Bharat Parv 2021: त्योहार है ये भारतीयता का

1446
bharat parv 2021


What is Bharat Parv? हर भारतीय के मन में यह सवाल उठ रहा है, जब से उन्हें पता चला है कि 5 दिन के Bharat Parv 2021 की शुरुआत केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय की तरफ से हो गई है। वास्तव में भारत पर्व मनाने का उद्देश्य देशवासियों को अपने भारतीय होने पर गर्व का अनुभव कराना और देश की सांस्कृतिक विविधताओं के बीच सांस्कृतिक एकता से उन्हें रू-ब-रू कराना है। हर साल जनवरी के अंत में भारत पर्व का आयोजन किया जाता है। इस लेख में हम आपको भारत पर्व के बारे में हर तरह की जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं।

इस लेख में आपके लिए है:-

  • कब से मनाया जा रहा भारत पर्व?
  • क्यों मनाया जाता है भारत पर्व?
  • क्या होता है भारत पर्व के दौरान?
  • भारत पर्व 2021 के दौरान क्या मिलेगा देखने को?
  • लोकसभा अध्यक्ष का संदेश

कब से मनाया जा रहा भारत पर्व?

भारत पर्व मनाने की शुरुआत वर्ष 2016 में पर्यटन मंत्रालय की तरफ से हुई थी। गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान लाल किला के सामने भारत पर्व मनाया जाता रहा है। इस बार भी भारत पर्व की शुरुआत हो चुकी है, जो कि 31 जनवरी तक चलने वाला है। भारत पर्व का उद्घाटन बीते 26 जनवरी को हुआ है। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने इसका उद्घाटन किया है। इस बार कोरोना महामारी की वजह से भारत पर्व वर्चुअल तरीके से मनाया जा रहा है। भारत पर्व का आयोजन ‘आत्मनिर्भर भारत’ और ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ की थीम पर हो रहा है।

क्यों मनाया जाता है भारत पर्व?

Why Bharat Parv is celebrated? जाहिर सी बात है कि आपके मन में यह सवाल भारत पर्व को लेकर उठ रहा होगा। तो आपको बता दें कि भारत पर्व का आयोजन पर्यटन मंत्रालय इस उद्देश्य से करता है कि लोगों को अपने देश की सांस्कृतिक विरासत के बारे में अधिकाधिक जानकारी हो सके। जैसा कि भारत पर्व 2021 का थीम आत्मनिर्भर भारत है, तो इस दौरान लोगों को यह देखने को मिलेगा कि भारत किन-किन क्षेत्रों में आत्मनिर्भर बन चुका है और इस देश के नागरिक किस तरीके से भारत को आत्मनिर्भर बनाने में अपना भी योगदान दे सकते हैं।

यही नहीं, भारत पर्व का एक प्रमुख उद्देश्य एक भारत श्रेष्ठ भारत के विचार को मजबूती प्रदान करना है। इसका मतलब यह हुआ कि देशभर में चाहे कितनी भी विविधता क्यों न हो, लेकिन इन सभी विविधताओं के बीच जो सांस्कृतिक एकता मौजूद है, उस पर हर भारतवासी को गर्व करना सिखाना ही भारत पर्व मनाने का एक प्रमुख उद्देश्य है।

क्या होता है भारत पर्व के दौरान?

भारत पर्व के आयोजन के दौरान देशभर के सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से आए लोग अपने व्यंजनों से लेकर हथकरघा सामग्री और पर्यटन स्थलों से संबंधित जानकारी भी लोगों के सामने रखते हैं। भारत पर्व का हिस्सा बनने वालों को यह पता चल पाता है कि उनके देश में कितनी अलग-अलग तरह की खूबसूरत चीजें मौजूद हैं, जिनसे वे अब तक अनभिज्ञ रहे थे।

हर राज्य की खासियत, हर केंद्रशासित प्रदेश की विशेष चीज, उनकी पहचान भारत पर्व के दौरान देखने के लिए मिल जाती है। भारत पर्व के दौरान यह पता चलता है कि देश की सांस्कृतिक विरासत और विविधतापूर्ण संस्कृति कितनी समृद्ध है। सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की आध्यात्मिक से लेकर पर्यटन और सांस्कृतिक गतिविधियां भी यहां एक ही प्लेटफार्म पर उपलब्ध होती हैं।

भारत पर्व 2021 के दौरान क्या मिलेगा देखने को?

Why Bharat Parv is celebrated? इस सवाल का जवाब देने के बाद अब हम आपको बताते हैं कि भारत पर्व 2021 के दौरान वर्चुअल प्लेटफार्म पर कौन-कौन सी चीजें देखने के लिए उपलब्ध हैं:-

  • भारत की सशस्त्र सेनाओं के म्यूजिक बैंड के रिकॉर्ड किए गए परफॉर्मेंस के साथ रिपब्लिक डे परेड की झांकी वर्चुअल प्लेटफार्म पर उपलब्ध कराई गई है।
  • कई मंत्रालय जैसे कि आयुष मंत्रालय, संस्कृति मंत्रालय, रेल मंत्रालय और उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के साथ राष्ट्रीय संग्रहालय, भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण, नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट्स, खादी और अन्य उद्योग भी यहां हैंडलूम, हैंडीक्राफ्ट्स, नृत्य, संगीत, चित्रकला और अन्य सामग्री का प्रदर्शन कर रहे हैं, जो कि समूचे भारतवर्ष से यहां उपलब्ध कराए गए हैं।
  • एक भारत श्रेष्ठ भारत को प्रोत्साहित करने के लिए प्रसार भारती यहां वर्चुअल तरीके से अपनी कोशिशों का भी प्रदर्शन कर रही है।
  • केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय की मीडिया यूनिट ब्यूरो ऑफ आउटरीच एंड कम्युनिकेशन महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर सशक्त भारत, स्वच्छ भारत और बापू के सपनों का भारत से जुड़े वीडियोज, फोटोज और एनिमेशन आदि का प्रदर्शन कर रहा है।
  • भारत की विविधता और भारत की आत्मा से इस देश के हर नागरिक का परिचय कराने के लिए यहां कला और संस्कृति पर आधारित असंख्य किताबों का भी प्रदर्शन किया जा रहा है। इतना ही नहीं, उन सभी महापुरुषों की आत्मकथा और ऐतिहासिक पुस्तकों का भी प्रदर्शन यहां किया जा रहा है, जिन्होंने आधुनिक भारत के निर्माण में अपना अथक योगदान दिया है।

लोकसभा अध्यक्ष का संदेश

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, जिन्होंने भारत पर्व 2021 का उद्घाटन किया, उन्होंने इस अवसर पर ट्वीट करते हुए देश की अनोखी सांस्कृतिक विविधता की झांकी पेश कर दी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि भारत पर्व 2021 के माध्यम से इस देश के 28 राज्यों और 8 केंद्रशासित प्रदेशों की संस्कृति, कला, खानपान, परंपरा और वेशभूषा के बारे में लोगों को जानकारी हासिल हो सकेगी, जिससे कि इन्हें प्रोत्साहित भी किया जा सकेगा।

ओम बिरला ने इस दौरान संबोधित करते हुए कहा कि पर्यटन क्षेत्र के लिए कोविड-19 ने इस बार बहुत बड़ी चुनौती पेश की है, लेकिन भारत पर्व के आयोजन के माध्यम से इस चुनौती को एक अवसर में तब्दील कर दिया गया है। लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि सरकार पर्यटन और संस्कृति के जरिए पूरे देश को एकसाथ जोड़ने का प्रयास कर रही है, क्योंकि इस देश में ऐसा एक भी जिला नहीं है, जिसकी अपनी खुद की एक अलग पहचान न हो।

चलते-चलते

इस लेख में हमने आपको What is Bharat Parv के बारे में विस्तार से बताया है। इसे पढ़ने के बाद आपको यह समझ आ गया होगा कि भारत पर्व 2021 को यदि कोरोना काल में भी वर्चुअल तरीके से आयोजित किया जा रहा है, तो इसका कितना महत्व होगा। वास्तव में भारत पर्व के आयोजन से एक भारत श्रेष्ठ भारत और आत्मनिर्भर भारत के विचार को मजबूती तो मिलती ही है, साथ ही इस पर्व का हिस्सा बनकर हर भारतवासी को अपने भारतीय होने का गर्व भी होता है।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.