क्लास में बढ़िया तरीके से नोट्स कैसे बनायें

2187

स्कूल या कॉलेज के एक क्लास में कई सारे बच्चे पढ़ते है। लेकिन उन सभी की ग्रहण शक्ति समान नहीं होती। क्लास में सिखाई जाने वाली चीजों में से कितनी चीज़े लंबे समय तक याद रहेंगी यह बात कई कारणों पर निर्भर है। पढाई करने की अच्छी आदतें अपनाना ज़रूरी है। ऐसा माना जाता है कि समय के साथ हमारी याददाश्त कम होती जाती है। पिछले कुछ संशोधनों से पता चलता है कि अगर चीज़े दोहराई न जाए तो हम पहले 20 मिनट में ही 47% चीज़े भूल जाते और 67% चीज़े हम अगले दिन तक भूल जायेंगे! यह दर्शाता है कि पुनरीक्षण कितना जरुरी है।

कई लोग परीक्षा से पहले पर्याप्त बार पुनरीक्षण नहीं कर पाते। इसका एक मुख्य कारण है क्लास में नोट्स न लेना! दो चीजों पर मन को एकाग्र करना कठिन है। इसी लिए क्लास में लेक्चर को सुनना और साथ में नोट्स बनाना एक कठिन कार्य हो सकता है। लेकिन यकीन मानिए कि यह आदत आपको भविष्य में बहुत फायदा पहुंचा सकती है। नोट्स बनाते वक्त जरुरी है कि आप इन्हें सही तरीके से बनाए ताकि यह आपको बाद में पढने में दिलचस्प लगे और पुनरीक्षण में भी कम समय ले। हम यहाँ आपको कुछ ऐसी बाते बताएँगे जिससे आप बेहतर तरीके से क्लास में नोट्स ले पायेंगे और बिना बोरियत पढना आसान हो जाएगा।

क्लास में थोड़ी पूर्व तैयारी के साथ जाएँ
नोट्स लेने के लिए 3 रिंग बैंडिंग वाली नोटबुक सबसे अच्छी है। इसमें लिखने में आसानी रहती है और जरुरी पेज को आसानी से निकाल भी सकते है। अगर चाहे तो कुछ पेज को बाद में डाल भी सकते है। हाईलाइटर को साथ में लेना भूले नहीं। पिछले नोट्स को पढ़ कर जाएँ। इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ता है और आपकी सोच सकारात्मक बनती है। आपको यह भी ध्यान में रहेगा कि पुरे लेक्चर में कौनसी चीजों पर ज्यादा ध्यान देना है और किन मुद्दों को नोट्स में हाईलाइट करना है।

लेक्चर को ध्यान से सुने
प्रयत्न करे कि आप शिक्षक द्वारा बतायी गई हर चीज़ पर ध्यान दे। अगर कोई चीज़ समझ में न आये तो उसके भी नोट्स बनाये। आप बाद में जा कर शिक्षक से इसे सीख सकते है। नोट्स बनाने से आप को हर चीज़ ध्यान से सुनने की आदत बनेगी।

हर दिन नए पेज पर शुरुआत करें
किसी भी पेज पर नोट्स लेने की शुरुआत करने से पहले उस पर तारीख और विषय जरुर लिखे। दो अलग विषयों के नोट्स के बीच जगह छोड़े। जिन चीजों को शिक्षक महत्त्वपूर्ण बताते है उन्हें हाईलाइट करे। हो सके तो पेज की एक और पर ही लिखे। हर दिन नए पेज पर लिखने से बाद में पढने में आसानी रहती है।

पुरे वाक्य की जगह सिर्फ मुद्दों को लिखे
आप छोटे शब्दों या संज्ञाओं का प्रयोग कर सकते है। यह आपको पढ़ते वक्त आसानी से याद रहते है और नोट्स बनाते वक्त ज्यादा समय भी नहीं लेते। पूरे वाक्यों को लिखने की बजाय सिर्क महत्वपूर्ण मुद्दों को नोट्स में डाले। नोट्स जितने छोटे होंगे, उतनी ही पढने में आसानी रहेगी।
विवरण और उदाहरण पर ज्यादा ध्यान दे

किसी भी विषय को उदाहरण से समझना आसान होता है। इस लिए जब भी शिक्षक कोई उदहारण दे, उसे नोट्स में उतार ले। नोट्स लेते वक्त विवरण पर ज्यादा ध्यान रखना चाहिए। हालाँकि पूरा विवरण नोट्स में लिखना जरुरी नहीं है, लेकिन उसे ध्यान से जरुर सुने।

हर रोज घर जाकर अपने नोट्स को फिर से पढ़ें
आप चाहे कितने भी अच्छे नोट्स बनाए, लेकिन अगर आप उन्हें पढ़ते नहीं तो उनका कोई मतलब नहीं रह जाता। इसी लिए हर रोज घर जाकर कम से कम एक बार अपने नोट्स जरुर पढ़े। इससे आपको सीखी हुई चीज़े लंबे समय तक याद रहेगी।

तो आगे से अगर आप नोट्स नहीं बनाते तो बनाने की शुरुआत करें और अगर बनाते है तो ऊपर दिए गए मुद्दों को ध्यान में रखें। अच्छे नोट्स आपका महत्वपूर्ण समय बचायेंगे और आपको परीक्षा के समय किसी भी अतिरिक्त पुस्तक को पढना भी नहीं पड़ेगा! यही आदत आपके लिए किसी इंटरव्यू में सफल होना भी आसान कर देगी ।

Leave a Reply !!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.