Hema Malini: सिनेमाई दुनिया की ‘ड्रीम गर्ल’ जिसने तय किया है अप्रतिम सफर

185
Hema Malini jeevan parichay

साल 1975 में निर्माता गोपाल दास सिप्पी की फिल्म ‘शोले’ में जब ये डायलॉग अमिताभ बच्चन ने बोला था कि ‘तुम्हारा नाम क्या है बसंती’ तो उस टाँगे को जो अभिनेत्री खींच रही थी। उसकी अदाकारी ने दर्शकों के दिलों में बसंती को हमेशा के लिए जीवित कर दिया था।

आज आपको शोले फिर याद आ रही होगी क्योंकि आज यानी 16 अक्टूबर को बसंती का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री हेमा मालिनी (Hema Malini) का जन्मदिन है।

नृत्यांगना के रूप में अपने सफर की शुरुआत फिर अभिनय में कदम रखा और लाखों दिलों में राज करने के बाद फिल्म निर्देशिका होते हुए राजनेता बनने तक का सफर हेमा मालिनी ने तय किया है।

आपको बता दें कि 16 अक्टूबर 1948 को Hema Malini का जन्म अम्मनकुड़ी, मद्रास, (वर्तमान तमिलनाडु) में हुआ था। अगर आपको लगता हो कि हेमा मालिनी ने हिंदी फिल्म से ही अपने अभिनय की करियर की शुरुआत की थी। तो आप गलत हैं।

आपको बता दें कि हेमा मालिनी ने फिल्मों में शुरुआत तमिल फिल्म से की थी। फिल्म का नाम था Idhu Sathiyam ये साल 1963 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म में उन्होंने सपोर्टिंग एक्ट्रेस का किरदार निभाया था।

साल 1968 में हेमा मालिनी की पहली हिंदी फिल्म आई थी। उसका नाम ‘सपनों का सौदागर’ था।

इस लेख के मुख्य बिंदु-

  • हेमा मालिनी की शिक्षा
  • जब पहली फिल्म से निकाला गया था हेमा मालिनी को
  • राजकपूर ने की थी हेमा मालिनी (Hema Malini) के सुपरस्टार बनने की भविष्यवाणी
  • हेमा मालिनी (Hema Malini) को ऐसे मिला था ‘ड्रीम गर्ल’ का तमगा
  • 2 मई 1980 को अयंगर रीति-रिवाज़ से हुई थी धर्मेंद्र-हेमा की शादी
  • सरांश

हेमा मालिनी की शिक्षा

Hema Malini भी उन्ही  शख्सियतों में शुमार हैं जिन्होंने अदाकारी के लिए अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी थी। बता दें कि अभिनय के लिए हेमा मालिनी ने अपनी शिक्षा को 12वीं के बीच में ही छोड़ दिया था।

  • हेमा मालिनी ने अपनी शुरूआती शिक्षा आंध्र महिला सभा से की थी।
  • इसके बाद इन्होने दिल्ली तमिल एजुकेशन एसोसिएशन से आगे की पढ़ाई की थी।

Hema Malini के ऊपर अधिकृत बायोग्राफी (Biography) भी है जिसका नाम ‘Beyond The Dream Girl’ है। अब हम आपको इस बायोग्राफी के मुख्य अंश बताने जा रहे हैं। जो कि काफी दिलचस्प भी हैं।  इस किताब में हेमा मालिनी के जीवन के कई दिलचस्प किस्से हैं।

जब पहली फिल्म से निकाला गया था हेमा मालिनी को

ये किस्सा हेमा मालिनी की बायोग्राफी में दर्ज है कि तब के मशहूर साउथ के निर्माता सीवी श्रीधर हेमा मालिनी को जयललिता के साथ एक फिल्म में लेना चाहते थे। सब कुछ तय भी हो गया था। लेकिन फाइनल कास्टिंग के समय उन्होंने हेमा मालिनी का नाम फिल्म से हटा दिया था। इसके पीछे उन्होंने वजह बताई थी कि हेमा मालिनी  में स्टार और कलाकार बनने की क्षमता नहीं है। इस बात से हेमा मालिनी को काफी ज्यादा दुख भी हुआ था।

राजकपूर ने की थी Hema Malini के सुपरस्टार बनने की भविष्यवाणी

निर्माता सीवी श्रीधर के मना करने के बाद हेमा मालिनी किसी भी तरह एक फिल्म करना चाहती थीं। उस दौर के सुपरस्टार राज कपूर को भी अपनी फिल्म के लिए एक साउथ एक्ट्रेस की तलाश थी।

  • राज कपूर तब डायरेक्टर के। सुब्रमण्यम के घर गये और बोले कि क्या आपकी बेटी क्लासिकल डांसर पद्मा सुब्रमण्यम हमारी फिल्म में काम कर सकती हैं?
  • पद्मा सुब्रमण्यम फिल्मों में काम नहीं करना चाहती थीं। उन्होंने पहले ही एमजीआर और सत्यजीत रे जैसे निर्देशकों को मना कर दिया था। फिर के। सुब्रमण्यम ने हेमा मालिनी का नाम सुझाया था।
  • इसके बाद राज कपूर ने हेमा मालिनी के क्राफ्ट के ऊपर रिसर्च की, उन्हें ये भी पता चला कि इन्हें एक फिल्म से निकाला जा चुका है।
  • तब निर्देशक के। सुब्रमण्यम ने कहा था कि अगर हेमा ने फिल्म में शानदार काम नहीं किया तो मैं अपने नाम के आगे से डायरेक्टर लगाना बंद कर दूंगा।
  • इसके बाद राज कपूर ने अपनी आने वाली फिल्म ‘सपनों का सौदागर’ के लिए Hema Malini  का चयन कर लिया था।
  • इसके बाद हेमा मालिनी को स्क्रीन टेस्ट के लिए बुलाया गया, वहां मशहूर डायरेक्टर के।आसिफ और म्यूज़िक डायरेक्टर शंकर भी मौजूद थे।
  • उस स्क्रीन टेस्ट को देखने के बाद राज कपूर ने सबके सामने भविष्यवाणी की थी कि ये लड़की फिल्म इंडस्ट्री की अगली सुपरस्टार बनेगी।

Hema Malini को ऐसे मिला था ‘ड्रीम गर्ल’ का तमगा

ये किस्सा भी हेमा की पहली फिल्म ‘सपनों के सौदागर’ का ही है। बात कुछ ऐसी है कि उस फिल्म को सेंसेशन्लाइज़ करने के निर्माता वन लाइनर्स की तलाश कर रहे थे। तब उस फिल्म के प्रोड्यूसर अनंतस्वामी को एक आईडिया आया। उन्होंने फिल्म के पोस्टर में हेमा मालिनी की तस्वीर के नीचे ‘राज कपूर्स ड्रीम गर्ल’ लिखवा दिया था।

  • इसके बाद क्या था? फिल्म सिनेमाघरों में रिलीज हुई और इस फिल्म की रिलीज के बाद से ही दर्शक और मीडिया हेमा मालिनी को ‘ड्रीम गर्ल’ के नाम से बुलाने लगी थी।
  • ये स्टंट हेमा मालिनी के लिए काफी फायदेमंद साबित हुआ था। इस फिल्म के बाद हेमा मालिनी को काफी ज्यादा फ़िल्में मिली थी।

 2 मई 1980 को अयंगर रीति-रिवाज़ से हुई थी धर्मेंद्र-हेमा की शादी

धर्मेंद्र-हेमा की जोड़ी ने बड़े पर्दे पर एक जादू बिखेरा था। उसी तरह दिलचस्प उनकी प्रेम कहानी भी रही है। आपको बता दें कि 2 मई 1980 को धर्मेंद्र-हेमा ने अयंगर रीति-रिवाज़ से गुपचुप शादी कर ली थी।

  • इसके साथ ही आपको अवगत करा दें कि 1970 से 2011 तक में धर्मेंद्र और हेमा ने 33 फिल्मों में साथ काम किया है। जिनमें शोले, जुगनू, चरस, प्रतिज्ञा, सीता और गीता जैसी अप्रतिम फ़िल्में शामिल हैं।
  • 24 जुलाई 1970 को दोनों की साथ में पहली फिल्म रिलीज हुई थी। फिल्म का नाम ‘तुम हसीन मैं जवां’ था।

सरांश

मौजूदा दौर में मथुरा से भारतीय जनता पार्टी से सांसद हेमा मालिनी कई पीढ़ियों के लिए एक मिसाल की तरह हैं। आज के दौर में जब कोई बोले कि लड़कियाँ क्या ही कर सकती हैं? तो उन्हें एक बार हेमा मालिनी के जीवन को ज़रूर पढ़ लेना चाहिए। हिंदी सिनेमा की इस अप्रतिम अदाकारा फिल्मों के साथ-साथ सामजिक दुनिया में भी सराहनीय योगदान दिया है।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.