साप्ताहिक करेंट अफेयर्स- 14 से 20 अक्टूबर 2019

1828
current affairs in Hindi

NASA ने आयोजित की पहली महिला स्पेसवॉक

  • अमेरिकी सरकार की स्वतंत्र स्पेस एजेंसी नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (NASA) की ओर से अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के बाहर पहली महिला स्पेसवॉक का आयोजन किया गया, जिसमें क्रिस्टीना कोच और जेसिका मेयर नाम की दो महिला अंतरिक्षयात्रियों ने भाग लिया। अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन में बैटरी-चार्ज-डिस्चार्ज यूनिट को इन्होंने बदला। वैसे तो बीते मार्च में भी इसका आयोजन किया गया था, मगर इसे किसी वजह से रद्द करना पड़ गया था।
  • पृथ्वी से 330 से 435 किलोमीटर की ऊंचाई पर पृथ्वी की निचली कक्षा में स्थित अंतर्राष्ट्रीय अन्तरिक्ष स्टेशन एक कृत्रिम उपग्रह है। पृथ्वी की एक परिक्रमा पूरी करने में इसे 92 मिनट लगते हैं और एक दिन में 15.5 बार पृथ्वी की परिक्रमा यह कर लेता है।

समाप्त हुई 62 साल पुरानी जम्मू-कश्मीर की विधान परिषद

  • राज्य प्रशासन की ओर से आदेश जारी किये जाने के बाद 1957 में स्थापित जम्मू-कश्मीर की विधान परिषद को समाप्त कर दिया गया है। आगामी 31 अक्टूबर को जममू-कश्मीर और लद्दाख दो अलग-अलग केंद्रशासित प्रदेश के रूप में अस्तित्व में भी आ जाएंगे।
  • स्थापना के समय जम्मू-कश्मीर विधान परिषद में सदस्यों की संख्या 36 थी। इसके बाद से ही जम्मू-कश्मीर में द्विसदनात्मक विधायिका की शुरुआत हो गई थी। जम्मू-कश्मीर विधान परिषद के सदस्यों का कार्यकाल 6 माह का हुआ करता था। अब इसके केंद्रशासित प्रदेश बनने के कारण विधान परिषद को समाप्त कर दिया गया है।

जस्टिस शरद अरविंद बोबडे के नाम की भारत के अगले मुख्य न्यायाधीश के लिए अनुशंसा

  • सर्वोच्च न्यायालय में वर्तमान में न्यायाधीश और मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश जस्टिज शरद अरविंद बोबडे के नाम की भारत के अगले मुख्य न्यायाधीश के लिए अनुशंसा भारत के वर्तमान मुख्य न्यायाधीश जस्टिज रंजन गोगोई की ओर से की गई है, जो आगामी 17 नवंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं।
  • 3 अक्टूबर, 2018 को भारत के मुख्य न्यायाधीश का कार्यभार संभालने वाले जस्टिस रंजन गोगोई ने प्रक्रिया के मुताबिक विधि मंत्री को अगले मुख्य न्यायाधीश के नाम की अनुशंसा कर दी है, जिसके बाद विधि मंत्री द्वारा इसे प्रधानमंत्री के सामने पेश किया जाता है और फिर इस बारे में राष्ट्रपति से विचार-विमर्श प्रधानमंत्री करते हैं।

NSG के नये प्रमुख नियुक्त हुए IPS अधिकारी अनूप कुमार

  • नेशनल सिक्यूरिटी गार्ड (NSG) का महानिदेशक कैबिनेट नियुक्ति समिति की ओर से प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारी अनूप कुमार को बनाया गया है। पिछले दो माह से रिक्त इस पद पर अनूप कुमार 30 सितंबर, 2020 तक सेवा देंगे। NSG को ब्लैक कैट्स कमांडो के नाम से भी जाना जाता है।
  • केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधीन काम करने वाले NSG, जिसकी स्थापना आतंकवादियों से निबटने के लिए वर्ष 1984 में इंदिरा गांधी की हत्या के बाद की गई थी, देशभर में इसके कमांडो पांच हब में होते हैं। तेलंगाना कैडर के 1984 बैच के IPS अधिकारी सुदीप लखटकिया इससे पहले एनएसजी के प्रमुख थे।

विश्व इस्पात संघ के उपाध्यक्ष नियुक्त हुए सज्जन जिंदल

  • विश्व इस्पात संघ, जिसका मुख्यालय बेल्जियम की राजधानी ब्रुसेल्स में स्थित है, इसके उपाध्यक्ष के पद पर सज्जन जिंदल को नियुक्ति हुई है। जिंदल JSW स्टील के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक हैं। वर्ष 1967 में स्थापित इस गैर लाभकारी संगठन का अध्यक्ष HBIS समूह के चेयरमैन यू योंग को नियुक्त किया गया है।
  • विश्व इस्पात संघ के सदस्य ही दुनिया के कुल 85% इस्पात का उत्पादन करते हैं। 160 स्टील उत्पादक इसमें शामिल हैं। सज्जन जिंदल को एक वर्ष के लिए विश्व इस्पात संघ के उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी मिली है।

मणिपुर में हुआ शिरुई लिली उत्सव का आगाज

  • चार दिनों तक चलने वाले शिरुई उत्सव 2019 का आरंभ मणिपुर के उखरुल में केंद्रीय पर्यटन मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के साथ किया, जिसमें विभिन्न समुदायों की ओर से लोक गीतों के साथ लोक नृत्यों को भी प्रस्तुत किया गया। मणिपुर के समृद्ध सांस्कृतिक विरासत की झलक राज्य के इस प्रमुख उत्सव में देखने को मिल जाती है।
  • भारत के उत्तर-पूर्व में स्थित मणिपुर राज्य का गठन 21 जनवरी, 1972 को हुआ था, जिसकी राजधानी इंफाल है। मणिपुर विधानसभा में सीटों की संख्या 60 है और यहां लोकसभा की दो, जबकि राज्यसभा की एक सीट है।

BCCI के नये अध्यक्ष बन रहे सौरव गांगुली

  • भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के नये अध्यक्ष भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली बन रहे हैं। भारतीय क्रिकेट के सबसे महानतम कप्तानों में से एक सौरव गांगुली ने 1992 से 2008 तक भारतीय क्रिकेट में सेवा दी है। अपने क्रिकेट करियर में गांगुली ने 311 एकदिवसीय मैचों में 11 हजार 363 और 113 टेस्ट मैचों में 7 हजार 212 रन बनाये थे।
  • वर्ष 1928 में स्थापित भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड देश में क्रिकेट के लिए सर्वोच्च राष्ट्रीय सरकारी निकाय है, जिसका मुख्यालय मुंबई में स्थित है। सौरव गांगुली आधिकारिक रूप से 23 अक्टूबर को बीसीसीआई के अध्यक्ष पद की जिम्मेवारी संभाल लेंगे।

मार्गरेट एटवुड और बर्नाडिन एवारिस्तो को संयुक्त तौर पर मिला 2019 का ‘बुकर प्राइज’

  • आमतौर पर संयुक्त रूप से न दिये जाने वाले बुकर प्राइज को 2019 के लिए मार्गरेट एटवुड और बर्नाडिन एवारिस्तो को दिया गया है। इसके लिए नियमों की भी अनदेखी की गई है। मार्गरेट एटवुड 79 साल की कनेडियन लेखिका हैं। उनकी पुस्तक ‘द टेस्टामेंट’ के लिए उन्हें बुकर पुरस्कार मिला है, जबकि बर्नाडिन एवारिस्तो, जो कि बुकर प्राइज जीतने वाली पहली अश्वेत महिला भी हैं, उन्हें यह प्राइज ‘गर्ल, वीमेन, अदर’ के लिए मिला है।
  • बुकर प्राइज जो कि पहले बुकर-मैककोन्नेल प्राइज और मैन बुकर प्राइज के नाम से भी जाना जाता था, इसकी शुरुआत वर्ष 1969 में मैन बुकर प्राइज के नाम से ही हुई थी। विजेता को पुरस्कार के तौर पर 50 हजार पौंड की राशि मिलती है। अब तक चार भारतीय लेखकों अरविंद अडिगा, किरण देसाई, अरुधंति राॅय और सलमान रुश्दी को इस पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है।

ट्यूनीशिया के नये राष्ट्रपति चुने गये कैस सईद

  • उत्तरी अफ्रीका में भूमध्य सागर और सहारा रेगिस्तान के साथ सीमा बनाने वाले देश ट्यूनीशिया में बीते दिनों संपन्न हुए चुनावों में 72.7 प्रतिशत अंक हासिल करते हुए कैस सईद ने एकतरफा जीत हासिल की है। उन्होंने यह जीत अपने प्रतिद्वंद्वी नाबिल करोई पर हासिल की है।
  • बिना किसी राजनीतिक पृष्ठभूमि के स्वतंत्र उम्मीदवार के तौर पर 61 साल के कैस सईद ने चुनाव लड़ा था। ट्यूनीशिया में वर्ष 2010-11 के दौरान बड़ा विद्रोह हुआ था, जिसमें जनता ने लंबे अरसे से यहां शासन कर रहे इल अबिदीन बेन अली की सत्ता को उखाड़ फेंका था।

विश्वनाथन आनंद ने लिखी ‘Mind Master: Winning Lessons from a Champion’s Life’

  • भारत के महान शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद ने यह पुस्तक लिखी है, जिसका विमोचन आगामी 11 दिसंबर को हैचे इंडिया प्रकाशन की ओर से किया जायेगा। अपनी इस किताब में विश्वनाथन आनंद ने अपने जीवन से सबसे अच्छे मुकाबलों और सबसे खराब हार के बारे में लिखा है। इसमें उन्होंने दुनिया के बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ अपने अनुभव को भी साझा किया है।
  • विश्वनाथन आनंद पांच बार के विश्व चैंपियन रहे हैं। आनंद को राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के साथ पद्म भूषण से भी सम्मानित किया जा चुका है। साथ ही वे 6 बार शतरंज ऑस्कर भी अपने नाम कर चुके हैं।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.