बैंक इंटरव्यू में पूछे जाते हैं ये सवाल

1950

युवा वर्ग के लिए बैंक में नौकरी करना हमेशा से ही लुभावना स्वप्न रहा  है। भारत के स्वतंत्र होने के कुछ वर्षों तक तो केवल स्नातक होना ही एकमात्र योग्यता मानी जाती थी, इस नौकरी के लिए। लेकिन बैंकिंग भर्ती बोर्ड की स्थापना के बाद बैंकिंग क्षेत्र में किसी भी पद पर नौकरी करने के लिए लिखित और मौखिक परीक्षा जिसे इंटरव्यू या साक्षात्रकार भी कहा जाता है पास करना अनिवार्य हो गया। बहुत से युवा लिखित परीक्षा तो अपने ज्ञान के बल बूते पर पास कर लेते हैं, लेकिन साक्षात्कार पास करना कठिन हो जाता है। ऐसे में आपको मालूम होना चाहिए की बैंक के साक्षात्कार, अन्य नौकरियों से किस प्रकार भिन्न हैं ?

बैंको के इंटरव्यू में क्या होता है :

बैंक में इंटरव्यू लेते समय अधिकारी गण परीक्षार्थी के प्रयोगिक ज्ञान और व्यावहारिकता की जांच करते हैं। दरअसल बैंक एक जनसेवा संस्थान के रूप में देखे जाते हैं जहां समाज के विभिन्न आयस्तरों और सामाजिक रूपों से कस्टमर आते हैं। एक बैंक कर्मी के रूप में युवा इन विभिन्न रूपों और स्तरों वाले कस्टमरों के साथ किस प्रकार सफलतापूर्वक व्यवहार कर सकते हैं, इसकी जांच ही इंटरव्यू के माध्यम से की जाती है। इसलिए इंटरव्यू में पूछे जाने वाले सारे प्रश्न इसी मानसिकता को ध्यान में रखकर पूछे जाते हैं

  1. बैंकिंग व्यवसाय ही क्यूँ :

सबसे पहला पूछे जाने वाले इस प्रश्न के द्वारा अभ्यर्थी का बैंकिंग क्षेत्र में रुचि और ज्ञान का स्तर आँका जाता है। इसलिए इस प्रकार के प्रश्न का उत्तर सीधा, सच्चा और सरल होना चाहिए।

  1. इसी बैंक में रुचि क्यूँ है:

इस प्रश्न के माध्यम से यह जाना जाता है की आपकी इस विशेष बैंक के बारे में कितनी जानकारी है और आप इस बैंक को दूसरे बैंकों से अलग किस प्रकार मानते हैं।

  1. हम आपका इस पद पर चयन क्यूँ करें :

यह प्रश्न आपकी उस विशेष योग्यता के बारे में जानने के लिए किया जाता है जो उस पद के अनुरूप हो जिसके लिए आप इंटरव्यू देने आ रहे हैं।

  1. बौद्धिक क्षमता आँकने के लिए :

प्रश्नकर्ता कुछ प्रश्नों को घूमा-फिरा कर पूछते हैं जिससे आपकी सहनशीलता, विवेकशीलता और बौद्धिक ज्ञान का सही परीक्षण हो सके। इस प्रकार बैंक में विभिन्न प्रकार के ग्राहकों द्वारा पूछे जाने वाले इसी तरह के प्रश्नों में आपका व्यवहार किस प्रकार का होगा, इसकी भी जांच हो जाती है।

  1. वर्तमान बाज़ार ज्ञान :

बैंकिंग व्यवस्था पर अर्थव्यवस्था और बाजार व्यवस्था का सीधा प्रभाव पड़ता है, इसलिए बैंक इंटरव्यू की तैयारी करते समय इस पहलू को भी ध्यान में रखें।

  1. गत अनुभव संबंधी प्रश्न:

यदि आपने पहले किसी प्रकार का कोई काम किया है तो वहाँ का अनुभव, ज्ञान और नौकरी छोड़ने का कारण जानना बहुत जरूरी होता है।

  1. बैंक खातों और बचत योजनाओं संबंधी प्रश्न:

सामान्य ज्ञान के रूप में आपकी बैंकिंग खातों और बचत योजनाओं के बारे में कितनी जानकारी है, यह भी देखा जाता है।

  1. समाज और संस्कृति संबंधी प्रश्न :

आप अपने समाज और संस्कृति की कितनी समझ रखते हैं, इन प्रश्नों के माध्यम से यह देखा जाता है।

आपकी सुविधा के लिए कुछ प्रश्नों के उदाहरण इस प्रकार हैं:

  1. आप बैंकिंग क्षेत्र की ओर किस कारण से आए हैं ?
  2. यदि आप बैंक में नहीं होते तो क्या कर रहे होते ?
  3. समाज में हमारे बैंक की क्या विशेषता है ?
  4. हमारे सीईओ कौन हैं?
  5. अगले छह महीने में ब्याज दर क्या हो सकतीं हैं ?
  6. आपने पिछले नौकरी क्यूँ छोड़ि ?
  7. वर्किंग कैपिटल क्या होती है?
  8. आप किसी व्यक्ति की विश्वसनीयता की जांच किस प्रकार करेंगे?
  9. आपने आखरी किताब कब और कौन सी पढ़ी थी?

 

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.