UPI, BHIM और नेट बैंकिंग से कितना आसान हो गया है लेनदेन

518
BHIM,UPI, Net banking

वित्तीय लेनदेन के लिए कैश की जगह ऑनलाइन प्रक्रिया को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार की ओर से कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। UPI, BHIM और नेट बैंकिंग इसी का हिस्सा हैं।

UPI क्या है?

UPI एक ऐसा तरीका है जिसके जरिए आप अपने बैंक अकाउंट से किसी के भी अकाउंट में किसी भी वक्त पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं। आप किसी को भी इसके जरिए तत्काल पैसे भेज सकते हैं। यहां तक कि यदि आप ऑनलाइन कोई सामान खरीद रहे हैं तो UPI के जरिए पेमेंट कर सकते हैं। नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने भारत में UPI  की शुरुआत की है। NCPI वहीं संस्था है जो कि विभिन्न बैंकों के एटीएम के जरिए होने वाले ट्रांजैक्शन का हिसाब-किताब रखती है। उदाहरण के लिए आपका एटीएम कार्ड एसबीआई का है, लेकिन आपने सिंडिकेट बैंक से पैसे निकाल लिए। ऐसे में जो ट्रांजैक्शन हुआ है, उसका हिसाब-किताब NPCI रखती है।

ऐसे करें UPI का इस्तेमाल

UPI का इस्तेमाल करने के लिए आप गूगल एप्स में जाकर संबंधित बैंक का यूपीआई एप ढूंढ़ ले और उसे डाउनलोड कर ले। इसके बाद आप इसमें अपने फोन नंबर, आधार नंबर, नाम या फिर ईमेल आईडी से साइन अप कर लें। उसके बाद आपका अकाउंट बन जाएगा और उसके जरिए आप लेनदेन शुरू कर सकते हैं।

ऐसे काम करता है UPI

UPI दरअसल Immediate Payment Service System पर काम करता है, जिसका मतलब यह हुआ कि आप किसी भी वक्त और किसी भी दिन पैसों का आदान-प्रदान आसानी से और तुरंत कर सकते हैं। यूपीआई फायदेमंद इसलिए है, क्योंकि इसके जरिए पैसा भेजने के लिए आपको संबंधित व्यक्ति का बैंक डीटेल्स या कोई भी जानकारी डालने की जरूरत नहीं होती है। आपको बस उस व्यक्ति की यूपीआई आईडी डाल देनी है और उसमें पैसे भर देने हैं। उतने पैसे तुरंत उसके पास पहुंच जाएंगे। UPI के जरिए आप एक बार में 1 लाख रुपये ट्रांसफर कर सकते हैं और प्रति ट्रांजैक्शन केवल 50 पैसे की फीस लगती है।

क्या है BHIM एप?

कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार की ओर से की गई पहल BHIM है, जिसका पूरा नाम भारत इंटरफेस फॉर मनी है। इसकी खासियत यह है कि इसके जरिए BHIM से BHIM एप में तो पैसे ट्रांसफर कर ही सकते हैं,, इसके अलावा किसी और UPI अकाउंट में भी आप आसानी से पैसे भेज सकते हैं। BHIM की खासियत यह भी है कि जिस व्यक्ति को आपको पैसे भेजने हैं, यदि उसके पास UPI अकाउंट नहीं भी है तो भी आप उस व्यक्ति के बैंक अकाउंट से IFSC कोड या MMID कोड भरकर उसे तुरंत पैसे भेज सकते हैं। ऑनलाइन शॉपिंग के दौरान या फिर ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए भी आप इस एप का आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं।

यूं करें BHIM एप का इस्तेमाल

इसका इस्तेमाल करने के लिए आपको इसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर लेना होगा। इसे खोलने पर हिंदी या अंग्रेजी में से एक भाषा का आपको चुनाव करना पड़ेगा। आपको ध्यान रखना है कि मोबाइल में वह सिम कार्ड आप इस एप को इस्तेमाल करते वक्त जरूर रखें, जिससे आपका बैंक अकाउंट लिंक है, क्योंकि इस एप में आपको वह सिम कार्ड चुनना पड़ेगा। इसके बाद एक SMS वेरीफिकेशन होगा। इसके हो जाने पर आप इसमें 4 डिजिट का कोड डालकर अपना पासवर्ड सेट कर सकते हैं। फिर बाकी UPI एप की तरह ही इसे आप इस्तेमाल में ला सकते हैं।

नेट बैंकिंग क्या है?

नेट बैंकिंग बैंक द्वारा अपने ग्राहकों को दी जाने वाली ऐसी सेवा है, जिसके जरिए आप अपने काम में व्यस्त रहते हुए भी अपने बैंक अकाउंट से पैसों का आदान-प्रदान कर सकते हैं। क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं। चेक के लिए अप्लाई कर सकते हैं और जरूरत पड़ने पर अपना पासबुक का विवरण भी डाउनलोड कर सकते हैं। इसके अलावा भी बहुत सारी सुविधाएं नेट बैंकिंग में होती हैं। इसका मकसद ये है कि आपको इन कामों के लिए बैंक नहीं जाना पड़े।घर बैठे ही आप नेट बैंकिंग या ऑनलाइन बैंकिंग के जरिए सभी काम आसानी से निपटा सकते हैं।

ऐसे काम करती है नेट बैंकिंग

इसके लिए एक आवेदन फॉर्म भरकर देना होता है। इसके बाद बैंक से आपको एक यूजर आईडी और पासवर्ड मिलता है। लॉगिन करके आप नया पासवर्ड बना लेते हैं। इसके अलावा अपने बैंक अकाउंट से संबंधित कई जानकारी यहां भरनी होती है। इसके बाद आप इसका इस्तेमाल आसानी से कर सकते हैं।

निष्कर्ष

UPI, BHIM और नेट बैंकिंग ये सभी सुविधाएं बेहद काम की हैं, लेकिन इनका इस्तेमाल करते समय सुरक्षा का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी है। इसके लिए जरूरी है कि आपका पासवर्ड मजबूत हो और इसे आप किसी के साथ भी शेयर नहीं करें। साथ ही सुरक्षा से जुड़ी बैंक की गाइडलाइंस को भी जरूर पढ़ लें।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.