कैसे बनाए टीचिंग में अपना कैरियर

36

वर्तमान समय में युवा अपने कैरियर  को लेकर बहुत ही सजग है । वह एक निश्चित शिक्षा लेकर कैरियर के क्षेत्र में खुद को सुरक्षित कर लेना चाहता है। टीचिंग के फील्ड में अपना कैरियर बनाना एक बेहतर विकल्प है । टीचिंग में जॉब के लिए निम्नलिखित पाठयक्रम और परीक्षाएं अनिवार्य होती है । बारहवीं, बी.ए और एम के बाद आप अपने पसंदीदा विषय लेकर टीचिंग का कोर्स कर सकते हो ।

1 . डीपीएड (डिप्लोमा इन फिजिकल एजुकेशन) – 12वी कक्षा में 50% अंको के आधार इस कोर्स में दाखिला मिलता है । यह कोर्स 2 वर्ष का होता है । इसमें छात्रों को शारीरिक संरचना, समस्या एवं निवारण आदि के बारे में पढाया जाता है । साथ ही छात्रों को हर प्रकार के गेम और योग कराया जाता है | पाठ्यक्रम समाप्त होने पर छात्रों को स्कूलों में PTI या Game टीचर के रूप में नियुक्ति मिलती है ।

2 . एनटीटी (नर्सरी टीचर ट्रेनिंग) – इस कोर्स में 12वी के अंको के आधार पर और प्रवेश परीक्षा के आधार पर दाखिला मिलता है । कोर्स के समाप्त होने पर  नगर निगम अथवा नर्सरी स्कूलों में टीचिंग हेतू प्रवेश मिलता है ।

3 . जेबीटी (जूनियर टीचर ट्रेनिंग) – इस कोर्स में भी 12वी के अंको के आधार पर और प्रवेश परीक्षा के आधार पर ही दाखिला मिलता है । इस कोर्स को करने के बाद छात्रों को प्राइमरी स्कूल में टीचिंग के लिए नियुक्ति मिलती हैं।

4. बीएड (बैचुलर ऑफ एजुकेशन) – यह कोर्स बी.ए के बाद दो वर्ष के लिए होता है । इस कोर्स में कोई दो मुख्य विषय लिये जाते है। इस कोर्स की समाप्ति के बाद सेकंडरी स्कूल में टीचिंग के लिए नियुक्ति मिलती हैं।

टीचर बनने हेतु प्रमुख परीक्षाएं –

1 . टीजीटी और पीजीटी – टीजीटी के लिए बीए और बीएड होना जरूरी है तो पीजीटी के लिए एम.ए और बीएड होना अनिवार्य है। टीजीटी वाले छठी से दसवीं और पीजीटी वाले दसवीं से बारहवीं तक को पढ़ाने लिए उपयुक्त माने जाते है ।

2. टीईटी (टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट)- यह परीक्षा उनके लिए है जिनका बीएड का रिजल्ट नहीं आया होता है। इस परीक्षा को पास करने के बाद राज्य सरकार एक सर्टिफिकेट देती है। इस सर्टिफिकेट की अवधि पांच-सात साल की होती है। इस दौरान उम्‍मीदवार शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन कर सकता है।

3. सीटीईटी (सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट)- इस परीक्षा में बीए और बीएड होना अनिवार्य है । इस परीक्षा को पास करने के लिए 60 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य है। इस परीक्षा को सफलतापूर्वक पास करने पर उम्‍मीदवार को एक सर्टिफिकेट दिया जाता है जो सात साल तक मान्‍य होता है।

4. यूजीसी नेट- इस परीक्षा को सफलतापूर्वक पास करने पर आपको किसी भी कॉलेज में लेक्चरर की नौकरी मिल सकती है। इस परीक्षा में एम. ए होना अनिवार्य है।

 

Comments