क्या हैं NEFT व RTGS? कैसे करें इनका इस्तेमाल?

145
What is NEFT and RTGS

क्या आप एक बैंक से दूसरे बैंक में रुपयो का लेन-देन करते हैं व क्या आपको NEFT व RTGS के बारे में, जानते हैं यदि आपका जबाव ना में, हैं तो हम, आपको अपने इस लेख में, NEFT व RTGS तकनीको की पूरी जानकारी विस्तार से प्रदान करेंगे क्योंकि दोनो का उपयोग अलग-अलग तरीको से एक बैंक से दूसरे बैंक में, रुपयो का लेन –देन करने के लिए ही किया जाता हैं इसलिए यदि आप भी एक बैंक से दूसरे बैंक में, रुपयो का लेन-देन करते हैं तो आपको हमारे आज के लेख में, NEFT व RTGS की पूरी जानकारी प्राप्त करें ताकि आप अगली बार रुपयो का लेन-देन करने के लिए इन लाभकारी तकनीको अर्थात् NEFT व RTGS का सफल प्रयोग कर सकें।  

यह भी जाने – क्या है ATM? कैसे काम करता है ATM?

क्या होता है NEFT? (What is NEFT?)

यदि आप भी बैंक-टू-बैंक पैसा ट्रांसफर करते हैं तो आप NEFT के बारे में, जानते ही होंगे यदि नहीं जानते हैं तो हम, आपको NEFT की पूरी जानकारी कुछ बिंदुओ की मदद से प्रदान करेंगे जो कि, इस प्रकार से हैं-

  • NEFT का हिन्दी व अंग्रेजी में, पूर्ण रुप क्या है?

NEFT का हिन्दी में, पूर्ण रुप होता हैं ’’ राष्ट्रीय विघुत भुगतान प्रणाली ’’ कहते है और अंग्रेजी में, ’’ National Electronic Fund Transfer ’’ कहते हैं।

  • NEFT क्या है? (What is NEFT?)

NEFT अर्थात् National Electronic Fund Transfer एक ऐसी प्रक्रिया हैं जिसकी मदद से आप किसी भी बैंक से किसी भी बैंक में या किसी भी बैंक शाखा से किसी भी बैंक खाशा में, पैसा ट्रासंफर कर सकते हैं लेकिन इस सेवा का लाभ लेने के लिए हमारे ग्राहको को उन सभी बैंको का चयन करना होगा जो कि, NEFT की सेवा प्रदान करते हैं।

NEFT की मदद से कोई भी खाताधारक, फर्म व उघोगपति आसानी से किसी भी बैंक से दूसरे बैंक में, रुपयो का ट्रांसफर कर सकता हैं जिसके लिए उन्हें बैंको में, जाकर अपने कीमती समय को बर्बाद नहीं करना होगा।

  • ऑनलाइन व ऑफलाइन कैसे प्राप्त कर सकते हैं NEFT का लाभ?

हमारे सभी खाताधारक आसानी से NEFT का लाभ इन्टरनेट बैंकिंग व मोबाइल बैंकिंग आदि की मदद से ऑनलाइन लाभ प्राप्त कर सकते हैं और यदि आप NEFT का ऑफलाइन लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको अपनी बैंक शाखा में, जाना होगा।

  • NEFT पैसो के ट्रांसफर पर कितना शुल्क वसूलती है?

यदि आप NEFT की मदद से पैसो का लेन-देन करते हैं तो आपको इस प्रकार शुल्क का भुगतान करना होगा-

  • 10,000 रुपयो के लेन-देन पर 2 रुपय 50 पैसे,
  • 10,000 से 1 लाख रुपयो के लेन-देन पर 5 रुपय,
  • 1 से 2 लाख रुपयो के लेन-देन पर 15 रुपय व
  • 2 लाख से अधिक रुपयो के लेन-देन पर 25 रुपयो का शुल्क देना पड सकता हैं आदि।
  • NEFT में, रुपयो के लेन-देन की समय-सीमा क्या हैं?

NEFT में, आप सुबह 8 बजे से लेकर रात के 7 बजे तक रुपयो का लेन-देन रविवार व माह के अन्तिम शनिवार को छोड कर, कर सकते हैं।

  • NEFT की मदद से एक बार में, कितने रुपयो का ट्रांसफर किया जा सकता हैं?

वैसे तो NEFT की मदद से रुपयो के लेन-देन की न्यूनतम या अधिकतम सीमा तय नहीं की गई हैं लेकिन कोई भी ग्राहक एक बारे में, 50,000 रुपयो से अधिक का लेन-देन नहीं कर सकता हैं।

  • कौन-कौन से बैंक NEFT की सेवा प्रदान करते हैं?

NEFT की सेवा देने वाले सभी बैंको की सूची इस प्रकार से हैं –

NEFT सेवा सभी बैंकों द्वारा दी जाती है, जिनमे से कुछ के नाम हैं:

NEFT की मदद से कैसे करें पैसा ट्रासंफर?

NEFT की मदद से पैसा ट्रांसफर करने के लिए आपको निम्न चरणो को पूरा करना होगा जो कि, इस प्रकार से हैं-

  • आपको अपने इन्टरनेट बैकिंग या मोबाइल बैंकिंग में, लॉगिन करना होगा,
  • इसके बाद आपको पैसा ट्रांसफर के विकल्प पर जाकर लाभार्थी की जानकारी को दर्ज करना होगा,
  • इसके बाद आपको लाभार्थी का नाम व उसके बैंक खाते की पूरी जानकारी दर्ज करनी होगी,
  • इसके बाद आपको प्राप्त ओ.टी.पी को दर्ज करके सत्यापन प्रक्रिया को पूरा करना होगा,
  • इसके 30 मिनटो के बाद लाभार्थी की जानकारी सुरक्षित हो जायेगी,
  • इसके बाद आपको सभी शर्तो तो स्वीकृति देकर ’’ भुगतान करें ’’ के विकल्प पर क्लिक करना होगा जिसके बाद रुपयो का भुगतान कर दिया जायेगा।

उपरोक्त चरणो को पूरा करके आप आसानी से रुपयो का भुगतान कर सकते हैं और NEFT का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

उपरोक्त सभी बिंदुओ की मदद से हमने आपको क्या होता हैं NEFT की पूरी जानकारी प्रदान की ताकि आप इस सेवा का लाभ प्राप्त कर सकें।

क्या होता है RTGS? (What is RTGS?)

हम, आपको RTGS की पूरी जानकारी प्रदान करने के लिए कुछ बिंदुओ की मदद लेंगे जो कि, इस प्रकार से हैं-

  • RTGS का हिन्दी व अंग्रेजी में, पूर्ण रुप क्या है?

RTGS का हिन्दी भाषा में, पूर्ण रुप हैं – वास्तविक समय सकल निपटान व अंग्रेजी में, पूर्ण रुप हैं – Real Time Gross Settlement।

  • RTGS क्या है? (What is RTGS?)

हम, अपने सभी पाठको व खाताधारको को बताना चाहते हैं कि, RTGS वो माध्यम हैं जिसकी मदद से आप आसानी से एक बैंक से दूसरे बैंक में, रुपयो का इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर कर सकते हैं और इसका लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

  • RTGS की शर्ते क्या हैं?

RTGS का लाभ लेने के लिए कुछ शर्तो को पूरा करना होता हैं जैसे कि – यदि आपका खाता भारतीय स्टेट बैक में, हैं और आप रुपयो का ट्रासंफर एच.डी.एफ.सी बैंक में, करना चाहते हैं तो आप आसानी से RTGS तकनीक का प्रयोग कर सकते हैं लेकिन यदि आपका खाता एस.बी.आई बैंक में, हैं और आप एस.बी.आई के ही किसी खाते में, रुपयो का ट्रांसफर करना चाहते हैं तब इस स्थिति में, आप RTGS तकनीक का लाभ प्राप्त नहीं कर सकते हैं।

  • RTGS से दिन में, किस समय कर सकते है रुपयो का लेन-देन?

हमारे सभी बैंक खाताधारक RTGS तकनीक की मदद से सुबह कै 8 बजे से शाम के 8.30 बजे तक कर सकते है।

  • RTGS से कितने रुपयो का ट्रांसफर किया जा सकता हैं?

RTGS की मदद से आप कम से कम 2 लाख रुपयो की राशि का ट्रांसफर कर सकते हैं और अधिकतम राशि का निर्धारण नहीं किया गया हैं इसलिए आप अधिक से अधिक राशि का ट्रासंफर RTGS तकनीक की मदद से कर सकते हैं।

  • RTGS रुपयो के ट्रांसफर पर कितना शुल्क वसूलती हैं?

RTGS रुपयो के ट्रांसफर पर निन्मलिखित शुल्क बसूलती हैं जैसे कि-

  • 2 लाख से लेकर 5 लाख रुपयो के ट्रांसफर पर 25 रुपय का शुल्क व यदि आप इन्टरनेट बैंकिंग की मदद से रुपयो का ट्रांसफर करते है तो सिर्फ 5 रुपयो का शुल्क बसूलती हैं और
  • 10 लाख व इससे अधिक ट्रांसफर करने पर 50 रुपय व यदि इन्टरनेट बैंकिंग की मदद से ट्रांसफर कर रहे हैं तो सिर्फ 10 रुपय शुल्क वसूलती हैं आदि।
  • RTGS से रुपयो का ट्रांसफर कैसे करें?

आप आसानी से RTGS तकनीक की मदद से रुपयो का ट्रांसफर कर सकते हैं जिसके सभी चरण इस प्रकार से हैं-

  • आप अपने इन्टरनेट बैंकिंग या फिर मोबाइल बैंकिंग में, लॉगिन कीजिए,
  • ट्रांसफर के विकल्प पर जाकर बैनिफिशरी को एड कीजिए,
  • इसके बाद आप RTGS सुविधा देने वाली बैंक का चयन करें,
  • बैनिफिशरी की पूरी जानकारी व उसके बैंक खाते की पूरी जानकारी दर्ज कीजिए,
  • इसके बाद आपको ’’ पुष्टि करें ’’ के विकल्प पर क्लिक करना होगा,
  • इसके बाद आपको ओ.टी.पी भेजा जायेगा जिसे दर्ज करके आपको सत्यापन प्रक्रिया को पूरा करना होगा,
  • इसके बाद ट्रांसफर के लिए NEFT व RTGS मे से किसी एक का चयन करना होगा और
  • इसके बाद रुपयो का ट्रांसफर कर दिया जायेगा।

उपरोक्त चरणो को पूरा करके आप आसानी से RTGS तकनीक की मदद से रुपयो का ट्रांसफर कर सकते हैं और इसका लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

उपरोक्त सभी बिंदुओ की मदद  से हमने आपको RTGS तकनीक के बारे में, बताया।

NEFT व RTGS में, मौलिक अन्तर (NEFT and RTGS Differences)

वैसे तो NEFT व RTGS का काम एक ही हैं अर्थात् एक बैंक से दूसरे बैंक में, रुपयो का ट्रासंफर करना लेकिन इनमें हमें, कुछ मौलिक अन्तर भी देखने को मिलते हैं जैसे कि –

  1. NEFT में, आप 1 रुपय से लेकर किसी भी राशि का ट्रांसफर कर सकते हैं लेकिन RTGS में, आपको कम से कम 2 लाख रुपयो का ट्रांसफर करना होगा,
  2. यदि आप NEFT तकनीक की मदद से रुपयो का ट्रांसफर करते हैं तो आपको निश्चित तौर पर कुछ समय इंतजार करना होगा लेकिन यदि आप RTGS तकनीक की मदद से रुपयो का ट्रांसफर करते हैं तो आपकी राशि को तुरन्त ट्रांसफर कर दिया जायेगा,
  3. NEFT में, आप सुबह के 8 बजे से लेकर शाम के 7 बजे तक ट्रांसफर कर सकते हैं जिससे आपको अधिक समय मिल जाता हैं लेकिन RTGS में, आप सुबह के 8 बजे से लेकर शाम के 4.30 बजे तक ही रुपयो का ट्रांसफर कर सकते हैं जिससे आपको कम समय मिलता हैं आदि।

उपरोक्त सभी बिंदुओ की मदद से हमने आपके सामने NEFT व RTGS में, मौजूद मौलिक अन्तरो को स्पष्ट किया ताकि आप इनका सुविधापूर्वक लाभ प्राप्त कर सकें।

निष्कर्ष

इस लेख में, हमने आपको NEFT व RTGS दोनो तकनीको की  पूरी जानकारी व प्रत्येक तत्व की जानकारी प्रदान की जिसका उपयोग करके आप आसानी से किसी भी बैंक से किसी भी बैंक में, रुपयो का लेन-देन कर सकते है और NEFT व RTGS तकनीको का लाभ प्राप्त कर सकते हैं, यही हमारा लक्ष्य हैं इस लेख का।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.