समय, सफलता की कुंजी है

2247

“ जो समय बचाते हैं वह धन बचाते हैं और बचाया हुआ धन कमाए हुए धन के बराबर है “
– महात्मा गांधी

सफल होने के लिए हर व्यक्ति विभिन्न प्रकार के प्रयास करता है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की एक छोटी सी चीज जो हम सबके पास प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है जिसके दुरुपयोग से हम सफलता को अकसर छू भी नहीं पाते हैं। यह वस्तु है “समय”। जिसके लिए महात्मा गांधी ने कहा है की समय को बचा कर ही कोई व्यक्ति धनी बन सकता है। इस बात को आप सफलता की दृष्टि से भी देख सकते हैं। समाज में हर व्यक्ति के पास लगभग एक ही बराबर समय होता है। लेकिन कुछ व्यक्ति उसी समय में सफलता का शीर्ष छू लेते हैं लेकिन कुछ लोग इस ओर आ भी नहीं पाते हैं। तो आइये देखें की समय के सदुपयोग करके कोई व्यक्ति सफल हो सकता है:

  1. समय का प्रबंध करें :

समय प्रबंधन यानि टाइम मेनेजमेंट सफल होने के लिए सबसे अधिक जरूरी है। आपके पास जितना काम है उसे प्राथमिकता के अनुसार एक निश्चित समय में बाँट दें। इस प्रकार हर काम को समय पर शुरू और पूरा किया जा सकेगा। प्रकृति को सबसे अच्छा समय प्रबन्धक माना जाता है। जहां हर ऋतु और मौसम का एक निर्धारित समय है।

  1. समय का सदुपयोग करें :

जो व्यक्ति समय का सदुपयोग कर सकता है वही सही अर्थ में सफल होता है। अगर एक काम को करके आपके पास समय बच गया है तो उसका उपयोग किसी और काम में करें जो उपयोगी भी हो। जापान के लोग इसी नियम का पालन करते हुए अपने बचे हुए समय में कोई न कोई नयी मशीन या खिलौना बना कर करते हैं।

  1. समय की बचत करें :

कुछ लोग अनावश्यक रूप से समय लगाकर काम करने में ही अपनी कुशलता मानते हैं। लेकिन हमेशा याद रखें की कुशलता समय अधिक लगाने में नहीं बल्कि कम समय में और अच्छी प्रकार से करें। फ्रेंकलिन के अनुसार समय बर्बाद न करो क्यूंकी समय से ही जीवन है।

  1. समय को टालें नहीं:

कभी भी किसी काम को अगले समय पर न टालें । जो समय जिस काम के लिए निश्चित किया गया है उसे उसी निर्धारित समय पर करें । ऐसा करके आप हर काम को कुशलता से भी कर सकेंगे और समय की भी बचत होगी। अगर आज के काम को कल पर टाला गया तो वह अधिक हो जाएगा और पूरा होने में पुनः अधिक समय लगेगा ।

 

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.