शॉर्ट सर्विस कमीशन में नौकरी

316

कोई भी नवयुवक अपनी शिक्षा पूरी करते ही किसी न किसी व्यवसाय को अपनाकर आय का अर्जन करने का प्रयास करता है। कुछ नवयुवक आय के अर्जन के साथ देश की सेवा करने के उद्देश्य के साथ सेना में भर्ती होने का प्रयास करते हैं। सामान्य रूप से सेना में भर्ती होने का अर्थ लगभग तब तक काम करना होता है, जब तक आप किसी मेडिकल स्थिति का शिकार न हों या फिर किसी घटना में आपके जीवन का क्षय न हो। अगर सब कुछ ठीक रहे तो सेवा करने की अवधि तक सेना में बने रहने का अवसर होता है। लेकिन एक विकल्प इसके विपरीत भी है जिसमें आप केवल कुछ समय के लिए ही सेना में शामिल होकर देश की सेवा कर सकते हैं

शॉर्ट सर्विस कमीशन:

भारतीय सेना में भर्ती, सेना के दो आयोगों के अंतर्गत की गई चयन प्रक्रिया के द्वारा हो सकती है। यह हैं स्थायी कमीशन और शॉर्ट सर्विस कमीशन। स्थायी कमीशन के माध्यम से चुने गए नवयुवक, रिटायर होने की आयु तक सेना में नौकरी कर सकते हैं। लेकिन जो नवयुवक कम अवधि के लिए देशसेवा के उद्देशय से सेना में भर्ती होना चाहते हैं, उनकी नियुक्ति शॉर्ट सर्विस कमीशन के द्वारा होती है। यह अवधि 10-14 वर्ष के लिए होती है और वर्तमान परिस्थितियों में न केवल युवक, बल्कि युवतियाँ भी इस कमीशन के माध्यम से भारतीय सेना में भर्ती हो सकती हैं। इस कमीशन की अवधि पूरे होने के बाद आप अगर चाहें तो स्थायी कमीशन के माध्यम से सेना में नौकरी जारी रख सकते हैं, और अगर चाहें तो रिटायर हो जाएँ। लेकिन अगर चाहें तो तीसरा विकल्प आगे चार वर्षों के लिए नौकरी और कर सकते हैं।

शॉर्ट सर्विस कमीशन में रोजगार के अवसर:

इस माध्यम से सेना में प्रवेश लेने वाले युवा (पुरुष एवं महिला )वर्ग निम्न श्रेणियों में रोजगार के अवसर ढूंढ सकते हैं :

  1. गैर तकनीकी :

कोई भी स्नातक इस श्रेणी में सेना में प्रवेश कर सकता है। शॉर्ट सर्विस कमीशन इस श्रेणी के लिए नियुक्ति की प्रक्रिया वर्ष में दो बार फरवरी और सितंबर में शुरू करता है।  इसके अंतर्गत यूपीएससी द्वारा एक लिखित परीक्षा का आयोजन किया जाता है। इसके बाद सेवा चयन बोर्ड द्वारा एक इंटरव्यू लिया जाता है। दोनों में सफल परीक्षार्थी चेन्नई स्थित आफिसर ट्रेनिंग अकादमी में अधिकारी वर्ग की ट्रेनिंग दी जाती है। यह भी वर्ष में दो बार अक्तूबर और मार्च में आयोजित होती है। ग्यारह महीने के प्रशिक्षण के बाद लेफ़िनेंट के पद के साथ सेना में कार्यकाल आरंभ हो जाता है।

  1. तकनीकी :

अगर आपने निम्न में से किसी भी विषय में स्नातक या स्नातकोत्तर परीक्षा पास करी है तो आप इस श्रेणी में आवेदन कर सकते हैं:

  • इंजीनियरिंग और संबन्धित शाखाएँ;
  • एयरोनौटिकल और संबन्धित विषय;
  • बायो मैंडिकल;
  • टेलिकम्युनिकेशन;
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और संबन्धित विषय

इस वर्ग में नियुक्ति प्राप्त करने के लिए तकनीकी रूप से दक्ष युवा और नवयुवती आवेदन कर सकते हैं। इसमें आवेदन करने के बाद सफल अभ्यार्थी 49 सप्ताह के ट्रेनिग के लिए चेन्नई प्रशिक्षण अकादमी जाते हैं।

  1. एनसीसी:

यदि आपने एनसीसी सीनियर डिवीजन पास किया है और यदि आपके पास कम से कम बी और सी ग्रेड के प्रमाणपत्र हैं तो आप अपने एनसीसी मुख्यालय के जरिये सेना में भर्ती का आवेदन कर सकते हैं।

  1. जीएजी :

आप वकालत के माध्यम से भी सेना में भर्ती हो सकते हैं। इसके लिए जूनियर एडवोकेट के रूप में भी आप सेना में भर्ती हो सकते हैं। इसके लिए आपके पास बीएलएलबी की डिग्री का होना जरूरी है।

Comments