इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं के लिए ऐसे बनाएं रणनीति, ज़रूर होंगे कामयाब

456
Entrance Exams

इंजीनियरिंग और मेडिकल एक ऐसा क्षेत्र है, जिसमें करियर बनाने को लेकर क्रेज कभी कम नहीं हो सकता है। पुराने जमाने में जहां करियर के ज्यादा ऑप्शन मौजूद नहीं होते थे, उस वक्त भी ज्यादातर स्टूडेंट्स इंजीनियरिंग और मेडिकल को ही अपना लक्ष्य बनाते थे। वहीं जहां आज के बदलते जमाने में करियर के ढेरों ऑप्शन मौजूद हैं, फिर भी इंजीनियरिंग और मेडिकल इंडस्ट्री में कॉम्पिटीशन कम नहीं है। आज भी एक सीट के लिए सैकड़ों छात्र अपना आवेदन भरते हैं। साइंस स्ट्रीम से पढ़ाई करने वाले ज्यादातर युवा आज भी इंजीनियरिंग और मेडिकल में ही अपना उज्जवल भविष्य देखते हैं, और इसे ही अपने करियर ऑप्शन के रुप में चुनना चाहते हैं।

इंजीनियरिंग और मेडिकल की पढ़ाई करने वाले छात्रों को कॉलेज में एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षाओं से होकर गुजरना पड़ता है। ऐसे में कई छात्र इन परीक्षाओं में सफल होते हैं कई छात्र असफल भी। कई छात्रों को एक या उससे अधिक बार में सफलता मिल जाती है तो कई छात्र बार- बार प्रवेश परीक्षा देने के बावजूद भी सफल नहीं हो पाते हैं। आखिर क्या है वो ट्रिक जिससे आपकी इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी आसान हो जाए और आप परीक्षा में सफल हो जाएं। कुछ ऐसे ही टिप्स आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

 

इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षा में सफल होने के लिए १० जरूरी टिप्स

  • प्लानिंग करें

पढ़ाई हो या फिर कोई भी काम, जिसे पूरे प्लानिंग के साथ किया जाए उसमें सफलता मिलने की उम्मीद ज्यादा होती है। वैसे भी इंजीनियरिंग और मेडिकल की परीक्षाएं महत्वपूर्ण और चुनौतिपूर्ण प्रवेश परीक्षाओं में से एक है। ऐसे में इन के प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए भी सबसे पहले प्लानिंग करें। पढ़ाई के लिए एक सही योजना बनाने से आपको तैयारी करने में आसानी होगी और आप उलझन महसूस नहीं करेंगे।

  • समय प्रबंधन

इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं में सफल होने के लिए दूसरी सबसे जरूरी चीज होती है टाइम मैनेजमेंट। प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिए अपने दिनभर के समय का ख्याल रखें, क्योंकि नोटिफिकेशन जारी होने के बाद आपका एक- एक मिनट मूल्यवान होता है। इसलिए पढ़ाई के लिए समय प्रबंधन पर ध्यान दें। दिन भर में ज्यादा से ज्यादा समय पढ़ाई के लिए निकालें। साथ ही वक्त के अनुसार विषयों को भी बांटे और उसी के अनुसार तैयारी करें। जिससे आप सभी विषयों में बराबर समय दे पाएं।

  • सिलेबस पर ध्यान दें

प्रवेश परीक्षा की तैयारी शुरू करने से पहले ध्यानपूर्वक उसके सिलेबस को पढ़े और फिर तैयारी शुरू करें। इन परीक्षाओं में वही स्टूडेंट सफल हो सकता है, जिसकी सिलेबस पर कमांड होगी।  क्योंकि प्रश्न किसी भी टॉपिक से पूछे जा सकते हैं। सिलेबस मालूम होने से परीक्षा की तैयारी करने में काफी सहूलियत होती है।

  • प्रवेश परीक्षा के नियमों की पूरी जानकारी

इंजीनियरिंग हो या मेडिकल छात्रों को अपने विषय के प्रवेश परीक्षाओं से संबंधित नियमों की जानकारी भी होनी चाहिए। आपको मालूम होना चाहिए कि परीक्षा कितने घंटे की होगी, कितने नंबर की होगी, नेगेटिव मार्किंग है या नहीं जैसे महत्वपूर्ण। इससे आपको तैयारी में काफी आसानी होती है।

  • पिछले प्रश्नपत्रों पर जरूर ध्यान दें

पिछले साल के प्रश्न पत्रों को जरूर पढ़े। ध्यान दें कि पिछले कुछ सालों में प्रश्न पत्र का पैटर्न क्या था, किस तरह के प्रश्न पूछे गए थे। इससे आपको प्रवेश परीक्षा के लिए तैयारी करने में आसानी होगी। इसके अनुसार ही आप भी परीक्षा की तैयारी करें।

  • शॉर्ट नोट्स बनाएं

परीक्षा कोई भी हो अंतिम वक्त में रिवीजन तो जरूरी होता है। हालांकि इंजीनियरिंग और मेडिकल का सिलेबस काफी ज्यादा बड़ा होता है, इसलिए अंतिम समय में सबका रिवीजन करना संभव नहीं हो सकता है। ऐसे में प्रवेश परीक्षा की तैयारी करते वक्त ही रिवीजन के लिए एक अलग नोट बुक बनाएं। जिसमें जरूरी चीजों का शॉर्ट नोट्स बनाएं। ये आपकी परीक्षा नजदीक आने पर काफी मददगार साबित होगा और इसे बाद अपने रिवीजन के लिए आसानी से इस्तेमाल कर सकेंगे।

  • कोचिंग क्लास ज्वॉइन करें

अगर आप इंजीनियरिंग और मेडिकल की पढ़ाई का सपना देख रहे हैं तो आपकी तैयारी भी पूरी होनी चाहिए। इसलिए इन प्रवेश परीक्षाओं में सफल होने के लिए आप कोचिंग क्लास जरूर ज्वॉइन करें। कोचिंग क्लास जाने से वहां आपको कई शॉर्ट ट्रिक्स दिए जाते हैं, साथ ही वहां आपको अपने सहकर्मियों के सात होने से पढ़ाई का माहौल भी मिलता है। जिससे आप मॉटिवेट होते हैं। साथ ही कई सवालों के हल आपको अपने सहपाठियों से ही मिल जाता है।

  • पॉजिटिव रहें

पूरी तैयारी के दौरान सबसे जरूरी है आपका पॉजिटिव होना। सकारात्मक रवैया किसी भी सफलता की दिशा का पहला कदम होता है। अगर आप पॉजिटिव माइंड से तैयारी करेंगे तो जरूर सफल होंगे। कभी भी अपने मन में नेगेटिव बातें ना आने दें, जैसे कि आप परीक्षा में सफल नहीं हो सकते, आप से ये पेपर या प्रश्न हल नहीं हो सकता।

  • अच्छी डाइट लें

परीक्षा की तैयारी के वक्त अक्सर स्टूडेंट अपने खान- पान का ध्यान नहीं रखते। अगर आप स्वस्थ होंगे तभी आपका दिमाग भी स्वस्थ होगा, इसलिए इस वक्त तो खासकर अच्छी डाइट लें। खानपान सही होने से आप स्वस्थ रहेंगे और आपका पढ़ाई में भी मन लगेगा।

  • पूरी नींद लें

कहा जाता है कि प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिए छात्रों को दिनरात एक कर देना चाहिए। लेकिन ये गलत तरीका है, क्योंकि पूरी नींद नहीं लेने से इसका बुरा असर आपके शरीर पर पड़ता है। इसलिए सही समय प्रबंधन करते हुए रात को पूरी नींद जरूर लें।

 

इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए कुछ प्रमुख किताबें

जेईई या किसी और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए अक्सर छात्र कंफ्यूज रहते हैं कि वो किसी किताब की मदद से अपनी तैयारी करें, जिससे उन्हें परीक्षा में सफल होने में मदद मिले। वैसे तो इसके लिए NCRT की किताबें सबसे सही है, लेकिन यहां हम आपको कुछ और किताबों का नाम बता रहें हैं।

Concepts of Physics By HC Verma (Volume 1 & 2)

Fundamentals of Physics By David Halliday, Robert Resnick and Jearl Walker

Organic Chemistry By Robert Morrison and Boyd

Concise Inorganic Chemistry By J.D. Lee

Higher Algebra By Hall and knight

40 Years IIT-JEE ADVANCED + 16 Years JEE Main- topic wise solved paper mathematics

 

मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए कुछ प्रमुख किताबें

NCERT Physics Class XI & Class XII

Objective Physics By DC Pandey

NCERT Chemistry textbooks for Class XI and XII

Physical Chemistry by OP Tandon

NCERT Biology Class XI and Class XII textbooks

Objective Botany by Ansari

Pradeep Guide on Biology

GR Bathla publications for Biology

 

निष्कर्ष

अगर आप भी इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, तो हमें उम्मीद है कि ये आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार होगा। इससे जुड़ी किसी अन्य जानकारी के लिए नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें।

 

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.