न्यू इंडिया का आईना है पीएम मोदी का 15 अगस्त का भाषण

1365
PM Modi Independence Day Speech

जीवन पुष्प चढ़ा चरणों में, मांगे मातृभूमि से यह वर, तेरा वैभव अमर रहे मां, हम दिन चार रहें-न-रहें। इसी भाव के साथ जब भारत 15 अगस्त को अपना 73 वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है तो इस दौरान लाल किले से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए भाषण ने इस जश्न के उत्साह को और अधिक बढ़ा दिया, क्योंकि उन्होंने अपने भाषण में बदलते और नए भारत का एक खाका ही खींच डाला।

बदल रही देशवासियों की सोच

देशवासियों की सोच में आ रहे बदलाव के बारे में बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह बदलती सोच का ही नतीजा है कि लोग जो पहले बस अड्डे की मांग करते थे, अब वे हवाई अड्डे के बारे में पूछते हैं। पक्की सड़क की बजाय सड़क फोरलेन कब बनेगी, यह सवाल करते हैं। ऐसी सोच देश में हो रहे बदलाव को दर्शाती है।

भावी पीढ़ी के लिए खतरा है जनसंख्या विस्फोट

देश में तेजी से बढ़ती जनसंख्या को पीएम मोदी ने जनसंख्या विस्फोट बताते हुए इसे आने वाली पीढ़ियों के लिए अनेक संकट पैदा करने वाला बताया। साथ में उन्होंने कहा कि देश में एक छोटा-सा जागरूक वर्ग भी है जो कि शिशु को जन्म देने से पहले अच्छी तरह से विचार कर लेता है और परिवार को सीमित रखकर परिवार की भलाई के साथ देश की भी भलाई करता है।

खत्म हुआ मुस्लिम बेटियों का डर

पीएम मोदी ने कहा कि तीन तलाक जिसे कि कई इस्लामिक देशों ने भी समाप्त कर दिया था, आखिर हम भी ऐसा क्यों नहीं कर सकते थे? देश ने सती प्रथा, दहेज और भ्रूण हत्या जैसे अपराधों के खिलाफ कानून जब बना दिया था, तो तीन तलाक के खिलाफ भी आखिर कानून क्यों नहीं बन सकता था? हमने ऐसा करके इस देश की मुस्लिम बेटियों के मन से इस डर को समाप्त कर दिया।

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ का नया पद

सेना को मजबूत बनाने के लिए पीएम मोदी ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ का नया पद बनाए जाने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ भारत की लड़ाई जारी रहेगी और आतंकवाद का निर्यात करने वाले अब बेनकाब किए जाएंगे।

जनमानस का अभियान बनेगा जल जीवन मिशन

पीएम मोदी ने जल संकट से निबटने के लिए जल जीवन मिशन अभियान को आगे बढ़ाने की घोषणा करते हुए कहा है कि इसे सरकारी अभियान की बजाय जनमानस का अभियान बनाते हुए इसके तहत जल संचयन, वर्षा के पानी को रोकने, समुद्र के पानी को पीने योग्य बनाने, अशुद्ध जल को शुद्ध करने, जल सिंचन एवं पानी बचाने जैसे कदम उठाये जाएंगे।

दिल-दिमाग बदलने से खत्म होगा भाई-भतीजावाद

आम जीवन में भाई-भतीजावाद को दीमक की तरह बेहद अंदर तक घुसा हुआ बताते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इसे दूर करने के लिए उन लोगों के दिल और दिमाग को बदलना पड़ेगा जो व्यवस्था का संचालन कर रहे हैं।

खत्म कर रहे अनावश्यक कानून

लगभग हर दिन एक कानून को खत्म करने की बात कहते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वर्तमान सरकार के 10 हफ्तों में भी 60 कानूनों को समाप्त किया जा चुका है। सरकार लोगों के जीवन से बाहर निकल कर उन्हें आजादी से अपने आप को आगे बढ़ाने का मौका दे रही है। सरकार का दायित्व है कि वह किसी पर दबाव तो नहीं बनाए, पर मुसीबत की घड़ी में वह अपने लोगों के साथ खड़ी रहे।

न प्लास्टिक, न नकद पेमेंट

सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को बंद करने को लेकर पीएम मोदी ने दुकानदारों से अपनी दुकान में ‘कृपया हमसे प्लास्टिक की थैली की अपेक्षा ना करें’ लिखा हुआ बोर्ड लगाने का अनुरोध किया। साथ ही डिजिटल पेमेंट को प्रोत्साहित करने के लिए उन्होंने दुकानदारों से अपनी दुकानों में अब ‘डिजिटल पेमेंट को हां, नकद पेमेंट को ना’ का बोर्ड लगाने का भी सुझाव दिया।

साकार हुआ पटेल का सपना

जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को हटाए जाने को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इसे हटाना सरदार पटेल के सपने को साकार करने के जैसा है। इसे हटाए जाने से एक देश एक संविधान कासपना साकार हो गया है। देश के विकास में योगदान देने वाले हर किसी को वे नमन करते हैं।

क्यों नहीं बन सकते 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था?

भारत के 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनने को कठिन, मगर मुमकिन बताते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देशवासी यदि साथ मिलकर चलें तो इसे हासिल करना मुश्किल नहीं होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि देश के हर जिले किसी-न-किसी उत्पाद के लिए मशहूर हैं, जिसे दुनियाभर में प्रचारित करके ग्लोबल मार्केट तक पहुंचाने से लाभ मिलेगा।

निष्कर्ष

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में देश के विकास के लिए केवल सरकारी प्रयासों की ही नहीं, बल्कि सभी देशवासियों की भागीदारी की आवश्यकता बताई है। बताएं, पीएम के भाषण की सबसे अच्छी बात आपको क्या लगी?

1 COMMENT

  1. जीवन पुष्प चढ़ा चरणों में, मांगे मातृभूमि से यह वर, तेरा वैभव अमर रहे मां, हम दिन चार रहें-न-रहें। dil ko chu gayi ye line aapki

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.