साप्ताहिक करेंट अफेयर्स- 13 से 19 जनवरी 2020

2105
current affairs in Hindi

इसरो ने लांच किया संचार उपग्रह ISRO GSAT-30

  • भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने सफलतापूर्वक संचार उपग्रह GSAT-30 को लांच किया है, जिससे न केवल 5जी नेटवर्क अब बहुत पास आ गया है, बल्कि जलवायु परिवर्तन से जुड़ी भविष्यवाणी करने में भी इससे बड़ी मदद मिलने वाली है। दक्षिण अमेरिका के उत्तर पूर्वी तट पर कौरो के एरियर प्रक्षेपण तट से 17 जनवरी, 2020 को तड़के 2 बजकर 35 मिनट पर यूरोपियन हैवी रॉकेट एरियन-5 ईसीए के जरिये इसे लांच किया गया। यह वर्ष 2005 में लांच किये गये संचार उपग्रह इनसैट-4ए की जगह लेगा।
  • इसरो द्वारा डिजाइन किये गये इस उपग्रह का वजन 3100 किलोग्राम है, जो कि 15 वर्षों तक काम करेगा। इस उपग्रह की मदद से न केवल देश की संचार प्रणाली और टेलीविजन प्रसारण पहले से बेहतर हो जाएंगे, बल्कि सैटेलाइट के जरिए समाचार प्रबंधन और आसान हो जायेगा। साथ ही प्राकृतिक आपदाओं की सूचना पहले ही प्राप्त की जा सकेगी और राहत व बचाव कार्य भी आसानी से संचालित किये जा सकेंगे।

यूक्रेन के प्रधानमंत्री ओलेक्सी हॉनशारूक ने दिया त्यागपत्र

  • राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंसकी को यूक्रेन के प्रधानमंत्री ओलेक्सी हॉनशारूक ने अपना इस्तीफा सौंप दिया है। राष्ट्रपति के पद पर वे छः माह से भी कम समय तक आसीन रहे। यूक्रेन के राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से कहा गया है कि ओलेक्सी हॉनशारूक के इस्तीफे पर विचार करने के बाद ही यह निर्णय लिया जायेगा कि इसे स्वीकार किया जाए या नहीं।
  • बीते हफ्ते एक रिकॉर्डेड बयान ओलेक्सी हॉनशारूक का सामने आया था, जिसमें उन्हें देश की आर्थिक स्थिति के बिगड़ने के लिए कथित तौर पर राष्ट्रपति जीलेंसकी को जिम्मेवार बताते हुए सुना गया था। इसमें वे यह कहते हुए सुने गये थे कि राष्ट्रपति पद का सम्मान इसकी वजह से प्रभावित हुआ है। वहीं, हॉनशारूक की ओर से रिकॉर्डिंग में छेड़छाड़ का भी आरोप लगाया गया था।

यौन अपराधों पर सामने आई मृत्यु-दंड से जुड़ी रिपोर्ट

  • राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय की ओर से एक रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें पिछले कुछ वर्षों में यौन अपराधों के मामलों में मृत्युदंड दिये जाने के मामले में बढ़ोतरी की जानकारी दी गई है। भारत में मृत्युदंड वार्षिक सांख्यिकी के नाम से राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय के प्रोजेक्ट 39ए की ओर से जारी रिपोर्ट में बताया गया है कि वर्ष 2019 में यौन अपराधों में हत्या किये जाने के मामलों में मृत्युदंड दिये जाने की संख्या में बीते चार वर्षों में सबसे अधिक बढ़ोतरी दर्ज की गई है। वर्ष 2018 में जहां 41.35 प्रतिशत (162 मामलों में 67) मामलों में मृत्युदंड दिया गया था, वहीं 2019 में 52.94 प्रतिशत (102 मामलों में 54) मामलों में यह सजा दी गई।
  • रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि वर्ष 2019 में वर्ष 2001 के बाद सबसे अधिक 27 मामलों में सर्वोच्च न्यायालय में मृत्युदंड पर सुनवाई हुई। वहीं, वर्ष 2018 में सर्वोच्च न्यायालय में जिन सात मामलों में मृत्यदंड की पुष्टि हुई थी, उनमें से चार मामलों का संबंध यौन अपराधों से था।

महिलाओं के विरुद्ध अपराध पर NCRB के आंकड़े जारी

  • राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) की ओर से वर्ष 2018 के अपराध से जुड़े आंकड़े जारी किये गये हैं, जिनमें वर्ष 2018 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के सर्वाधिक 3 लाख 78 हजार मामले दर्ज किये गये। आंकड़ों के मुताबिक वर्ष 1992 में लिंग आधारित अपराधों के वर्गीकरण के बाद से महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामलों लगातार इजाफा ही देखा गया है।
  • आंकड़ों के मुताबिक बलात्कार, शीलभंग के उद्देश्य से की गई यौन हिंसा, अपहरण और बंधक बनाये जाने जैसे अधिक मामले सामने आये हैं। वर्ष 2013 के बाद शीलभंग के उद्देश्य से यौन हिंसा किये जाने के मामलों में सबसे तेजी से बढ़ोतरी हुई है। आंकड़े बताते हैं कि पति या रिश्तेदारों की ओर से प्रताड़ित किये जाने एवं दहेज की वजह से होने वाली मौतों के मामलों में कमी देखी गई है। साथ ही दहेज प्रतिषेध अधिनियम के अंतर्गत दर्ज किये जाने वाले मामलों में वृद्धि हुई है।

सरस्वती सम्मान से नवाजे जाएंगे सिंधी लेखक वासदेव मोही

  • प्रख्यात सिंधी लेखक वासदेव मोही को 29वें सरस्वती सम्मान से सम्मानित किया जायेगा। हर वर्ष केके बिरला फाउंडेशन की तरफ से यह पुरस्कार दिया जाता है। कहानी संग्रह ‘चेक बुक’ के लिए मोही को यह सम्मान मिलने वाला है। पुरस्कार के तौर पर मोही को प्रशस्ति पत्र और प्रतीक चिह्न आदि के साथ 15 लाख रुपये की राशि प्राप्त होगी।
  • वासदेव मोही का जन्म सिंध के मीरपुर खास में 1944 में 2 मार्च को हुआ था। सिंधी भाषा के कहानीकार और कवि के साथ आलोचक के रूप में भी इनकी पहचान है। सरस्वती सम्मान की शुरुआत वर्ष 1991 में हुई थी और पहला सरस्वती सम्मान डॉ. हरिवंशराय बच्चन को प्रदान किया गया थ।

भारतीय वकील हरीश साल्वे बनेंगे ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के कानूनी सलाहकार

  • ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के कानूनी सलाहकार के पद पर भारतीय वकील हरीश साल्वे की नियुक्ति की घोषणा आगामी मार्च में की जायेगी। साल्वे ने पाकिस्तान की जेल में कैद कुलभूषण जाधव मामले में बड़ी ही मजबूती से सफलतापूर्वक भारत का पक्ष अंतरराष्ट्रीय अदालत में रखा था। हिट एंड रन केस में सलमान खान की एवं बिल्किस बानो जैसे मामलों की भी पैरवी कर चुके साल्वे को ब्रिटेन के न्याय मंत्रालय की ओर से नई नियुक्तियों को लेकर जारी की गई 114 वकीलों की सूची में जगह दी गई है।
  • हरीश साल्वे के पिता एनकेपी साल्वे कांग्रेस के पूर्व सांसद और केंद्रीय मंत्री भी थे। वर्ष 1992 में सर्वोच्च न्यायालय में वकील रहने के अलावा साल्वे ने 1999 से लेकर 2002 तक सॉलिसिटर जनरल की जिम्मेवारी संभाली थी। देश के सबसे महंगे वकीलों में साल्वे की गिनती होती है।

राष्ट्रीय लता मंगेशकर सम्मान से सम्मानित किये जाएंगे सुमन कल्याणपुर और कुलदीप सिंह

  • संगीत के क्षेत्र में मध्यप्रदेश सरकार की ओर से दिया जाने वाला राष्ट्रीय लता मंगेशकर सम्मान वर्ष 2017 के लिए पार्श्व गायिका सुमन कल्याणपुर और 2018 के लिए संगीत निर्देशक कुलदीप सिंह को प्रदान किया जायेगा। पुरस्कार के तौर पर दो लाख रुपये की राशि के साथ सम्मान पट्टिका, शाल और श्रीफल प्रदान किये जाते हैं।
  • पार्श्व गायन के क्षेत्र में सुमन कल्याणपुर बीते 50 वर्षों से भी अधिक समय से सक्रिय रही हैं और बात एक रात की, दिल ही तो है, दिल एक मंदिर, सांझ और सवेरा एवं जहां आरा जैसी फिल्मों में वे गीतों को अपनी आवाज दे चुकी हैं। वहीं, संगीत निर्देशक कुलदीप सिंह को अंकुश सहित कई फिल्मों से पहचान मिली है। नौशाद और किशोर कुमार जैसे दिग्गजों को भी लता मंगेशकर संगीत सम्मान मिल चुका है।

थलसेना दिवस पर परेड का नेतृत्व करने वाली पहली महिला अधिकारी बनीं कैप्टन तान्या शेरगिल

  • थल सेना दिवस के अवसर पर कैप्टन तान्या शेरगिल सर्व पुरूष दस्ते की अगुवाई करने वाली पहली भारतीय महिला अधिकारी बन गई हैं। अब वे 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर राजधानी नई दिल्ली में राजपथ पर होने जा रहे गणतंत्र दिवस समारोह में भी सर्व पुरूष दस्ते का नेतृत्व करने वाली हैं।
  • बीते 15 जनवरी को थल सेना दिवस के अवसर पर दिल्ली छावनी के करियप्पा परेड मैदान में मुख्य थल सेना दिवस समारोह में कैप्टन तान्या शेरगिल ने परेड एडजुटेंट के तौर पर सर्व पुरुष दस्ते का नेतृत्व करके इतिहास में अपना नाम दर्ज करवा लिया।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.