UMANG Application क्या है और कैसे है यह मददगार?

383
UMANG App

UMANG Application एक मोबाइल एप्लीकेशन है। जब से डिजिटल इंडिया अभियान शुरू हुआ है, तबसे ई-गवर्नेंस को प्रोत्साहित किया जा रहा है। उमंग एप्लीकेशन को डिजाइन करना भी इसी का एक हिस्सा है। इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय एवं राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस डिवीजन ने मिलकर उमंग एप्लिकेशन का विकास किया है। साल 2017 में नवंबर में उमंग एप्लीकेशन को जारी किया गया था। वर्तमान में 12 से भी अधिक भाषाओं में एंड्रॉयड के साथ विंडोज और आईओएस डिवाइसों के लिए भी यह एप्लीकेशन उपलब्ध है।

इस लेख में आपके लिए है:

  • उमंग ऐप का उद्देश्य क्या है?
  • उमंग ऐप क्या है?
  • UMANG App को डाउनलोड करने का तरीका
  • उमंग ऐप में रजिस्ट्रेशन का तरीका
  • UMANG Application में मिलनी वाली सेवाएं

उमंग ऐप का उद्देश्य क्या है?

  • UMANG का फुल फॉर्म Unified Mobile App for New Age Governance है। इसका उद्देश्य यह है कि भारत के नागरिकों को केंद्र सरकार के साथ राज्य सरकार की ओर से दी जाने वाली सुविधाएं तो मिलें ही, साथ ही स्थानीय निकाय और बाकी नागरिक केंद्रित निकायों की सेवाओं तक भी उनकी पहुंच हो सके।
  • अलग-अलग तरह की सेवाएं प्राप्त करने के लिए जो नागरिकों को अलग-अलग पोर्टल पर जाना पड़ता था, अब उसकी जरूरत उमंग ऐप के आने से बिल्कुल भी नहीं रह गई है। उमंग ऐप के जरिए ही ये सारी सेवाएं अब प्राप्त की जा सकती हैं।

उमंग ऐप क्या है?

  • UMANG Application को एक मंच कहना बेहतर होगा। यहां ई-गवर्नेंस के तहत सभी तरह की सेवाएं एक ही जगह पर हासिल की जा सकती हैं। कंप्यूटर तक की आवश्यकता इसके लिए नहीं पड़ती है। इसके लिए आपके पास केवल एक स्मार्टफोन होना चाहिए। इसके जरिए इन ई-गवर्नेंस सेवाओं का लाभ उठाया जा सकता है।
  • डिजिटल इंडिया की बहुत सी ऐसी सेवाएं हैं, जिन तक उमंग ऐप के माध्यम से पहुंचा जा सकता है। उदाहरण के लिए आधार और डिजिलॉकर की सुविधाओं तक उमंग ऐप के जरिए ही एक्सेस मिल सकता है।
  • उमंग ऐप की खासियत है कि यह पूरी तरीके से सुरक्षित है। इस ऐप में यदि आप सेवाएं प्राप्त करना चाहते हैं तो आपकी पहचान सुनिश्चित करने के लिए यहां कई तरीके अपनाए जाते हैं। सभी सेवाएं यहां आधार पर ही आधारित हैं। इसके अलावा प्रमाणीकरण के अन्य तरीके भी इस्तेमाल में लाए जाते हैं।
  • उमंग ऐप आसानी से उपलब्ध है। इसके लिए किसी भी सरकारी दफ्तर में जाने की आपको बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। आपको इसके लिए किसी भी अधिकारी से किसी तरह की सिफारिश करने की भी आवश्यकता नहीं रहती है। अपने स्मार्टफोन में आप गूगल प्ले स्टोर से आसानी से इस ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं। इसके बाद इसका इस्तेमाल करना भी बहुत ही आसान है।
  • सबसे बड़ी बात है कि उमंग ऐप को केवल अंग्रेजी और हिंदी में ही लॉन्च नहीं किया गया है, बल्कि दर्जन भर से भी अधिक बाकी भारतीय भाषाओं में भी इस ऐप को उपलब्ध कराया गया है।

UMANG App को डाउनलोड करने का तरीका

उमंग एप को अपने मोबाइल में डाउनलोड करना बहुत ही आसान है। यहां हम आपको इसके तरीके के बारे में बता रहे हैं।

  • उमंग ऐप को डाउनलोड करने के लिए आपको इस ऐप की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा और यहां जो क्यूआर कोड उपलब्ध है, उसे स्कैन करना पड़ेगा। इस वेबसाइट पर जाने के लिए आपको अपने वेब ब्राउज़र में https://web.umang.gov.in/web/ टाइप करना पड़ेगा।
  • उमंग ऐप को डाउनलोड करने का लिंक प्राप्त करने का एक और तरीका यह भी है कि आप 9718397183 पर मिस्ड कॉल कर दें।
  • डाउनलोड लिंक प्राप्त करने का एक और तरीका यह भी है कि आप उमंग वेबसाइट पर जाकर वहां अपना मोबाइल नंबर दर्ज करा दें। इसके बाद आपको एसएमएस के माध्यम से इसे डाउनलोड करने का लिंक प्राप्त हो जाएगा।

उमंग ऐप में रजिस्ट्रेशन का तरीका

उमंग ऐप के माध्यम से यदि आप ई-गवर्नेंस का लाभ उठाना चाहते हैं, तो इसके लिए इस ऐप में रजिस्ट्रेशन अनिवार्य होता है। एक बार आपने रजिस्ट्रेशन कर लिया तो इसके बाद आप यहां उपलब्ध सभी तरह की सेवाओं का पूरा लाभ उठा सकते हैं। उमंग ऐप में रजिस्ट्रेशन यानी कि खुद को पंजीकृत करने की प्रक्रिया ज्यादा कठिन नहीं है। यहां बताए गए स्टेप्स का अनुसरण करके आप आसानी से उमंग ऐप में रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको उमंग एप के आइकन पर उंगली से टैप करना है और इसे लॉन्च करना है। पहली बार जब आप इस ऐप को खोलेंगे तो यहां आपसे भाषा का चुनाव करने के लिए कहा जाएगा। इसे चुनने के बाद आपको बाईं और मौजूद तीन आड़ी रेखाओं पर टैप करना पड़ेगा।
  • फिर आपके सामने रजिस्टर लिखा हुआ आएगा, जिस पर आपको टैप करना है। अब आपसे मोबाइल नंबर पूछा जाएगा। इसे आपको भर देना है और फिर आगे बढ़ जाना है
  • अब मोबाइल नंबर के सत्यापन के लिए आपके फोन पर एक ओटीपी आएगा। इस ओटीपी को आपको दी गई जगह में दर्ज करना है और फिर आगे बढ़ जाना है।
  • इस तरह से उमंग ऐप पर आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा।

UMANG Application में मिलनी वाली सेवाएं

  • इस ऐप का इस्तेमाल करते हुए आप ऑनलाइन सिलेंडर बुक कर सकते हैं। रिफिल मंगा सकते हैं। कनेक्शन को सरेंडर कर सकते हैं। सब्सिडी का लाभ उठा सकते हैं। एचपी गैस, इंडेन गैस और भारत गैस पर यह लाभ मिलता है।
  • इसके जरिए आप कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की सेवाओं का भी लाभ उठा सकते हैं। दावा करने के साथ वर्तमान स्थिति को ट्रैक करना यहां संभव है।
  • उमंग ऐप के माध्यम से आप पासपोर्ट सेवा का भी लाभ उठा सकते हैं। इसके जरिए पेंशन से संबंधित सुविधाएं हासिल की जा सकती हैं।
  • सीबीएसई के छात्र परीक्षा से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
  • आयकर का भुगतान भी इसके जरिए करना संभव है।
  • किसानों द्वारा बीमा प्रीमियम की गणना के लिए भी उमंग ऐप का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • ड्राइविंग लाइसेंस से जुड़ी सेवाएं भी इस ऐप के जरिए प्राप्त की जा सकती हैं।

निष्कर्ष

UMANG Application को विकसित किए जाने से निश्चित तौर पर आम नागरिकों के हाथ में एक बहुत बड़ा हथियार आ गया है, जिसका इस्तेमाल करते हुए वे हर तरह की जरूरी सुविधाओं का लाभ अपने फोन के जरिए ही प्राप्त कर सकते हैं। इससे वे अनावश्यक भागदौड़ से भी बच जाएंगे और उनके समय की भी बर्बादी नहीं होगी।

Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.