DSSSB ने प्राइमरी टीचर पद के लिए निकाली वेकेंसी, जल्द करें अप्लाई

229
primary teacher recruitment

दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड (DSSSB) ने प्राइमरी टीचर पोस्ट के लिए कई वेकेंसी निकाली है। इसके लिए नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया है। ऐसे में अगर आप भी इस पद की वेकेंसी निकलने का इंतजार कर रहे थे, तो आपके लिए ये सुनहरा मौका है. जल्दी कीजिए क्योंकि फॉर्म भरने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

आवेदन शुरू होने तारीख– 2 जुलाई 2018

आवेदन करने की अंतिम तारीख– 30 जुलाई 2018

डिपार्टमेंट- एमसीडी

पद का नाम- प्राइमरी टीचर

पदों की संख्या- 4366

जनरल- 1610

ओबीसी- 1286

एससी- 714

एसटी- 756

शैक्षणिक योग्यता

  • किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से 12वीं पास या उसके समकक्ष की डिग्री होनी चाहिए.
  • एलीमेंटरी टीचर्स एजुकेशन या जूनियर बेसिक ट्रेनिंग कोर्स में दो साल का डिप्लोमा या उसके समकक्ष एलीमेंटरी एजुकेशन में बैचलर डिग्री
  • उम्मीदवार का सीटीईटी क्लियर होना अनिवार्य है
  • कैंडिडेट का हिन्दी और इंग्लिश सेकेंडरी लेबल और सीनियर सेकेंड्री लेबल में पास होना अनिवार्य है

ऑनलाइन आवेदन करने के लिए लिंक- https://dsssbonline.nic.in/

उम्र सीमा- 30 साल

जॉब लोकेशन- नई दिल्ली

सैलरी – 9300 से 34800 रुपए

चयन प्रक्रिया

  • प्राइमरी टीचर पद के लिए चयन लिखित परीक्षा के जरिए किया जाता है
  • लिखित परीक्षा दो घंटे की होती है, जिसमें 200 अंकों के लिए पूरे 200 सवाल पूछे जाते हैं
  • 100 – 100 अंकों के सवाल दो भागों में बंटे होते हैं
  • सेक्शन ‘ए’ में पूछे जाने वाले विषय
  • मानसिक क्षमता और तर्क क्षमता- 20 नंबर
  • सामान्य जागरुकता- 20 नंबर
  • हिन्दी भाषा और समझ- 20 नंबर
  • अंग्रेजी भाषा और समझ- 20 नंबर
  • संख्यात्मक योग्यता और डेटा व्याख्या- 20 नंबर
  • सेक्शन ‘बी’ में पूछे जाने वाले विषय
  • इसमें पद की भर्ती, नियम और योग्यता से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं जो पूरे 100 नंबर के होते हैं।

इस परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग भी की जाती है. यानी एक जवाब गलत होने पर 0.25 अंक काट लिए जाते हैं।

लिखित परीक्षा में प्राप्त अंकों के मैरिट लिस्ट के आधार पर ही उम्मीदवार का चयन किया जाता है।

 परीक्षा की तैयारी करने के कुछ महत्वपूर्ण टिप्स

  • तैयारी करते वक्त अपना पूरा ध्यान अपने करियर पर दें. तभी आप अपने लक्ष्य को पा सकते हैं।
  • सबसे पहले एग्जाम के पैटर्न, सिलेबस को समझें
  • पिछले साल हुए परीक्षाओं के पेपर जरूर देखें
  • तैयारी करते वक्त या एग्जाम के वक्त आपका पूरा ध्यान सवाल पर होना चाहिए. अगर हमारा पूरा ध्यान सवाल पर होता है तो ऐसे में सवाल हल करने में आसानी होती है।
  • तैयारी करते वक्त फॉर्मूले और टिप्स पर ध्यान जरूर दें, क्योंकि एग्जाम में आपके बहुत काम आएगी।
  • एग्जाम में रीजनिंग यानि तर्कशक्ति से जुड़े सवाल भी पूछे जाते हैं, इसलिए इसमें फोकस का होना बहुत जरूरी है.रीजनिंग हल करते वक्त अपना ध्यान फोकस जरूर करें।
  • वहीं करंट अफेयर्स पर भी ध्यान देते रहना चाहिए।
  • इंग्लिश के लिए अपने vocabulary को मजबूत करें।
  • एग्जाम में नेगेटिव मार्किंग भी होती है, इसलिए अगर किसी सवाल को लेकर आपके मन में संदेह हो तो उसे छोड़ दें। उसके पीछे अपना समय बर्बाद ना करें।
  • इन परीक्षाओं में समय बहुत मायने रखता है, इसलिए समय का ध्यान जरूर रखें।

Comments