मेडिसिन पढ़ने के बाद सरकारी नौकरी प्राप्त करने के तरीके

40

समाज में मध्यम वर्ग का हर व्यक्ति अपने बच्चों को किसी ऐसे प्रोफेशन में भेजना चाहता है जिसमें इज्जत और पैसा दोनों हो। इस रूप में डॉक्टर बनाने के लिए प्रत्येक माता-पिता अपनी संतान को प्रोत्साहित करते रहते हैं। हमेशा से माता-पिता अपने बच्चों को इंजीनियर या डॉक्टर बने देखना चाहते हैं। लेकिन अध्ययन की दृष्टि से देखा जाये तो एक इंजीनियर बनने वाले छात्र को डॉक्टर की तुलना में कम पढ़ना होता है। वहीं दूसरी ओर डॉक्टर का समाज में आदर और सम्मान तो होता ही है, सरकारी नौकरी लगने पर एक स्थायी स्त्रोत भी बन जाता है । डॉक्टर बनने के लिए एमबीबीएस की परीक्षा पास करनी होती है जिसकी अवधि 5.5 वर्ष ही होती है। इससे पहले उन्हें एमबीबीएस की परीक्षा से पहले एक प्रवेश परीक्षा देनी होती है जिसे नीट परीक्षा कहा जाता है। इस परीक्षा को एईपएमटी भी कहा जाता है। जो बच्चे एमबीबीएस या बीड़िएस करना चाहते हैं उन्हें इस परीक्षा को पास करना ही होता है।

१).एमबीबीएस पास करने के बाद छात्र सरकारी नौकरी हेतु आवेदन कैसे और कहाँ करें:

प्रवेश परीक्षा पास करके और निर्धारित अवधि की एमबीबीएस की परीक्षा पास करके कुछ डॉक्टर निजी अस्पतालों और संस्थानों में प्रैक्टिस करते हैं। वहीं कुछ डॉक्टर सरकारी नौकरी को प्राथमिकता देते हैं। वो डॉक्टर जो सरकारी संस्थानों में काम करना चाहते हैं वो अपनी पसंद के अनुसार समय-समय पर आयोजित करने वाले सरकारी अस्पतालों में आवेदन कर सकते हैं। ये अस्पताल अपने यहाँ के रिक्त पदों के लिए देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों और अपनी वेब साइट पर इस संबंध में सूचना जारी करते रहते हैं।

).पब्लिक सर्विस कमीशन

देश का प्रमुख सरकारी नौकरी देने का संस्थान पब्लिक सर्विस कमीशन है और इसके द्वारा आयोजित की जाने वाली  परीक्षा से भी सरकारी डॉक्टर आसानी से बना जा सकता है।

३).न्यूक्लियर पावर कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया

इस संस्थान द्वारा विभिन्न डॉक्टर के पदों के लिए आवेदन मँगवाए जाते हैं। एमबीबीएस करने के बाद छात्र इस संस्थान के रूप में सरकारी डॉक्टर बन सकते हैं।

४).भारतीय सेना

भारतीय सेना में डॉक्टर के रूप में काम करना लगभग हर डॉक्टर का सपना होता है। यहाँ डॉक्टर, नर्स या केयर टेकर के रूप में मेडिकल के छात्र नौकरी के साथ देश की सेवा भी कर सकते हैं।

५).द यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन या रेलवे रिक्रूरमेंट बोर्ड

यूपी.एस.सी देश की प्रमुख सरकारी नौकरी देने वाला संस्थान है। यह समय-समय पर मेडिकल जगत से जुड़े विभिन्न पदों के लिए आवेदन जो प्रवेश परीक्षा से लेकर सीधे साक्षात्कार तक के लिए हो सकते हैं,आमंत्रित करता रहता है।

६).पब्लिक सेक्टर

भारत का सार्वजनिक क्षेत्र भी एमबीबीएस छात्रों को सेवा करने का मौका देता है। इस क्षेत्र का प्रमुख संस्थान स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया विभिन्न पदों के लिए आवेदन की प्रक्रिया जारी रखता है।

७). राज्य स्वास्थ्य विभाग

प्रत्येक राज्य का स्वास्थ्य विभाग अपने विभाग में विभिन्न पदों पर काम करने के लिए मेडिकल क्षेत्र के छात्रों से आवेदन प्राप्त करता रहता है।

८). अन्य संस्थान:

देश के विभिन्न सरकारी संस्थान अपने यहाँ काम करने के लिए एमबीबीएस छात्रों को आमंत्रित करते रहते हैं। इनमें से कुछ प्रमुख नाम, यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन और एम्स  हैं।

बहुत सारे राज्यों में पी एच सी अस,सी एच सी ए, सदर अस्पताल में पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा नियुक्त सरकारी डॉक्टर की नियुक्ति होती है।

उपर्युक्त शासकीय कार्यालय एवं विभागों में एमबीबीएस करने के पश्चात संभावना होती है,बस जरूरत है कि डिग्री धारक चैतन्य हो निकलने वाले पदों पर आवेदन कर परीक्षा दें और उत्तीर्ण होकर सरकारी नौकरी करें। एमबीबीएस की डिग्री पाने के बाद अभ्यर्थियों के पास अनंत संभावना होती है ,विकल्प  होते हैं कि वे उपर्युक्त में से  किस क्षेत्र का चयन कर किस प्रकार के पद पर सरकारी नौकरी करना चाहते हैं।

Comments