क्या है ‘रिमोट सेंसिंग टूलकिट’, नासा ने इसे कब और क्यों लॉन्च किया

1237
NASA रिमोट सेंसिंग टूलकिट

नासा ने एक ऑनलाइन टूलकिट लॉन्च किया है, जिससे सैटेलाइट डाटा के कमर्शियल इस्तेमाल को बढ़ावा मिलेगा। द नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (NASA) ने ये टूलकिल 19 जुलाई, 2018 को लॉन्च किया। इस टूलकिट को लॉन्च करने का मुख्य उद्देश्य उपयोगकर्ताओं को शोध, बिजनेस प्रोजेक्ट और संरक्षण जैसे कामों में आसानी से सैटेलाइट डाटा को प्राप्त कराना, उसका विश्लेषण और उपयोग कराना है। ‘रिमोट सेंसिंग टूलकिट’ के जरिए वैज्ञानिक संगठनों, सरकारी एजेंसियों और गैर सरकारी संगठनों को लाभ मिल सकेगा।

रिमोट सेंसिंग टूलकिट

  • यह टूलकिट नासा के ‘टेक्नोलॉजी ट्रांसफर‘ प्रोग्राम के तहत लॉन्च की गई है।
  • इससे नई पद्धति के खोज को भी बढ़ावा मिलेगा, साथ ही नासा की टेक्नोलॉजी का भी वाणिज्यीकरण होगा।
  • नासा ने ‘रिमोट सेंसिंग टूलकिट’ को इसलिए डिजाइन किया ताकि इसकी सहायता से यूजर डाटा ढूंढ सकते हैं और आसानी से इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • ‘रिमोट सेंसिंग टूलकिट’ एक सिंपल सिस्टम प्रदान करता है, जिससे यूजर इनपुट के आधार पर तुरंत प्रासांगिक स्त्रोतों को पहचाना जा सकता है।
  • ये उन यूजर की संख्या में बढ़ोतरी करने में मदद करेगा, जिन्होंने लोगों के लिए काम करने के लिए नासा के मुफ्त और खुले डेटा कलेक्शन को रखा है।

नासा के प्रौद्योगिकी हस्तांतरण कार्यक्रम के कार्यकारी डैनियल लॉकनी ने बताया है कि ‘रिमोट सेंसिंग टूलकिट, नासा टेक्नोलॉजी के मिशन का एक अभिन्न हिस्सा है। इसके जरिए नासा के मिशन का भी विस्तार हो रहा है।‘ साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि ‘पृथ्वी अवलोकन उपग्रहों के नक्षत्र के माध्यम से, नासा प्रत्येक वर्ष डेटा के पेटबाइट एकत्र करता है।‘

नासा के डैनियल लॉकनी ने ये भी कहा है कि ‘यह नया टूल नासा उपग्रह डेटा को पहले से कहीं अधिक आसान बनाता है  और हमें आशा है कि यह उद्यमी समुदाय के बीच नवीकरण को बढ़ावा देगा और नासा टेक्नोलॉजी के आगे व्यावसायीकरण और दुनिया भर के लोगों को लाभान्वित करेगा।‘

रिमोट सेंसिंग टूलकिट लॉन्च करने का कारण

जैसा कि नासा हल साल डेटा के पेटाबाइट इकट्ठा करता है। नासा इन उपग्रहों के डेटा को लाखों साइंस यूजर्स तक पहुंचाने, विश्लेषण करने और उपयोग करने के लिए विभिन्न प्रकार के ओपन सोर्स टूल प्रदान करती है। लेकिन अब भी इस तरह के डाटा तक पहुंचना कई संभावित वाणिज्यिक उपयोगकर्ताओं के लिए चुनौती बनी हुई है। ऐसे में नासा टेक्नोलॉजी ट्रांसफर प्रोग्राम ने 50 से अधिक वेबसाइटों की समीक्षा की और पाया कि कोई सोर्स एक खोज शुरू करने के लिए जानकारी का एक व्यापक संग्रह या सिंगल प्रवेश बिंदु प्रदान नहीं करता है। इसके बाद ही रिमोट सेंसिंग टूलकिट को लॉन्च किया गया।

द नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (NASA)

नासा संयुक्त राज्य अमेरिका सरकार की एक स्वतंत्र स्पेस एजेंसी है। नासा विश्व की सबसे अग्रणी स्पेस एजेंसी है। इसका गठन 29 जुलाई, 1958 को किया गया था। इसके संस्थापक अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति ड्वाइट डेविड आइज़नहावर हैं।

 

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.