन्य अभ्यास में अभ्यास किया जा रहा है। इस सैन्य अभ्यास का आयोजन जहां एक वर्ष बांग्लादेश में होता है तो वहीं दूसरे वर्ष इसका आयोजन भारत में किया जाता है।

भारत के पर्यटकों का भूटान में निःशुल्क प्रवेश समाप्त

  • भूटान की संसद में बीते 4 फरवरी को पारित किए गए एक विधेयक के मुताबिक अब भारत से भूटान जाने वाले पर्यटकों को यहां निशुल्क प्रवेश नहीं मिलेगा। उन्हें इसके लिए शुल्क का भुगतान करना पड़ेगा। क्षेत्रीय पर्यटकों के लिए हाल में ही भूटान की ओर से एक नई प्रणाली की व्यवस्था शुरू की गई है, जिसे ‘सतत विकास शुल्क’ कहा जा रहा है।
  • केवल भारत ही नहीं, बल्कि पड़ोसी मुल्कों मालदीव एवं बांग्लादेश से आने वाले पर्यटकों को भी इस शुल्क का भुगतान यहां करना पड़ेगा। भूटान में तेजी से पर्यटकों की बढ़ती हुई संख्या के मद्देनजर नई पर्यटन नीति के अंतर्गत भूटान सरकार की ओर से अपने देश में पर्यटन को प्रोत्साहित करने के लिए यह निर्णय लिया गया है। भारत से यहां जाने वाले पर्यटकों को रोजाना 1200 रुपये शुल्क का भुगतान करना पड़ेगा। इसी साल जुलाई से इसकी शुरुआत हो जाएगी।

World Heritage City का जयपुर को UNESCO की ओर से मिला प्रमाणपत्र

  • औपचारिक रूप से राजस्थान की राजधानी जयपुर जो कि पिंक सिटी के नाम से मशहूर है, उसे विश्व धरोहर शहर का प्रमाणपत्र यूनेस्को की महानिदेशक आंद्रे अजोले की ओर से प्रदान कर दिया गया है। जयपुर में अल्बर्ट हॉल में आयोजित एक कार्यक्रम में 1727 में राजा जयसिंह द्वारा स्थापित इस शहर को यह प्रमाण पत्र प्राप्त हुआ। इस प्रमाण पत्र को नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल ने प्राप्त किया।
  • वर्ल्ड हेरिटेज सिटी का दर्जा प्राप्त होने के बाद अब जयपुर में न केवल अंतरराष्ट्रीय पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा, बल्कि इससे स्थानीय अर्थव्यवस्था भी तेजी से बढ़ेगी। हर वर्ष एक राज्य से केवल एक स्थान को ही World Heritage City में शामिल करने के लिए प्रस्तावित किया जा सकता है।

रेपो रेट को भारतीय रिजर्व बैंक ने 5.15 प्रतिशत पर रखा बरकरार

  • भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की ओर से रेपो दर को 5.15 प्रतिशत पर ही चालू वित्त वर्ष की अंतिम मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक में बरकरार रखा गया है। रेपो दर लगातार दूसरी बैठक में रखने का निर्णय आरबीआई ने लिया है। इस तरह से रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में किसी तरह का कोई परिवर्तन आरबीआई की ओर से पेश मौद्रिक नीति में नहीं किया गया है।
  • वित्त वर्ष 2019-20 में आर्थिक वृद्धि दर के आरबीआई की ओर से जो 5 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया गया था, उसे भी आरबीआई ने बरकरार रखा है। रिवर्स रेपो रेट को भी 4.90 प्रतिशत पर ही यथावत रखा गया है।

अंतरिक्ष में सबसे लंबे वक्त तक रहने का क्रिस्टीना कोच ने बनाया रिकॉर्ड

  • अंतरिक्ष में 328 दिन बिता कर अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा की अंतरिक्ष यात्री क्रिस्टीना कोच ने इतिहास रच दिया है और वह सबसे लंबे वक्त तक अंतरिक्ष में रहने वाली पहली अंतरिक्ष यात्री भी बन गई हैं।
  • बीते 6 फरवरी को करीब 11 महीने का वक्त अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन में बिताने के बाद धरती पर वे सुरक्षित लौट आईं। रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के अलेक्जेंडर स्कोवोर्तसोव और यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी के
Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.