रेल कौशल विकास योजना 2021: Rail Kaushal Vikas Yojana (RKVY)

352
Rail Kaushal Vikas Yojana
PLAYING x OF y
Track Name
00:00

00:00


देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के जन्मदिवस के अवसर पर रेलवे मंत्रालय भारत सरकार द्वारा देश के युवाओं के लिये एक रोजगार परक योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के तहत सम्पूर्ण भारत में लगभग 50 हजार युवाओं को तकनीकी रोजगार के लिये प्रशिक्षित किया जायेगा। भारतीय रेलवे मंत्रालय की इस नयी पहल का नाम है – रेल कौशल विकास योजना 2021। आज के इस लेख में हम इस योजना के विषय में महत्वपूर्ण तथ्यों की जानकारी प्राप्त करने वाले हैं। तो चलिए दोस्तों आज का लेख शुरू करते है।

जानिये रेल कौशल विकास योजना  2021 क्या है? | What is Rail Kaushal Vikas Yojana (RKVY)

रेल कौशल विकास योजना, भारत सरकार के रेलवे मंत्रालय द्वारा देश के बेरोजगार युवाओं के लिए प्रायोजित एक योजना है, जिसके माध्यम से युवा  विभिन्न व्यवसायों में तकनीकी प्रशिक्षण प्राप्त करके अपने रोजगार कौशल को बढ़ा सकेंगे। देशभर के पात्र युवाओं को रेलवे प्रशिक्षण संस्थानों में नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जा रहा है। 18-35 वर्ष की आयु सीमा के बीच कोई भी मैट्रिक उत्तीर्ण छात्र ऑनलाइन और ऑफलाइन प्रशिक्षण के लिए चयन और आवेदन कर सकता है। प्रशिक्षण सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा।

रेल कौशल विकास योजना का प्रशिक्षण कार्यक्रम  बनारस लोकोमोटिव वर्क्स द्वारा विकसित किया गया है। जिसके  तहत देश भर से चयनित अभ्यर्थियों को रेलवे के 75 प्रशिक्षण संस्थानों में 100 घंटे का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

टैग लाइन – युवा को कुशल बनाना, देश को है आगे बढ़ाना

रेल कौशल विकास योजना का मुख्य उद्देश्य | Objectives of Rail Kaushal Vikas Yojana

रेल कौशल विकास योजना का मुख्य उद्देश्य देश की पढ़ी-लिखी युवा बेरोजगार जनता में रोजगार कौशल के गुणों का विकास करके उन्हें रोजगार योग्य बनाना है। आपको पता ही होगा भारत विश्व का सबसे युवा देश है और विश्व में सबसे ज्यादा अक्रियाशील जनता भी हमारे देश में ही है। ऐसे में रेलवे मंत्रालय की यह उद्देश्य परक योजना देश के युवाओं के लिये अत्यधिक महत्वपूर्ण हो गयी है।

कैसे होगा अभ्यर्थियों का चयन? | How Will the Candidates be Selected for RKVY?

सर्वप्रथम अभ्यर्थी को ऑनलाइन या ऑफलाइन माध्यम से  रेल कौशल विकास योजना के लिये आवेदन करना होगा। इसके बाद देशभर से 10वी कक्षा के रिजल्ट के आधार पर 50 हजार युवाओं का चयन किया जायेगा।

रेल कौशल विकास योजना के लिए योग्यता | Eligibility for Rail Kaushal Vikas Yojana

रेल कौशल विकास योजना का लाभ लेने हेतु अभ्यर्थी की सबसे पहली योग्यता है कि वह भारत का नागरिक होना चाहिए। उसकी उम्र 18 -35 वर्ष  के बीच होनी चाहिए और हाई स्कूल की परीक्षा उत्तीर्ण की होनी चाहिए।

मेडिकल रूप से फिट होना आवश्यक है | Medical Fitness is Required

उम्मीदवारों को प्रशिक्षण से गुजरने के लिए चिकित्सकीय रूप से फिट होना चाहिए। उम्मीदवार को एक पंजीकृत एमबीबीएस डॉक्टर से फिटनेस प्रमाण पत्र जमा करना होगा, यह प्रमाणित करते हुए कि उम्मीदवार औद्योगिक वातावरण में प्रशिक्षण लेने के लिए फिट हैं और दृष्टि / श्रवण / मानसिक स्थिति के संबंध में फिट हैं और किसी भी संचारी रोग से पीड़ित नहीं हैं।

योजना में आवेदन हेतु जरुरी दस्तावेज | Important Documents to Apply For RKVY

  • आधार कार्ड/ वोटर आईडी कार्ड/ ड्राइविंग लाइसेंस/ राशन कार्ड/पासपोर्ट
  • निवास प्रमाण पत्र
  • 10वी मार्कशीट की स्कैनकॉपी
  • पासपोर्ट साईज स्कैन फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • Email ID

ऐसे करें योजना में आवेदन? | How to Apply For RKVY?

  • ऑनलाइन आवेदन के लिये सबसे पहले रेल कौशल विकास योजना की वेबसाइट railkvydev.indianrailways.gov.in पर जाये।
  • Apply करने से पहले योजना से जुडी सभी जानकारी को पढ़ ले।
  • होम पेज पर Apply Here पर क्लिक करें।
  • Signup के ऑप्शन पर जाये।
  • नाम, जन्मतिथि, ईमेल, पॉसवर्ड, आधार नंबर, मोबाइल नंबर आदि दर्ज करें। इसके पश्चात Signup विकल्प को क्लिक करे।
  • अब आपको कम्पलीट योर प्रोफाइल पर क्लिक करना है। अब आपको अपनी ईमेल तथा पॉसवर्ड के द्वारा लॉगिन करना है।
  • अब आपको पूछी गयी सभी जानकारी सही-सही भरनी है तथा जरुरी दस्तावेजों को अपलोड करना है।
  • इसके बाद आपको सभी जानकारी को एक बार फिर से चेक करके सबमिट बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह से आप योजना के लिये अपना आवेदन ऑनलाइन भर पाएंगे।

ऑफलाइन आवेदन| Offline Applications

इसके  लिये आपको रेल कौशल विकास योजना की वेबसाइट के होम पेज में डाउनलोड वाले विकल्प पर जाना है। यहाँ से योजना का ऑफलाइन फॉर्म डाउनलोड कर उसे सावधानी से भरे। सभी आवश्यक दस्तावेज इसके साथ में संग्लन करके सम्बंधित विभाग को भेज दें।

सुविधा की दृष्टि से बेहतर होगा की आप ऑनलाइन फॉर्म को किसी भी सीएससी केंद्र से भर लें। क्योकि कई बार आवेदन का माध्यम केवल ऑनलाइन ही माँगा जाता है।

इन तकनीकी विषयों का दिया जायेगा प्रशिक्षण | Training Fields

रेल कौशल विकास योजना के तहत इलेक्ट्रीशियन, फिटर, मशीनिस्ट, वेल्डर आदि विषयों पर 100 घंटो का एक नियमित प्रशिक्षण दिया जायेगा। इस दौरान अभ्यर्थियों को कोर्स समाप्ति पर संस्था द्वारा उपरोक्त विषयों पर प्रमाण पत्र भी जारी किये जायेंगे। आने वाले समय में इस योजना के अंतरगर्त सिग्नलिंग , कंक्रीट मिक्सिंग, इंस्ट्रूमेंटेशन, रॉड वेल्डिंग, कंक्रीट टेस्टिंग तथा इलेक्टॉनिक कार्ड रिप्लेसमेंट जैसे विषय भी जोड़े जायेंगे।

योजना से जुड़े महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश | Important Guidelines Related to the Scheme

  • रेल कौशल विकास योजना की अधिसूचना समाचार पत्रों और वेबसाइट पर जारी की जाती है। पंजीकृत उम्मीदवारों को ईमेल के माध्यम से भी सूचित किया जाएगा।
  • रेल कौशल विकास योजना भारतीय रेल मंत्रालय और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के तहत कौशल वृद्धि प्रशिक्षण कार्यक्रमका हिस्सा है।
  • ऑनलाइन आवेदन पत्र भरना शुरू करने से पहले कृपया निर्देशों, प्रक्रियाओं और सूचनाओं को ध्यान से पढ़ ले।
  • आवेदन आवश्यक दस्तावेजों के साथ निर्धारित प्रारूप में प्रस्तुत किया जाना आवश्यक है।
  • रेल कौशल विकास योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करने वाला कोई भी उम्मीदवार इस तरह के प्रशिक्षण के आधार पर रेलवे में रोजगार पाने का कोई दावा नहीं कर सकता है।
  • प्रशिक्षण के दौरान रेलवे द्वारा अभ्यर्थी को किसी भी प्रकार का मानदेय नहीं दिया जायेगा , अपितु अभ्यर्थी को अपने रहने और खाने की व्यवस्था खुद करनी होगी।
  • इस योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त अभ्यर्थी को किसी भी प्रकार का आरक्षण नहीं दिया जायेगा और न ही भविष्य में वह किसी जॉब के लिये इस प्रशिक्षण के आधार पर आरक्षण लाभ की मांग कर सकता है।
  • एक अभ्यर्थी को केवल एक ट्रेड में और केवल एक बार प्रशिक्षण लेने की अनुमति होगी। किसी भी अभ्यर्थीको कोई दोहराव वाले पाठ्यक्रम की अनुमति नहीं दी जाएगी ताकि अन्य उम्मीदवारों को भी मौका मिल सके।
  • प्रशिक्षण पूरा होने के बाद एक परीक्षा होगी और केवल सफल उम्मीदवारों को प्रमाण पत्र जारी किए जाएंगे।
  • जो उम्मीदवार प्रशिक्षण लेने के इच्छुक हैं उन्हें वेबसाइट पर पंजीकरण (साइन अप) करना होगा और समय-समय पर सूचना बुलेटिन और आरकेवीवाई वेबसाइट पर दिए गए निर्देशों का पालन करना होगा।

चलते चलते

रेल कौशल विकास योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना PMKVY 1.0 का ही एक भाग है। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना को साल 2015 में  प्रारम्भ किया गया था। जिसका लक्ष्य 24 लाख युवाओं को प्रशिक्षित करना था। साल 2016 से 2020 के लिये PMKVY 2.0 को प्रारम्भ किया गया था, जिसका लक्ष्य 10 मिलियन युवाओं को प्रशिक्षित करना था। साल 2021 में PMKVY 3.0 को फिर से प्रारम्भ किया गया है। इस बार इसका लक्ष्य 300 रोजगारपरक प्रशिक्षण के जरिये 8 लाख युवाओं को प्रशिक्षित करना है। रेल कौशल विकास योजना PMKVY 3.0 को ही संदर्भित करती है। हम आशा करते हैं की रेलवे मंत्रालय की यह योजना अपने लक्ष्य को प्राप्त करे और अधिक से अधिक युवाओं तक इसका लाभ पहुंच पाए। इसी के साथ हम आज का लेख यहीं समाप्त करते हैं। जय हिन्द !

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.