आरबीआई के गवर्नर एक नजर में | Governors of RBI

821
List of Governors of India
PLAYING x OF y
Track Name
00:00

00:00


आज तक के governors of RBI  के बारे में यदि आपको पूरी जानकारी नहीं है, तो इस लेख को आप पूरा पढ़ें, क्योंकि इसे पढ़ने के बाद आपका इन सभी से अच्छी तरह से परिचय हो जाएगा।

RBI GK की जब बात आती है, तो भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नरों के बारे में जानकारी बहुत ही जरूरी हो जाती है, क्योंकि प्रतियोगी परीक्षाओं में इससे संबंधित सवाल अक्सर पूछ लिए जाते हैं। आपको बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक जो कि भारत का केंद्रीय बैंक भी है, वर्ष 1935 में इसकी स्थापना हुई थी और इसके सबसे पहले गवर्नर का नाम सर ओसबोर्न स्मिथ था। वर्तमान में शशिकांत दास भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर हैं। अब हम जानते हैं भारतीय रिजर्व बैंक के सभी गवर्नरों के बारे में।

  1. सर ओसबोर्न स्मिथ

सर ओसबोर्न आरकेल स्मिथ भारतीय रिजर्व बैंक के सबसे पहले गवर्नर बने थे, जिनका कार्यकाल 1 अप्रैल, 1935 से 30 जून, 1937 तक रहा था। वे भारत के ऐसे गवर्नर थे, जिन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान किसी बैंक के नोट पर अपने हस्ताक्षर नहीं किए थे।

  1. सर जेम्स ब्रेड टेलर

सर जेम्स ब्रेड टेलर भारतीय रिजर्व बैंक के दूसरे गवर्नर बने थे। वे भारतीय रिजर्व बैंक के सबसे पहले डिप्टी गवर्नर भी थे। जेम्स ब्रेड टेलर ने 1 जुलाई, 1937 को कार्यभार संभाला था और 17 फरवरी, 1943 तक अपनी मृत्यु तक वे इस पद पर बने हुए थे।

  1. सी डी देशमुख

सी डी देशमुख, जिनका पूरा नाम चिंतामणि द्वारकानाथ देशमुख था, वे भारतीय रिजर्व बैंक के तीसरे गवर्नर थे। सी डी देशमुख भारतीय रिजर्व बैंक के सबसे पहले भारतीय गवर्नर भी बने थे, जिनकी नियुक्ति ब्रिटिश राज द्वारा 1943 में की गई थी। सी डी देशमुख का भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर के तौर पर कार्यकाल 11 अगस्त, 1943 से 30 जून, 1949 तक रहा था।

  1. बेनेगल रामा राव

बेनेगल रामा राव भारतीय रिजर्व बैंक के चौथे गवर्नर थे। उनका कार्यकाल 1 जुलाई, 1949 को शुरू हुआ था और 14 जनवरी, 1957 तक उन्होंने इस पद को संभाला था। बेनेगल रामा राव 1938 से 1941 तक दक्षिण अफ्रीका में भारत के उच्चायुक्त भी रहे थे। इससे पहले 1934 से 1938 तक वे लंदन में भारत के उप उच्चायुक्त रहे थे।

  1. केजी अंबेगांवकर

केजी अंबेगांवकर भारतीय रिजर्व बैंक के पांचवें गवर्नर बने थे, जिनका कार्यकाल बहुत ही छोटा रहा था। वे 14 जनवरी, 1957 से 28 फरवरी, 1957 तक आरबीआई के गवर्नर के पद पर रहे थे। केजी अंबेगांवकर भारतीय रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर भी रहे थे और उससे पहले वित्त सचिव के रूप में भी वे सेवा दे चुके थे।

  1. एच वी आर अयंगर

एच आर आर अयंगर का पूरा नाम हुराव वरदराज अयंगर था। वे भारतीय रिजर्व बैंक के छठे गवर्नर बने थे, जिनका कार्यकाल 1 मार्च, 1957 से लेकर 28 फरवरी, 1962 तक रहा था। वे भारतीय सिविल सेवा के सदस्य भी थे और भारतीय स्टेट बैंक के अध्यक्ष के रूप में भी उन्होंने सेवा दी थी।

  1. पी सी भट्टाचार्य

पी सी भट्टाचार्य भारतीय रिजर्व बैंक के सातवें गवर्नर बने थे। आरबीआई के गवर्नर के रूप में उन्होंने 1 मार्च, 1962 से लेकर 30 जून, 1967 तक अपनी सेवा दी थी। वे भारतीय लेखा परीक्षा और लेखा सेवा के सदस्य रहे थे। आरबीआई का गवर्नर बनने से पहले वे भारतीय स्टेट बैंक के अध्यक्ष भी रह चुके थे और वित्त मंत्रालय के सचिव के तौर पर भी उन्होंने सेवा दी थी।

  1. एल के झा

एलके झा का पूरा नाम लक्ष्मीकांत झा था, जिनका जन्म बिहार के दरभंगा जिले में हुआ था। वे भारतीय रिजर्व बैंक के आठवें गवर्नर बने थे। आरबीआई का गवर्नर बनने से पहले प्रधानमंत्री के सचिव के रूप में भी एल के झा ने सेवा दी थी। इन्हीं के कार्यकाल में 2, 5, 10 और 100 रुपये के मूल्य वर्ग के भारतीय नोट 2 अक्टूबर, 1969 को महात्मा गांधी की जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में जारी किए गए थे।

  1. बी एन आदरकार

बी एन आदरकार भारतीय रिजर्व बैंक के नौवें गवर्नर बने थे, जिनका कार्यकाल केवल 42 दिनों का 4 मई, 1970 से 15 जून, 1970 तक रहा था। बी एन आदरकार एक अर्थशास्त्री थे और भारतीय रिजर्व बैंक का अंतरिम गवर्नर बनने से पहले वे इसके डिप्टी गवर्नर भी रहे थे।

  1. एस जगन्नाथन

इस जगन्नाथन भारतीय रिजर्व बैंक के दसवें गवर्नर बने थे, जिनका कार्यकाल 16 जून, 1970 से 19 मई, 1975 तक चला था। वे भारतीय सिविल सेवा के सदस्य भी रहे थे।

  1. एन सी सेन गुप्ता

एन सी सेनगुप्ता का पूरा नाम निर्मल चंद्र सेन गुप्ता था, जो कि भारतीय रिजर्व बैंक के 11वें गवर्नर बने थे। उनका कार्यकाल 19 मई, 1975 से 19 अगस्त, 1975 तक चला था। के आर पुरी के कार्यभार संभालने से पहले तक वे अंतरिम गवर्नर रहे थे।

  1. के आर पुरी

के आर पुरी भारतीय रिजर्व बैंक के 12वें गवर्नर बने थे, जिनका कार्यकाल 20 अगस्त, 1975 से 2 मई, 1977 तक चला था। आरबीआई का गवर्नर बनने से पहले वे एलआईसी के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर का पद संभाल रहे थे।

  1. एम नरसिंहम

एम नरसिंहम का पूरा नाम मैदावोलु नरसिंहम था, जो कि भारतीय रिजर्व बैंक के 13वें गवर्नर बने थे। उनका कार्यकाल 2 मई, 1977 से शुरू होकर 30, नवंबर 1977 तक चला था। बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र में अपने योगदान के लिए एम नरसिंहम भारत में बैंकिंग सुधार के पिता के रूप में जाना जाता है।

  1. डॉ आई जी पटेल

आई जी पटेल का पूरा नाम इंद्रप्रसाद गोरधनभाई पटेल था, जो कि आई जी पटेल के नाम से बड़े ही लोकप्रिय थे। उन्होंने 1 दिसंबर, 1977 से 15 सितंबर, 1982 तक आरबीआई के 14वें गवर्नर के रूप में सेवा दी थी।

  1. डॉ मनमोहन सिंह

डॉ मनमोहन सिंह, जो कि भारत के जाने-माने अर्थशास्त्री भी हैं और जो भारत के 13वें प्रधानमंत्री भी रहे थे, वे भारतीय रिजर्व बैंक के 15वें गवर्नर बने थे, जिनका कार्यकाल 16 सितंबर, 1982 से 14 जनवरी, 1985 तक रहा था।

  1. ए घोष

ए घोष का पूरा नाम अमिताव घोष था। वे भारतीय रिजर्व बैंक के 16वें गवर्नर बने थे। रिजर्व बैंक के गवर्नर के तौर पर उनका कार्यकाल सबसे छोटा रहा था। वे 15 जनवरी, 1985 से 4 फरवरी, 1985 तक ही इस पद पर रहे थे।

  1. आर एन मल्होत्रा

आर एन मल्होत्रा का पूरा नाम राम नारायण मल्होत्रा था और वे भारतीय रिजर्व बैंक के 17वें गवर्नर बने थे। आरबीआई के गवर्नर के रूप में उन्होंने 4 फरवरी, 1985 से 22 दिसंबर, 1990 तक सेवा दी थी। मल्होत्रा भारतीय प्रशासनिक सेवा के भी सदस्य रहे थे।

  1. एस वेंकटरमन

सर वेंकटरमन भारतीय रिजर्व बैंक के 18वें गवर्नर बने थे और उनका कार्यकाल 22 दिसंबर, 1990 से 21 दिसंबर, 1992 तक रहा था।

  1. सी रंगराजन

सी रंगराजन का पूरा नाम चक्रवर्ती रंगराजन था, जो कि एक भारतीय अर्थशास्त्री थे। उन्होंने 22 दिसंबर, 1992 से 21 नवंबर, 1997 तक आरबीआई के 19वें गवर्नर के रूप में सेवा दी थी।

  1. डॉ बिमल जालान

डॉ बिमल जालान ने भयानक आर्थिक संकट के वक्त आरबीआई के गवर्नर का कार्यभार संभाला था। अपने 22 नवंबर, 1997 से 6 सितंबर, 2003 तक के कार्यकाल के दौरान उन्होंने भारत को इस संकट से बचाया था।

  1. डॉ वाई वी रेड्डी

डॉ वाई वी रेड्डी का पूरा नाम डॉ यागा वेणुगोपाल रेड्डी था। उन्होंने 6 सितंबर, 2003 से 5 सितंबर, 2008 तक भारतीय रिजर्व बैंक के 21वें गवर्नर का पद संभाला था।

  1. डी सुब्बाराव

डी सुब्बाराव, जिनका पूरा नाम दुव्वुरी सुब्बाराव था, वे भारतीय रिजर्व बैंक के 22वें गवर्नर नियुक्त किए गए थे और उनका कार्यकाल 5 सितंबर, 2008 से 4 सितंबर, 2013 तक रहा था।

  1. रघुराम राजन

Governors of RBI में से एक रघुराम राजन का पूरा नाम रघुराम गोविंद राजन था और वे भारतीय रिजर्व बैंक के 23वें गवर्नर नियुक्त किए गए थे। आरबीआई के गवर्नर के रूप में रघुराम राजन का कार्यकाल 5 सितंबर, 2013 से 4 सितंबर, 2016 तक रहा था।

  1. उर्जित पटेल

उर्जित पटेल भारतीय रिजर्व बैंक के 24वें गवर्नर बने थे। उर्जित पटेल का कार्यकाल 5 सितंबर, 2016 से 10 दिसंबर, 2018 तक रहा था। उर्जित पटेल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। उर्जित पटेल इससे पहले आरबीआई के डिप्टी गवर्नर भी रह चुके थे।

  1. शशिकांत दास

RBI gk के हिसाब से यह एक महत्वपूर्ण सवाल है कि भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर का नाम क्या है, तो इसका जवाब यह है कि शशिकांत दास भारतीय रिजर्व बैंक के वर्तमान गवर्नर हैं और 21 दिसंबर, 2018 को उन्होंने आरबीआई के 25वें गवर्नर के रूप में कार्यभार संभाला था। शशिकांत दास तमिलनाडु के 1980 बैच के सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी भी रह चुके हैं और इस दौरान उन्होंने तमिलनाडु के साथ भारत सरकार के भी अलग-अलग पदों पर काम किया है।

चलते-चलते

Governors of RBI के बारे में प्रतियोगी परीक्षाओं में अक्सर सवाल पूछे जाते हैं। ऐसे में यह एक महत्वपूर्ण टॉपिक बन जाता है। हमें उम्मीद है कि यहां जो हमने आपको रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के अब तक के सभी गवर्नरों के बारे में बताया है, यह जानकारी आपके बहुत काम आएगी और अब आप इस विषय से संबंधित सभी सवालों के जवाब आसानी से दे पाएंगे। दोस्तों, यदि यह जानकारी आपको पसंद आई हो तो इसे अपने साथियों के साथ भी शेयर करना न भूलें, क्योंकि ज्ञान बांटने से ही तो बढ़ता है।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.