SSC CGL 2018 के लिए कुछ इस तरह करें तैयारी, 4 जून है आवेदन की अंतिम तारीख

255

आज के वक्त युवाओं में नौकरी को लेकर बहुत बड़ा कन्फूजन है। क्योंकि एक तरफ जहां कॉम्पटीशिन के दौर में सरकारी नौकरी पाना बहुत मुश्किल है, तो वहीं दूसरी ओर प्राइवेट जॉब में आ जाने पर भी स्थिरता नहीं होती। लेकिन आज भी भारत में युवाओं के बीच सरकारी नौकरी पाने का कितना क्रेज है, इसका अंदाजा इस आंकड़े से ही लगाया जा सकता है कि साल 2017 में हुए SSC CGL, स्टाफ सिलेक्शन कमीशन कम्बाइंड ग्रेजुएट लेवल, की परीक्षा में 30 लाख से ज्यादा युवाओं ने अप्लाई किया था। एसएससी की पेपर इतना टफ होता है कि आधे से ज्यादा लोग टायर 1 में ही क्वालिफाई नहीं हो पाते।

SSC ने ग्रेजुएट लेवल 2018 के लिए ऑफिशियल नोटिफिकेशन 5 मई को जारी कर दिया है। जिसमें सीजीएल परीक्षा विभिन्न मंत्रालयों, डिपार्टमेंट और ऑर्गनाइजेशन के ग्रुप बी और ग्रुप सी के सीटों के लिए आयोजित किया जा रहा है। एसएससी की परीक्षा 4 चरणों में ली जाती है। टायर 1 से लेकर 4 तक। सिलेक्ट होने के लिए परीक्षार्थियों को 4 चरणों को क्लियर करना जरूरी होता है।

परीक्षा की तिथि (Date of Exam)

 Tier 1: 25 जुलाई से 20 अगस्त 2018

Tier 2:  27 नवंबर से 30 नवंबर 2018

Tier 3 और Tier 4 की परीक्षा के लिए तिथियों की घोषणा अभी नहीं की गई है।

शैक्षणिक योग्यता

एसएससी सीजीएल का फॉर्म भरने के लिए उम्मीदवार के पास संबंधित विषय में स्नातक यानी कि ग्रेजुएट की डिग्री होनी चाहिए।

उम्र सीमा

न्यूनतम उम्र- 20 साल

अधिकतम उम्र- 30 साल

  • आरक्षित वर्ग के लिए उम्र सीमा में कुछ छूट भी दी गई हैं।

ऑफिशियल वेबसाइट- ssc.nic.in

ऑनलाइन आवेदन भरने के लिए वेबसाइट- http://164.100.129.99/cgle2018/

फॉर्म जमा करने की अंतिम तारीख- 4 जून

आइए विस्तार से जानते हैं कि 4 चरणों में कैसे ली जाती है एसएससी सीजीएल की परीक्षाएं और क्या हैं सेलेब्स।

Tier 1- यह परीक्षा 200 अंकों की होती है, जिसमें हर सब्जेक्ट से लगभग 25 प्रश्न पूछे जाते हैं। गलत उत्तर देने पर 0.5 नंबर की नेगेटिव मार्किंग भी होती है। इस परीक्षा के लिए 1 घंटे का समय दिया जाता है। इस एग्जाम में जनरल इंटेलिजेंस, रीजनिंग, जनरल अवेयर्नेस, क्वॉन्टिटेटिव एप्लिट्यूड और इंग्लिश कॉम्प्रीहेंशन जैसे सब्जेक्ट से प्रश्न पूछे जाते हैं।

Tier 2- ये परीक्षा कुल 800 अंकों की होती है, जिसमें हर सेक्शन के लिए 200 अंक होते हैं। इस एग्जाम में परीक्षार्थियों को 2 घंटे का समय मिलता है। इस एग्जाम में क्वॉन्टिटेटिव एबिलिटीज, इंग्लिश एंड कॉम्प्रीहेंशन, स्टेटिस्टिक्स और जनरल स्टडीज से प्रश्न पूछे जाते हैं। इस परीक्षा में गलत उत्तर देने पर 0.5 नंबर की नेगेटिव मार्किंग और इंग्लिश सेक्शन में गलत उत्तर देने पर 0.25 की नेगेटिव मार्किंग की जाती है।

Tier 3– यह डिस्क्रिप्टिव पेपर होता है, जिसमें निबंध और लेटर लिखना होता है। ये परीक्षा कुल 100 अंकों की होती है और इसके लिए 1 घंटे का समय दिया जाता है।

Tier 4– यह स्किल टेस्ट होता है।

एसएससी सीजीएल की परीक्षा को मिनी आईएएस एग्जाम भी कहा जाता है। इस एग्जाम को क्रेक करना काफी मुश्किल होता है, इसलिए आइए जानते हैं कुछ ऐसे स्मार्ट टिप्स जिसकी मदद से आप एसएससी की परीक्षा में सफल हो पाएंगे

  • एग्जाम की तैयारी करते वक्त छोटे- छोटे नोट्स जरूर बना लें। इससे रिवीजन के टाइम आपको आसानी होगी।
  • एग्जाम में शुरुआत के 30 मिनट केवल उस विषय पर दें, जिसमें आपकी पकड़ मजबूत हो।
  • एसएससी की परीक्षा में सबसे ज्यादा महत्व वक्त का ही होता है, इसलिए इसकी तैयारी पहले ही कर लें। मॉक टेस्ट के वक्त ही ये क्लियर कर लें कि किस विषय पर कितना टाइम देना है।
  • जिन सवालों के जवाब आपको नहीं मालूम हों, उस पर अपना समय बिल्कुल भी बर्बाद ना करें।
  • एग्जाम में सबसे जरूरी बात होती है स्थिरता। हमेशा अपने दिमाग को स्थिर और शांत रखें। क्योंकि हड़बड़ी में गड़बड़ी के चांसेस ज्यादा होते हैं।

Comments