CBSE के 10वीं बोर्ड एग्जाम में ऐसे मिलेंगे ज्यादा अंक

340
CBSE Board exam tips to score high

सीबीएसई की 10वीं की बोर्ड परीक्षाओं में अधिक अंक प्राप्त करने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। अगले साल से सीबीआई ने अपनी 10वीं परीक्षा के एग्जाम पैटर्न में कुछ मामूली बदलाव भी किए हैं, जिसके अनुसार आपको तैयारी करनी पड़ेगी, ताकि आप परीक्षा में अधिक अंक पा सकें। परीक्षा में अधिक अंक लाने के लिए बहुत जरूरी है कि आप अपने उत्तर को अच्छी तरह से प्रस्तुत करें, ताकि आपके पेपर का मूल्यांकन करने वाले टीचर्स पर अच्छा प्रभाव पड़े। यहां हम आपको बता रहे हैं कि 10वीं की बोर्ड परीक्षाओं में आप कैसे अधिक अंक पा सकते हैं?

  • परीक्षा में अधिक अंक पाने के लिए बहुत ही जरूरी है कि आपको जैसे ही प्रश्न पत्र मिल जाए आप इसे बहुत ही अच्छी तरीके से एक बार पढ़ लें। इससे पता चल जाएगा कि कौन सा प्रश्न कितने नंबर का है। इसके बाद आपको इसका उत्तर पूरे तर्क के साथ देने का प्रयास करना चाहिए।
  • शुरुआत के 15 मिनट जो आपको मिलते हैं, आपको उसे प्रश्न पत्र को अच्छी तरह से पढ़ने के लिए देना चाहिए। इस दौरान आपको यह निर्णय ले लेना चाहिए कि कौन से प्रश्न कठिन हैं, कौन से कठिन हैं और कौन से प्रश्नों का स्तर ज्यादा कठिन और ना ही ज्यादा आसान है। इस तरह से आपको उत्तर देने में आसानी होगी।
  • कोई सवाल कठिन आ गया है, यह सोचकर घबराने की जरूरत नहीं है। जिस वक्त आप घबराना शुरू करते है, उसी वक्त आपकी परीक्षा खराब होने की आशंका बढ़ जाती है। दरअसल जब आप इस कठिन सवाल को भी हल करना शुरू करते हैं तो यह आपके लिए आसान बन जाता है। इसलिए खुश होकर आपको सवालों को हल करना शुरू करना चाहिए।
  • सबसे पहले आपको उन सवालों को हल करना चाहिए जो आपको आसान लग रहे हैं। इससे यह सुनिश्चित हो जाएगा कि आप किसी जानते हुए सवाल को नहीं छोड़ रहे हैं। इसके बाद आपके पास कठिन सवालों को हल करने के लिए समय भी बचेगा।
  • सीबीएसई ने 10वीं परीक्षा के लिए इस बार एक महत्वपूर्ण बदलाव करने का मन बना लिया है। संभव है कि इस बार ऑब्जेक्टिव टाइप यानी कि वस्तुनिष्ठ प्रश्नों की जगह वर्णनात्मक प्रश्न अधिक हों। ऐसे में आपको अधिक लिखने की जरूरत पड़ेगी। इसमें आप दिमाग को बिल्कुल स्थिर करके अपने अनुभव से जवाब लिखेंगे तो आपको ज्यादा अंक मिल पाएंगे।
  • सवालों को तेजी से हल करने का प्रयास करें और मामूली गलतियों को करने से बचें, क्योंकि इससे आपका पूरा उत्तर गलत हो सकता है।
  • सवालों का जवाब देते समय बीच-बीच में घड़ी पर भी निगाहें डाल लें, ताकि आपको पता चल सके कि समय के अनुसार आप चल रहे हैं या नहीं। थोड़ा-बहुत समय आगे पीछे हो तो उससे घबराने की जरूरत नहीं होती।
  • फालतू लिखने से बचना चाहिए। किसी सवाल का जवाब आपको आसान लग रहा है तो इसका यह मतलब नहीं कि आप उसका बहुत लंबा उत्तर लिखें। जितनी जरूरत है उतने ही शब्दों में ही आपको उत्तर देना चाहिए।
  • सीबीएसई ने दसवीं बोर्ड के पैटर्न में एक और बदलाव यह किया है कि गणित और अंग्रेजी की मुख्य परीक्षाएं अब 80-80 नंबर की ही होंगी, जबकि 20-20 अंकों का स्कूल स्तर पर मूल्यांकन होगा। ऐसे में आपको सैद्धांतिक जानकारी के साथ व्यवहारिक जानकारी की भी जरूरत पड़ेगी। इसलिए आप केवल रट्टा मानने की बजाय विषय को समझ कर तैयारी करें, क्योंकि स्कूली स्तर पर मिलने वाला यह अंक आपके बहुत काम आएगा।
  • सवालों को हल कर लेने के बाद अंत के 5 से 10 मिनट में तेजी से एक बार अपने उत्तरों की पुनरावृत्ति जरूर कर लें। इससे यदि कहीं कोई गलती हुई है तो आप को सुधारने का मौका मिल जाएगा।
  • सीबीएसई के एक बदलाव के अनुसार गणित में अब मैथमेटिक्स स्टैंडर्ड और मैथमेटिक्स बेसिक चुनने की सुविधा होगी। ऐसे में आप अपने आपको जिस में कुशल पाते हैं या जो आपके लिए आसान है, आप उसी का चयन करें। इससे आप अधिक नंबर ला पाएंगे।
  • किताबी भाषा की बजाय या फिर रटी हुई चीजों को लिखने की बजाय अपनी भाषा में और सरल शब्दों में उत्तर देंगे तो आपको अधिक अंक मिलने की संभावना बढ़ जाएगी।
  • जहां चार्ट, डायग्राम और नक्शे की जरूरत हो, उत्तर के साथ इसे जरूर बनाएं।
  • प्रश्नों का जवाब देते वक्त एसएमएस वाली भाषा का कदापि प्रयोग नहीं करें। जो भी शब्द आप लिख रहे हैं, उसे पूरा लिखें। शार्ट में लिखने से नुकसान हो सकता है।

चलते-चलते

सीबीएसई ने स्टूडेंट्स की सहूलियत के हिसाब से कई बदलाव किए हैं और करने की संभावना भी है। इन्हें ध्यान में रखकर तैयारी करके और उत्तर भी उसी प्रकार से देकर आपको जरूर अधिक अंक लाने में आसानी होगी। बताएं, आपने कितने अंक पाने का लक्ष्य निर्धारित किया है?

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.