Union Budget 2021: सरल शब्दों में समझें पूरा सार

832
Union Budget 2021

Union Budget 2021 को आखिरकार वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश कर दिया गया है। यह तीसरा मौका था, जब निर्मला सीतारमण ने केंद्रीय बजट पेश किया। यह बजट इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि इसे कोरोना काल में पेश किया गया है। यहां हम आपसे केंद्रीय बजट से जुड़ी हर वह जानकारी साझा कर रहे हैं, जिनका आपसे प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से सरोकार जरूर है।

पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना

  • वित्त मंत्री ने 64 हजार 180 करोड रुपए के परिव्यय के साथ 6 वर्षों के लिए पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना को लांच किए जाने की घोषणा की है।
  • 11 राज्यों के सभी जिलों में एकीकृत लोक स्वास्थ्य प्रयोगशालाओं के साथ 3 हजार 382 ब्लॉक लोक स्वास्थ्य इकाइयां स्थापित की जाएंगी। साथ ही 602 जिलों एवं 12 केंद्रीय संस्थानों में क्रिटिकल केयर हॉस्पिटल ब्लॉक भी स्थापित किए जाने की घोषणा बजट में की गई है।

संपूरक पोषण कार्यक्रम और पोषण अभियान

  • वित्त मंत्री ने संपूरक पोषण कार्यक्रम और पोषण अभियान का विलय करके मिशन पोषण 2.0 शुरू करने का ऐलान किया है। पोषणगत परिणामों में सुधार लाने के उद्देश्य से 112 जिलों में एक सुदृढीकृत कार्यनीति अपनाई जाएगी।
  • जल जीवन मिशन का विस्तार शहरी इलाकों में किया जाएगा। 500 शहरों में इसके तहत तरल अपशिष्ट प्रबंधन की व्यवस्था की जाएगी। अगले 5 वर्षों में इस पर 2 लाख 87 हजार रुपये का परिव्यय होगा।
  • Budget 2021 में वित्त मंत्री ने बताया है कि 1 लाख 41 हजार 678 करोड़ रुपए के वित्तीय आवंटन से वर्ष 2021 से 2026 के दौरान 5 वर्षों में स्वच्छ भारत मिशन 2.0 का कार्यान्वयन किया जाएगा।

प्रदूषण की समस्या से निबटने के लिए

  • वायु प्रदूषण की समस्या जिस तरह से विकराल रूप लेती जा रही है, इसे देखते हुए वित्त मंत्री ने बजट में 1 मिलियन से ज्यादा की जनसंख्या वाले 42 शहरी केंद्रों के लिए 2 हजार 217 करोड़ रुपए की राशि मुहैया कराने की बात कही है।
  • वाहन प्रदूषण और तेल आयात बिल को कम करने के उद्देश्य स्वैच्छिक वाहन स्क्रैपिंग नीति का भी ऐलान किया गया है।

न्यूमोकोल वैक्सीन अब पूरे देश में

  • वित्त मंत्री ने ऐलान किया है कि भारत में निर्मित न्यूमोकोल वैक्सीन, जो कि अभी तक केवल 5 राज्यों तक ही सीमित है, पूरे देश में अब इसे लागू करके 50 हजार से भी ज्यादा बच्चों को मौत के मुंह में जाने से बचाया जाएगा।
  • Union Budget 2021 में जैसा कि उम्मीद की जा रही थी, वर्ष 2021-22 में कोविड-19 वैक्सीन के लिए 35 हजार करोड़ रुपये प्रदान करने का ऐलान वित्त मंत्री ने किया है।

टैक्सटाइल पार्क की स्थापना

  • केंद्रीय बजट 2021 में वित्त मंत्री ने 3 वर्षों की अवधि में 7 टैक्सटाइल पार्क स्थापित किए जाने की घोषणा की है। तमिलनाडु में 1.03 लाख करोड़ रुपए के निवेश से 3500 किलोमीटर लंबे राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण की घोषणा वित्त मंत्री ने की है, जिसमें मदुरई-कोल्लम कॉरिडोर और चित्तूर-थैयचूर कॉरिडोर भी शामिल हैं।

मुंबई-कन्याकुमारी कॉरिडोर

  • इसके अलावा 65 हजार करोड़ रुपये के निवेश से केरल में 1100 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण और 600 किलोमीटर लंबे मुंबई-कन्याकुमारी कॉरिडोर की भी घोषणा की गई है।
  • बजट 2021 में पश्चिम बंगाल में 25 हजार करोड़ रुपए की लागत से 675 किलोमीटर लंबे राजमार्ग के भी निर्माण का ऐलान किया गया है।

सुरक्षित रेलवे तंत्र के लिए

  • भविष्य के लिए सुरक्षित रेलवे तंत्र के सृजन के लिए केंद्रीय बजट में एक राष्ट्रीय रेल योजना 2030 को भी तैयार किए जाने का जिक्र किया गया है। ब्रॉड गेज रूटों के 100 प्रतिशत विद्युतीकरण के दिसंबर 2023 तक पूरा किए जाने की बात वित्त मंत्री ने की है।
  • वित्त मंत्री ने रेलवे के लिए 1 लाख 10 हजार 55 करोड़ रूपए की राशि प्रदान की है, जिसमें से 1लाख 7 हजार 100 करोड़ रुपये पूंजीगत व्यय के लिए है।
  • Union Budget 2021 में वित्त मंत्री ने वर्ष 2021-22 में एक हाइड्रोजन एनर्जी मिशन शुरू करने की घोषणा की है, जिससे कि ग्रीन पावर स्रोतों से हाइड्रोजन पैदा किया जाएगा।

मॉडर्न एग्रीकल्चर लैंड एक्ट को लागू करवाने के लिए

  • Budget 2021 में वित्त मंत्री ने किसानों के लिए 16 सूत्रीय फार्मूले की घोषणा की है। साथ ही मॉडर्न एग्रीकल्चर लैंड एक्ट को सभी राज्य सरकारों द्वारा लागू करवाने एवं पानी की व्यवस्था के लिए 100 जिलों में योजनाएं शुरू करने का भी ऐलान किया है।
  • वित्त मंत्री ने 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के प्रति प्रतिबद्धता जताते हुए कहा कि आर्थिक विकास, उम्मीदों का भारत और केयरिंग सोसायटी, इन तीन बिंदुओं पर इस बजट में फोकस किया गया है।

धन्य लक्ष्मी योजना

  • केंद्रीय बजट 2021 में महिला किसानों के लिए वित्त मंत्री की तरफ से धन्य लक्ष्मी योजना की घोषणा की गई है, जिसके अंतर्गत बीज से जुड़ी जो योजनाओं में अब महिलाओं को भी शामिल किया जाएगा।
  • जैविक खेती के जरिए ऑनलाइन मार्केट को बढ़ाने की और वर्ष 2021 तक के लिए किसान क्रेडिट कार्ड योजना को बढ़ाने की भी बात वित्त मंत्री ने की है। वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में कहा कि कृषि उड़ान योजना शुरू की जाने वाली है।

मनरेगा में जुड़ेंगे चारागाह

  • किसानों के लिए पीपीपी मॉडल के अंतर्गत एक विशेष ट्रेन भी चलाई जाएगी। साथ ही दूध का उत्पादन दोगुना करने के लिए भी सरकार योजना चलाने वाली है।
  • मनरेगा के अंतर्गत चारागाहों को जोड़े जाने और ब्लू इकोनामी के माध्यम से मछली पालन को बढ़ावा देने के साथ दीनदयाल योजना के अंतर्गत किसानों को दी जाने वाली मदद को भी बढ़ाने की घोषणा वित्त मंत्री ने अपने बजट में की है।

टीबी के खिलाफ मुहिम

  • आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 112 जिलों में अस्पतालों की संख्या बढ़ाने एवं इंद्रधनुष मिशन को बढ़ाने के साथ टीबी के खिलाफ मुहिम शुरू करने का भी ऐलान वित्त मंत्री ने बजट में किया है।
  • Union Budget 2021 में भारत मिशन के अंतर्गत इस वर्ष के लिए 12 हजार 300 करोड़ रुपए का ऐलान किया गया है। साथ में पीएम जन औषधि योजना के अंतर्गत केंद्रों की संख्या बढ़ाने और स्वास्थ्य योजनाओं के लिए करीब 69 हजार करोड़ रुपये की घोषणा भी की गई है।

नई शिक्षा नीति जल्द

  • नई शिक्षा नीति जल्द घोषित किए जाने के बारे में वित्त मंत्री ने बताया है और 99 हजार 300 करोड़ के बजट का ऐलान शिक्षा के लिए किया है। वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में यह बताया कि अस्पतालों में मेडिकल कॉलेज बनाने की योजना पर काम बहुत जल्द शुरू होगा।

100 लाख करोड़ का निवेश

  • सभी जिलों में एक्सपोर्ट हब बनाने की योजना शुरू की जाने वाली है और 100 लाख करोड़ अगले 5 वर्षों में निवेश किए जाने का सरकार का लक्ष्य भी है।
  • बजट में तेजस जैसे ट्रेनों की संख्या बढ़ाने और 148 किलोमीटर बेंगलुरु उपनगरीय ट्रेन सिस्टम बनाने की भी घोषणा की गई है।

वरिष्ठ नागरिकों को राहत

  • जिनकी उम्र 75 साल से अधिक हो गई है, उन्हें आयकर रिटर्न से बजट में आजादी दे दी गई है। हालांकि, शर्त यह रखी गई है कि उनकी कमाई सिर्फ पेंशन और ब्याज के इनकम से होनी चाहिए। साथ ही उनका टीडीएस काटकर बैंक जमा कर रहे हों।
  • बजट में डिजिटल ट्रांजैक्शन करने पर छूट प्रदान कर दी गई है। साथ ही इसमें कहा गया है कि 10 करोड़ तक का टर्नओवर यदि होता है, तो इसमें 95 फ़ीसदी डिजिटल ट्रांजैक्शन ही रहेगा। इससे पहले यह छूट 5 करोड़ तक के टर्नओवर पर ही थी।

एयर इंडिया को बेचने का ऐलान

  • बजट 2021 में वित्त मंत्री ने वर्ष 2021-22 के दौरान एयर इंडिया को बेचने की घोषणा की है। यही नहीं, सरकार कॉनकोर, बीपीसीएल और एससीआई में भी अपनी हिस्सेदारी बेचने जा रही है।
  • सौर उत्पाद, इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स, मोबाइल चार्जर, एसी, शराब, जवाहरात, एलईडी बल्ब और ऑटो पार्ट्स आदि महंगे होने जा रहे हैं। वहीं, स्टील, सोना, चांदी, कपड़े, लोहा और प्लैटिनम पहले से सस्ते हो जाएंगे।

बैंक के डूबने पर

  • यूनियन बजट 2021 में यह प्रावधान भी किया गया है कि बैंक यदि डूबते हैं तो वैसे में बैंक में 5 लाख रुपये तक की जमा राशि सुरक्षित रहेगी। इससे पहले यह राशि 1 लाख रुपये की थी।
  • साथ ही एक साल में ढाई लाख रुपये से ज्यादा प्रोविडेंट फंड यदि जमा किया जाता है, तो इस पर जो ब्याज मिलेगा, वह अब टैक्स के दायरे में आ जाएगा।

कृषि सेस

  • Budget 2021 में सरकार की तरफ से डीजल पर 4 रुपये और पेट्रोल पर ढाई रुपये कृषि सेस भी लगाया गया है। इसके बारे में वित्त मंत्री ने यह स्पष्ट किया है कि आम लोगों के लिए तेल की कीमतों पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है।
  • बजट में वित्त मंत्री ने इस वर्ष एलआईसी का आईपीओ मार्केट में भी लाने का ऐलान कर दिया है।

चलते-चलते

Union Budget 2021 को देखकर तो यही प्रतीत हो रहा है कि कोरोना महामारी की वजह से देश की अर्थव्यवस्था को जितने बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचा है, इसकी भरपाई के लिए सरकार ने हरसंभव कदम उठाने की कोशिश की है। संभव है कि आने वाले वक्त में बजट से मिलने वाले लाभ दृष्टिगोचर भी होने लगें।

Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.