LIC (जीवन विमा कंपनी) सहायक प्रशासनिक अधिकारी (AAO)

2654

अगर आप एक स्थायी और सुरक्षित आय चाहते है तो “LIC सहायक प्रशासनिक अधिकारी” आप के लिए एक बढ़िया नौकरी हो सकती है। हालाँकि यह नौकरी पाने के लिए काफी मेहनत और लगन चाहिए लेकिन यह एक संतुष्टि देने वाली नौकरी है। यहाँ पर इसके बारे में जरुरी जानकारियां दी गई है।

LIC सहायक प्रशासनिक अधिकारी का कार्य क्या है?

यह एक प्रशासनिक पद है। इस अधिकारी का मुख्य कार्य कुछ इस प्रकार है।

  • नयी बीमा योजनाओं का निर्माण करना
  • पालिसी की जाँच करना
  • बीमे के दावों को जांचना
  • बीमा कंपनियों के अन्य विभागों के साथ समन्वय स्थापित करना
  • और उपरी अधिकारी द्वारा दिया गया अन्य कार्य करना

LIC सहायक प्रशासनिक अधिकारी की नौकरी के लिए आवेदन करने की योग्यता:

कोई भी व्यक्ति जो ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट है वो इस पद के लिए आवेदन भेज सकता है। हालाँकि आपकी उम्र 21 से 30 साल के बीच होनी चाहिए। आरक्षित वर्ग के व्यक्तियों के लिए उम्र की मर्यादाओं में रियायत दी जाती है।

इस नौकरी के लिए चयन कैसे किया जाता है?

इस नौकरी को पाने के लिए आवेदकों को दो परीक्षाओं से गुजरना पड़ता है।
1. ऑनलाइन टेस्ट
जिसमें बहुविकल्पी प्रश्न पूछे जाते है जो सोचने की क्षमता, मात्रात्मक रुझान, सामान्य ज्ञान, कंप्यूटर और अंग्रेजी भाषा का ज्ञान जांचते है। याद रखे कि इस परीक्षा में गलत जवाब के मार्क्स काट लिए जाते है।

2. इंटरव्यू
जो लोग ऑनलाइन टेस्ट को पार कर लेते हैं उनका एक मेरिट लिस्ट बनाया जाता है। जितनी रिक्तियां भरी जानी है उससे तीन गुना उम्मीदवारों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।

इस नौकरी से क्या लाभ हो सकते है?

यह पद अधिकारी को वेतन और अन्य कई लाभ देता है जो निम्न प्रकार है।

  • वेतन: बेसिक वेतन Rs 17240/- प्रति माह से शुरू होता है।
  • मकान किराया भत्ता और शहर प्रति पूर्ति भत्ता
  • अंशदायी पेंशन
  • बीमांकिक परीक्षा पास करने के लिए विशेष भत्ता
  • ग्रेच्युटी,
  • एलटीसी,
  • नकद चिकित्सा लाभ,
  • समूह मेडिक्लेम,
  • समूह व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा,
  • समूह बीमा,
  • वाहन ऋण (2 व्हीलर / 4 व्हीलर)

इस नौकरी में भविष्य में पदोन्नति की क्या संभावनाएं है?

पदोन्नति के लिए कम से कम 5-8 साल का अनुभव चाहिए।
2 प्रकार से पदोन्नति हो सकती है।

1. प्रशासनिक अधिकारी (एओ) – सहायक संभागीय प्रबंधक (एडीएम) – संभागीय प्रबंधक – वरिष्ठ मंडल प्रबंधक – क्षेत्रीय प्रबंधक
2. आप सहायक शाखा प्रबंधक (एबीएम) और फिर शाखा प्रबंधक (बीएम) भी बन सकते है।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.