ये हैं दुनिया की ६ सबसे महंगी कार

1916
cars


कौन कहता है कि इस दुनिया मे पैसे से खुशियाँ नहीं खरीदी जा सकती? जब आप किसी ऐसी महंगी गाड़ी में बैठ कर शहर के चक्कर लगा रहे हों, जो कि दुनिया के कुछ चुनिंदा लोगों के पास ही हो, तब आपको यह ज़रूर लगेगा की पैसे से भी खुशियाँ खरीदी जा सकती हैं। जब भी महंगी कार की बात होती है, तो तुरंत ही दिमाग में , लैम्बोर्गिनी, ऑडी, फ़ेरारी जैसे नाम आने लगते हैं। ये कारें मेहेंगी ज़रूर हैं लेकिन आपको जानकर आश्चर्य होगा कि दुनिया की ६ मेहेंगी कार में इनमे से किसका नाम है। आप शायद नौमान भी नहीं लगा पाएं की दुनिया की सबसे मेहेंगी कारों की कीमत कितनी हैं। ये बेहद महंगी कारें दुनिया में कुछ चुनिंदा अरबपतियों के ही गैराज में खड़ी मिलेंगी।

तो आइये जानते हैं दुनिया की ६ सबसे मेहेंगी कारों के बारे में

६. डब्ल्यू मोटर्स लाइकन हाइपरस्पोर्ट ( कीमत – ३.४ मिलियन डॉलर)

ये कार साल 2013 के क़तर के मोटर शो में पहली बार प्रदर्शित की गयी थी। इस कार को ‘अरब की पहली हाइपर कार’  के भी नाम से जाना जाता है। गति के मामले में ये कार काफ़ी तेज़ है, ये मात्र २.८ सेकण्ड में शून्य से ९९ किलोमीटर प्रति घण्टे की रफ़्तार पकड़ सकती है। वहीं इस कार कि अधिकतम स्पीड ३९४  किलोमीटर प्रति घण्टे की है।

५. सीमित संस्करण की बुगाटी वेरॉन ( कीमत – ३.४  मिलियन डॉलर)

बुगाटी वेरॉन दुनिया की पाँचवी सबसे महंगी कार है। ८ लीटर के W16  इंजन वाली इस कार का इंजन १२०० हॉर्सपावर की ऊर्जा पैदा करता है। इस कार की रफ़्तार ४०८  किलोमीटर प्रति घण्टे की है। इस कार की क़ीमत ३.४ मिलियन डॉलर है, जो कि इसे दुनिया की पांचवी सबसे महंगी कार बनाती है।

४. मॉक लॉरेन P1 जीटीआर ( कीमत – ४.३  मिलियन डॉलर)

इस कार को साल २०१५  में पहली बार लोगों के लिए प्रदर्शित किया गया था। इस कार के ३.८  लीटर के दोहरे टर्बो इंजन ९०३ हॉर्सपावर की ऊर्जा पैदा करते हैं। इस कार की अधिकतम रफ़्तार ३५० किलोमीटर प्रति घण्टे की है। इसके साथ ही ४.३ मिलियन डॉलर की कीमत के साथ ये दुनियाँ की चौथी सबसे महंगी कार है।

३. लैम्बोर्गिनी वेनेनो रोडस्टर (कीमत- ४.५ मिलियन डॉलर)

ये दुनिया की तीसरी सबसे महंगी कार है। V12 इंजन वाली इस कार की अधिकतम रफ़्तार ३५५  किलोमीटर प्रति घण्टे की है। इसके साथ ही इस कार का डिजाइन वायुगतिकी के सिद्धांत पर किया गया है। आपको एक बार फिर बता दें इस कार की कीमत ४.५  मिलियन डॉलर है।

२. कोएंगसिंग CCXR ट्रेविटा ( क़ीमत- 4.8 लाख डॉलर)

स्वीडन में निर्मित ये कार दुनियाँ की दूसरी सबसे महँगी कार है। इस कार का इंजन 4.7लीटर तथा V8 श्रेणी का है जो कि इथेनॉल या गैसोलीन से चलता है। इस कार की अधिकतम रफ़्तार 395 किमी/घण्टे की है। कम्पनी ने इस कार के मात्र 2 मॉडल के सिर्फ़ 1 ही कार बनाये है। इसका मतलब अगर आपके पास ये कार है तो आप इस दुनियाँ के एकलौते इस कार को रखने वाले व्यक्ति होंगे।

१. मयच एक्सेलेरो (कीमत- ८ मिलियन डॉलर)

अगर बात की जाए दुनिया की सबसे महंगी कार की तो मर्सिडीज बेंज मयच एक्सलेरो का नाम सबसे ऊपर अत है। इस कार को २००५ में बनाया गया था, और आजतक तक ये दुनिया की सबसे महंगी कार के रूप में जानी जाती है। कंपनी मर्सिडीज़ ने इस तरह की सिर्फ़ एक ही कार बनाई है,अतः इसे दुनिया का सिर्फ एक ही आदमी खरीद सकता है।  ये कार शून्य से ९६.५ किलोमीटर प्रति घण्टे की रफ़्तार तक पहुँचने में मात्र ४.४  सेकण्ड लगाती है। इसके साथ ही इस कार की अधिकतम रफ़्तार ३५० किलोमीटर प्रति घंटा है। इस कार की कीमत ८  मिलियन डॉलर है।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.