What is STREET Project by Kerala Tourism?

500
STREET Project by Kerala Tourism

PLAYING x OF y
Track Name
00:00

00:00


भारत देश सांस्कृतिक और प्राकृतिक संसाधनों से समृद्ध और विविधता से परिपूर्ण है। इसी के दर्शन सबको हो सकें इस विज़न के साथ केरल राज्य ने एक बेहतरीन परियोजना शुरू की है जिसका नाम है “स्ट्रीट प्रोजेक्ट।” पर्यटन के क्षेत्र में यह एक नया कदम है और अगर आप भी घूमने के शौकीन हैं तो राज्य सरकार का यह कदम आपको पसंद आ सकता है। किसी राज्य को गहराई से कैसे प्रदर्शित करना है, यह स्ट्रीट योजना सिखाती है। आइये अब इस योजना के बारे में विस्तार से जानते हैं –

केरल पर्यटन की स्ट्रीट परियोजना क्या है? | What is STREET Project by Kerala Tourism?

केरल पर्यटन द्वारा एक बहुत ही अनोखी पहल शुरू की गई है। इस परियोजना के पीछे राज्य का विचार बहुत अच्छा है क्योंकि जो अंदरूनी इलाके या भीतरी जिले पर्यटकों की दृष्टि से रह जाते थे, वो अब नज़र में आएंगे। केरल राज्य के सात जिलों में कुछ चुने हुए स्थानों पर यह परियोजना शुरू की जाएगी ताकि पर्यटन को गहराई तक ले जया जा सके और बाहरी लोगों को यहाँ की सांस्कृतिक और प्रकृतिक सुंदरता के दर्शन हो सकें। आपके मन में सवाल यह भी आ रहा होगा कि आखिर स्ट्रीट का क्या अर्थ हुआ, यह कैसा नाम हुआ? तो आपके इस प्रश्न का उत्तर भी है हमारे पास। “STREET का मतलब कुछ इस प्रकार है – Sustainable, Tangible, Responsible, Experiential, Ethnic, Tourism hubs।” अगर आप इसके नाम को ध्यान से देखेंगे तो एक-एक शब्द ही बहुत कहता है जो आपको पूरी परियोजना समझा देगा।

क्या हैं स्ट्रीट परियोजना के विषय? | What are the subjects of STREET Project?

हर परियोजना किसी न किसी विषय या थीम के साथ ही शुरू होती है। इस योजना के लिए भी कुछ मुख्य विषयों को सबसे ऊपर रखा गया है जैसे कि ग्रीन स्ट्रीट, विलेज लाइफ एक्सपिरियन्स स्ट्रीट, वॉटर स्ट्रीट, एक्सपेरिमेंटल टूरिज़्म स्ट्रीट, एग्री-टूरिज़्म स्ट्रीट, कल्चरल स्ट्रीट और आर्ट स्ट्रीट। इन्हीं विषयों को प्राथमिकता पर रखा जाएगा। किस जगह की क्या विशेषता है और क्या आकर्षण केंद्र है इस बात को ध्यान में रखते हुए चुने हुए स्थानों की गलियों को बनाया जाएगा। यह जगह कैसे पर्यटन को बढ़ावा देंगी, इस बात पर अधिक गौर किया जा रहा है।

किस उद्देश्य के साथ शुरू हुई है स्ट्रीट परियोजना? | With what purpose has the STREET Project started?

दोस्तों, अब बात करते हैं इस परियोजना के उद्देश्य की तो तो आपको बता दें कि केरल राज्य की विशिष्ट पहचान को देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर के सामने प्रस्तुत करना इसका उद्देश्य है। ऐसा विचार है कि इस परियोजना से पर्यटन के क्षेत्र में विकास की संभावनाओं को भी नई राह मिलेगी। केरल राज्य में जब पर्यटन बढ़ेगा तो ज़ाहिर सी बात है सामान्य जीवन पर भी इसका असर दिखाई देगा। आमदनी बढ़ेगी, संसाधन बढ़ेंगे और साथ ही आम जनता को सांस्कृतिक एवं आर्थिक रूप से लाभ मिलेगा। समाज के साथ पारस्परिक संबंध भी स्थापित कर पाएगा केरल राज्य।

स्ट्रीट परियोजना में कौन से स्थान हैं शामिल? | Which locations are involved in STREET Project?

अभी यह स्ट्रीट परियोजना अपने पहले चरण में है और इस चरण में जिन स्थानों को शामिल किया जा रहा है वो हैं – इडुक्की में केंथलूर, कोट्टायम में मरवंथुरुथु, पलक्कड़ में त्रिथला और पट्टीथारा, कासरगोडी में वलियापरम्बा, कन्नूरी में पिनाराई और अंचारक्कन्डी, वायनाड में चेकाडी और कोझिकोड में कदलुंडी। जब पर्यटक इन स्थानों पर आएँगे तो यहाँ पर कितनी ज़्यादा विविधता मौजूद है इस बात की जानकारी उन्हें मिलेगी और साथ ही वो एस बहत खूबसूरत अनुभव अपने साथ ले जाएंगे।

यदि आपको यह जानकारी पसंद आई है तो ऐसे ही लेख पढ़ते रहने के लिए जुड़े रहिए हमारे साथ। हमारा उद्देश्य है कि अधिक से अधिक लोगों को इस परियोजना के बारे में जागरूक कर सकें। आपके मन में अगर अभी भी कोई शंका अथवा प्रश्न है तो बेझिझक कमेंट बॉक्स में लिखकर अपनी जिज्ञासा को शांत कीजिए। और जब कभी मौका मिले तो केरल की एक ट्रिप ज़रूर कर लीजिए क्योंकि भारत में देखने के लिए बहुत खूबसूरती है।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.